Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

श्रद्धेय अटल बिहारी बाजपेई की पुण्यतिथि पर.. मीडिया परिवार, एमआर यूनियन, लघु व्यापारी संघ ने पौधरोपण तथा माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए.. इधर अटल प्रशंसक ने अटलजी के निधन पर.. जनतंत्र टीवी में Live प्रसारित इंटरव्यू की पुरानी यादों को साझा किया..

पौधरोपण, माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित 
दमोह। भारत रत्न पंडित अटल बिहारी वाजपेई जी की द्वितीय पुण्यतिथि के अवसर पर देश के अन्य नगरों की तरह दमोह जिला मुख्यालय पर भी उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए पौधरोपण करके याद किया गया। जिला अस्पताल परिसर स्थित पार्क में आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में मीडिया परिवार, एमआर यूनियन एवं लघु व्यापारी संघ के संयुक्त तत्वाधान में अटल जी के चित्र पर बारी बारी से माल्यार्पण करके पुष्पांजलि अर्पित की गई। तत्पश्चात अस्पताल पार्क में साफ सफाई करते हुए संयुक्त रुप से आम के पौधे का रोपण करके उसके उसकी सुरक्षा एवं संरक्षण का संकल्प लेते हुए अगले वर्ष इसी पौधे की छांव तले अटल जी का पुण्य स्मरण दिवस मनाने का निश्चय लिया गया। 
इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र अटल ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी की यादों से जुड़े संस्मरण साझा करते हुए कहा कि उनके जैसा कवि, पत्रकार और राजनेता ना पहले कभी हुआ है और ना आगे होगा। पत्रकार विजय श्रीवास्तव एवं संदीप पाठक, एमआर यूनियन जिला उपाध्यक्ष ऋषि तिवारी एवं लघु व्यापारी संघ के अध्यक्ष तनुज पाराशर ने भी अपनी विनयांजलि के दौरान अटल जी के कार्यो को याद करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किए। पुष्पांजलि अर्पित करने वालों में अटल राजेंद्र जैन, धर्मेश पांडे, ऋषि तिवारी, तनुज पाराशर, विजय श्रीवास्तव, आशीष राजोरिया, विनय असाटी, संदीप पाठक, संदीप बंटी शर्मा, शुभम अवस्थी, शांतनु भारत, अजीत सिंह राजपूत, अभिषेक जैन, मनीष साहू, राजा ठाकुर, अभिजीत जैन, अभिषेक सेन, नारायण चैरसिया सहित अनेक अटल प्रशंसकों की मौजूदगी रही।
अटलजी के निधन पर जनतंत्र टीवी पर LIVE..
अटलजी के निधन पर नोएडा में जनतंत्र टीवी स्टूडियों में 18 अगस्त 2018 को अटल प्रशसंक पत्रकार राजेंद्र अटल का लाइव इंटरव्यू प्रसारित किया गया था। जिसमें पत्रकार अटल राजेंद्र जैन ने श्रद्धेय अटलजी से जुड़े संस्मरणों के साथ अनके प्रशसंक बनने की यादों को भी साझा किया था। इस वीडियों में आपके बीच के अटल प्रशंसक ने जो यादे साझा की समय निकालकर उसे सुनना नहीं भूले.. 

Post a comment

0 Comments