Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

प्रिंसिपल सहित दो लोक सेवक भी हुए संक्रमित.. एक्सीलेंस स्कूल आगामी आदेश तक के लिए बंद.. बरसते पानी में जारी रहा मेडिकल टीम का घर-घर सर्वे अभियान.. इधर कंटेनमेंट क्षेत्र से सैनिटाइजर करा कर लौट रहे पंचायत सचिव को बाइक ने टक्कर मारी.. पैर फैक्चर होने से जबलपुर रैफर..

प्रिंसिपल पाजेटिव, एक्सीलेंस स्कूल रहेगा बंद..
दमोह। जिले के प्रमुख सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में चुपचाप एडमिशन प्रवेश और फीस का दौर जारी है वही स्कूल कब चालू होंगे इस बात का कोई ठिकाना नहीं है। इधर स्कूलों से आने वाले फोन तथा फीस की फरमाइश से अभिभावक सबसे अधिक परेशान हैं। क्योंकि लॉक डाउन और संक्रमण काल में मध्यमवर्गीय परिवारों की आर्थिक हालत खस्ता हो चुकी है। इसके बावजूद बच्चों को पढ़ाना सभी की प्राथमिकता बनी हुई है।
 दमोह में कोरोनावायरस संक्रमण के असर से अब गुरुजन भी अछूते नहीं बचे है। एक्सीलेंस स्कूल के प्रिंसिपल सहित दो लोक सेवको की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने  9 अगस्त को  रविवार होने के बावजूद  एक आदेश जारी करते हुए आगामी आदेश तक के लिए स्कूल को पूरी तरह से बंद करा दिया है। अन्य समस्त स्टाफ जिसमें कार्यालय स्टॉप एवं शैक्षणिक स्टाफ भी शामिल है को होम क्वॉरेंटाइन में रहते हुए शासन के निर्देशों का पालन करने कहा गया है।
इस बात की जानकारी स्वयं प्रिंसिपल महोदय ने भी ट्वीट करके दी है। इसके साथ यह भी बताया गया है कि इस बारे में आधिकारिक आदेश 11 अगस्त को जारी कर दिए जाएंगे। उपरोक्त जानकारी सामने आने के बाद सोमवार से आगामी आदेश तक के लिए एक्सीलेंस स्कूल पूरी तरह से बंद रहेगा वहीं स्टाफ तथा टीच होम क्वॉरेंटाइन में रहेंगे।
मेडिकल टीम बरसते पानी में घर-घर जांच में जुटी..
दमोह  जिले में कोरोना के नए नए मरीज मिलने के साथ उनके संपर्क में आए पड़ोसियों, परिजनों को संक्रमित होने से रोकना सबसे बड़ी चुनौती बना हुआ है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग का अमला बरसते पानी में घर घर जाकर जांच मुहिम में जुटा हुआ है। रविवार अवकाश के दिन बरसते पानी में शहर के राजीव गांधी कॉलोनी सिविल वार्ड नंबर 5 में ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला। जब तेज बारिश में डॉ राकेश राय के नेतृत्व में छाता लगा कर घर घर जाकर टीम के सदस्यों ने सर्वे किया।
इस दौरान सभी को मास्क लगाने एवं एक दूसरे से दूरी बनाये रखने, सर्दी जुकाम होने पर तुरंत जांच कराने एवं घर से बाहर नही निकलने की सलाह दी गई। लोगो से बार-बार सैनिटाइजर का उपयोग करने एवं किसी भी तरह की बीमारी होने पर फीवर क्लीनिक में जाकर अपना इलाज कराने को भी कहा गया। बरसते पानी में कोरोनावायरस के प्रति जागरूकता लाने में जुटी मेडिकल टीम के समर्पण को देखकर लोग डॉ राकेश राय सहित टीम के सदस्य आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को साधुवाद देने से नहीं चूके।
कंटेनमेंट क्षेत्र से लौट रहे पंचायत सचिव जबलपुर रेफर
जबेरा में कोरोना संक्रमित व्यक्ति के वार्ड को सैनिटाइजर्स करा कर एवं बफर जोन घोषित कर बाइक से वापस लौट रहे पंचायत सचिव कलु यादव को मुडेरी वायपास के पास  एक बाइक सवार ने टक्कर मार दी। जिससे सचिव के घुटने एवं पैर में गंभीर चोट आने पर स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। झा जानकारी लगने पर तहसीलदार जनपद सीईओ तथा न अधिकारी पहुंचे और उन्होंने घटना की जानकारी ली। सचिव कलू यादव के पैर में फ्रैक्चर और गंभीर चोट आने की वजह से जबलपुर रेफर कर दिया गया है जहां उनका उपचार जारी है।

Post a comment

0 Comments