Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सितंबर के 14 वे दिन 11 पॉजिटिव रिपोर्ट.. 17 योद्धाओ ने जीती कोरोना की जंग.. इधर बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर.. कैट ने व्यापारीयों से स्वेच्छा से सप्ताह में 3 दिन दुकानें बंद रखने का किया आव्हान..

11 पॉजिटिव रिपोर्ट, 17 ने जीती कोरोना की जंग..
दमोह। सितंबर माह का 14 वा दिन कोरोनावायरस के संक्रमण रिपोर्ट के मामले में राहत भरा रहा है। सोमवार को सितंबर माह की अब तक की सबसे कम 11 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसकी तुलना में आज कोरोना की जंग जीतने वालों की संख्या अधिक रही है। आज जिले के विभिन्न कोविड केयर सेंटरो से 17 योद्धाओं ने कोरोना संक्रमण को मात देकर घर वापसी की है जिससे कोरोना पर विजय पाने वालों की संख्या 691 हो गई है। हालांकि अभी 318 लोगों की सैंपल रिपोर्ट आना बाकी है।
 दमोह जिले में आज मिले 11 नए मरीजों में एक चिकित्सक, एक सीनियर सिटीजन व एक मीडियाकर्मी शामिल बताए जा रहे है। वहीं इन 11 केसों को मिलाकर जिले में अभी तक के टोटल कोविड 19 केसों की संख्या 1117 हो गई है। जबकि ठीक होकर घर वापसी करने वाले 691 हो चुके है। हालांकि कोरोना की जंग में जीवन की आहुति देने वालों की संख्या तीन दर्जन के करीब पहुच गई है। लेकिन प्रशासन के हेल्थ बुलेटिन में यह संख्या पिछले अनेक दिनों से 20 पर अटकी हुई है। 
प्रशासन द्वारा जारी आज की कोराना अपडेट
दमोह जिले में 14 सितम्बर 2020 को कोरोना संक्रमण के 11 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, इनमे मेल 07 तथा फीमेल 04 मरीज हैं, फीमेल मरीज 28, 38, 43 और 60 वर्ष। मेल 23, 38, 50, 61, 61, 62 और 68 वर्ष के मरीज शामिल हैं। इनमें विनती हटा से 01, तीनगुल्ली दमोह से 01, रनेह से 01, खजरी मुहल्ला दमोह से 01, हजारी वार्ड हटा से 01, सजंय वार्ड हटा से 01, नियर सेंट्रल स्कूल से 01, कमला नेहरू वार्ड हटा से 01, हटा से 01, कॉलोनी दमेाह से 01, धगट चैराहा दमोह से 01  मरीज है। इधर आज 17 कोरोना योद्धा हुये डिस्चार्ज है। जिनमें डीसीएससी वार्ड दमोह से 07, पॉलीटेक्निक कोविड केयर सेंटर से 08 एवं हटा कोविड केयर सेंटर से 02 कोरोना योद्धा स्वस्थ्य होकर अपने घर को रवाना हुये। इस प्रकार आज 17 कोरोना योद्धाओं को डिस्चार्ज किया गये।
 मंगलवार सहित तीन दुकानें बंद रखने का आव्हान
दमोह कैट द्वारा रविवार को हुई ऑनलाइन बैठक के अनुसार कोविड के कारण नगर की बिगड़ती स्थिति पर चिंता की गई, सभी तरह के सुझाव आए,लेकिन सभी लोग बंद के मामले में एकमत थे। इसको देखते हुए फैसला लिया गया कि,जिला प्रशासन से बात की जाए। आज प्रशासन से बात होने के बाद अंतिम निर्णय लिया गया कि, कोरोना की विकट स्थिति देखते हुए ’प्रति सप्ताह 3 दिन रवि, सोम, मंगल अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान हम सब बंद रखेंगे। चूंकि, रविवार साप्ताहिक अवकाश है ही, अतः हम मंगलवार भी बंद रखेंगे। ताकि कोरोनावायरस को रोकने में कुछ हद तक मदद मिल सके। 
दमोह कैट प्रभारी माणिकचंद सचदेवा का कहना था कि कोरोना को रोकने में अकेला एक व्यापारी सब कुछ तो नहीं कर सकता,पर बहुत कुछ कर सकता है जैसे,शारीरिक दूरी मुंह पर मास्क, सैनिटाइजर का प्रयोग आदि सरकारी सलाह का तो पालन कर सकते है और अपने ग्राहकों से कह सकते है। कैट पदाधिकारियों ने स्पष्ट किया कि स्वैच्छिक अवकाश यानी मन से,आत्मा से किया गया स्वेच्छिक बंद है। यदि आपकी आत्मा की आवाज ना हो तो बात ही अलग है, क्योंकि ये खुद को नहीं बल्कि अपने परिवार और समाज को धोखा देना है। इस सप्ताह के 3 दिन के होने वाले बंद में कल 15 सितंबर,मंगलवार हम सब व्यापारियों की ओर से बंद रहेगा। आने वाले सप्ताह में रवि सोम मंगल बंद रहेगा। यह कोई आदेश नहीं है,हम सब व्यापारियों की ओर से नगर को बचाने का एक प्रयास है।

Post a comment

0 Comments