Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

किस्मत चमकाने का झांसा देकर अंगूठी के नग बेचने वाले.. रात में चोरी कर खुद की किस्मत चमकाते थे.. पन्ना पुलिस ने दमोह के शातिर बदमाश नट सहित तीन चोरों से बरामद किए.. 12 चोरियों के आठ लाख से अधिक के जेबरात..

चोरों से 08 लाख 34  हजार रूपये का मशरूका जप्त
पन्ना। बीते कुछ समय में पन्ना शहर में लगातार चोरियाँ हो रही थी जिससे आम जनता में भय का महौल बन गया था। शहर में अज्ञात चोरो द्वारा लगातार रात में सूने घरो के ताला तोडकर जेवर एवं नगदी रूपये चोरी किये जा रहे थे। अलग–अलग फरियादियो की रिपोर्ट पर थाना कोतवाली पन्ना में अज्ञात आरोपियो के विरूद्ध  पिछले एक साल में दर्जन भर अपराध दर्ज किए जा चुके थे लेकिन आरोपीयो का सुराग नही लगने से वह पुलिस गिरफ्त से दूर थे। 
लेकिन पुलिस के लंबे हाथों से आखिरकार अपराधी बच नहीं सके और पकड़े गए। इसके बाद जो खुलासा हुआ वह चौंकाने वाला था। क्योंकि आरोपी दिन के उजाले में  गली मोहल्लों में घूम कर अंगूठी के नग बेचने का काम करते थे। लोगों को राहू मंगल ग्रह का असर दूर करने हकीक पत्थर के नग बताते थे। इनके पहनने से शनि की साढ़ेसाती भी दूर हो जाने का झांसा देते थे और रात में वह लोगों के घरों में घुसकर माल साफ करके रफूचक्कर हो जाते थे। लोगों  को किस्मत चमकाने का झांसा देकर नग बेचने वाले खुद की किस्मत कैसे चमकाते इस का जब खुलासा हुआ तो लोग हैरत में पड़ गए।
शहर में बढती चोरी की वारदातो को देखते हुये चोरियो के खुलासा एवं आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु एसपी पन्ना श्री मयंक अवस्थी के निर्देशन में एएसपी पन्ना बीके एस परिहार एवं एसडीओपी आरएस रावत के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक अरूण सोनी एवं थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर निरीक्षक धर्मेन्द्र कुमार सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीमो का गठन किया गया था। साथ ही सायबर टीम को चोरियो के खुलासा एवं आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु सक्रिय किया गया था। पुलिस टीम एवं सायबर सेल टीम द्वारा कई संदेही व्यक्तियो से पूँछताछ एवं शहर मे लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरो के फुटेज खंगाले गये। 
इधर 15 सितंबर 2020 को मुखबिर से पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि एक व्यक्ति जो अपना नाम सहीदुल बताता है रानीगंज मोहल्ला पन्ना में अपने बहनोई आबिद नट के यहाँ रहता है और नग (अँगूठी का पत्थर) बेचने का काम करता है वह रात में अपने बहनोई एवं अन्य साथियो के साथ कई बार संदिग्ध अवस्था में देखा गया है। जिस पर आबिद के घर में संदेही शहीदुल एवं आबिद से पूँछताछ की गई जिनके द्वारा अपने एक अन्य साथी छोटे खाँ उर्फ रशीद अहमद निवासी बीडी कालोनी पन्ना के साथ मिलकर शहर में अलग अलग जगहो पर हुई चोरी की कुल 12 वारदातो को कबूल किया गया। पुलिस द्वारा इन दोनो आरोपियो के अलावा एक अन्य आरोपी छोटे खाँ उर्फ रशीद अहमद को उसके घर बीडी कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया एवं आरोपियो से चोरी गये मशरूका को जप्त किया गया । आरोपियो से पूँछताछ पर अन्य मामलो के खुलासा होने की संभावना है । 
गिरफ्तार आरोपी शहीदुल शाह (नट) पिता रज्जाक शाह  निवासी गढी मोहल्ला दमोह का निवासी हैं। आबिद अली (नट) पिता अल्ताब नट निवासी मठ्या तालाब के पास रानीगंज मोहल्ला पन्ना एवं छोटे खाँ उर्फ रशीद मोहम्मद पिता सोनू मोहम्मद निवासी बीडी कॉलोनी पुराना पन्ना का निवासी हैं। इनके कब्जे से सोने चाँदी के आभूषण जिसमें सोना लगभग 110 ग्राम एवं चाँदी करीब 02 किलो 100 ग्राम जब्त किया है। जिसकी कीमती लगभग 08 लाख 34 हजार रूपये बताई जा रही है। इन अपराधियों का पुराना रिकॉर्ड खंगाले जाने के साथ अन्य वारदातों को लेकर पूछताछ की जा रही है। 
आरोपियों की गिरफ्तारी मैं थाना प्रभारी कोतवाली पन्ना निरीक्षक अरूण सोनी, थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर निरीक्षक धर्मेन्द्र कुमार सिंह, उनि एम.एल. यादव, उनि जे0एम0 सिंह, उनि निरंकार सिंह, उनि राहुल यादव, सउनि एस.डी. सिंह, प्र0आर0 रामकृष्ण पाण्डेय, शिवेन्द्र सिंह, अशोक शर्मा, प्रेमलाल पाण्डेय, सायबर सेल पन्ना से नीरज रैकवार, आशीष अवस्थी, धर्मेन्द्र सिंह राजावत एवं पुलिस टीम से आर0राजेश सिंह , लक्ष्मी यादव, रामपाल बागरी, बीरेन्द्र कुमार, दीपप्रकाश सोनकिया, राजीव मिश्रा, बृहम दत्त शुक्ला, सतेन्द्र बागरी, प्रदीप पाण्डेय, महेन्द्र चढार , शिशुपाल, विनय, रविकरन राजपूत, बृजेन्द्र रैकवार,वीरन , अरूण अहिरवार, रामभिखारी, बुद्ध सिंह, तेजभान, विमलेश, धरम सिंह, अरुण तिवारी चालक मुन्ना कोल, रवि खरे  का महत्वपूर्ण योगदान रहा । पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा पूर्व में उक्त अपराधो में उदघोषित ईनाम से टीम को पुरुस्कृत करने की घोषणा की गई है ।

Post a comment

0 Comments