Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

अगस्त के दसवें दिन शहर से 20 जिले से 27 नए पॉजिटिव केस सामने आए.. टोटल केस 367, अभी 263 रिपोर्ट अप्राप्त, 8 मरीजों के डिस्चार्ज होने से स्वस्थ होने वालों की संख्या 192.. मिशन अस्पताल में भी होगा कोरोना का ईलाज.. अनुमानित खर्च 8 हजार रूपए प्रतिदिन..

शहर से 20 जिले से 27 पॉजिटिव केस सामने आए
दमोह। जिले में कोरोनावायरस का संक्रमण इन दिनों पूरे शबाब पर है अगस्त माह की दसवीं तारीख को 27 नए के सामने आए हैं जिनमें 20 केस दमोह शहर के विभिन्न भागों से संबंधित हैं वही साथ के ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित हैं इन 27 केसों को मिलाकर जिले में कोविड-19 के टोटल केसों की संख्या 367 तक पहुंच गई है इधर आज 8 मरीजों को डिस्चार्ज किए जाने के बाद स्वास्थ्य हुए मरीजों की संख्या 192 हो गई है। अभी 263 रिपोर्ट अप्राप्त है।
अगस्त माह के दसवें दिन सोमवार को आई कोविड-19 जांच रिपोर्ट मैं 27 मरीजों के सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें सबसे अधिक 20 मरीज दमोह नगर के विभिन्न वार्डों से सामने आए हैं। असाटी वार्ड एक पुराना थाना क्षेत्र से सबसे अधिक 8 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इसके नजदीक महावीर वार्ड में 5 मरीज संक्रमित मिले हैं। सिविल वार्ड 4 से एक बार फिर तीन नए मरीजों की रिपोर्ट पाजेटिव आई है। बजरिया वार्ड 1, गढ़ी मोहल्ला, मानस पाठ तथा पथरिया फाटक  क्षेत्र में भी एक एक पॉजिटिव रिपोर्ट वाले मरीज मिले हैं। इधर पटेरा क्षेत्र में चार, कुलुआ मोसीपुरा जबेरा से दो तथा बांसाकला पथरिया से एक मरीज की रिपोर्ट पाजेटिव आई है। जिले में आज 27 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, इसमें मेल 16 तथा फीमेल 11 मरीज हैं। महावीर वार्ड तथा सिविल वार्ड 4 के मरीज पुराने मरीजों की कांट्रैक्ट हिस्ट्री वाले बताए जा रहे हैं। जबकि असाटी वार्ड एक पुराना थाने के समीप नए मरीज मिलने के बाद इन कांट्रैक्ट हिस्ट्री लोगों को क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है।
जिला अस्पताल से 6 मरीज स्वस्थ्य होकर घर रवाना
दमोह। दमोह अस्पताल से आज फिर खुशियों की खबर हैं, आज 06 मरीज स्वस्थ्य होकर घरों को रवाना हुए। इस मौके पर पूर्णस्वस्थ हुई एक कोरोना महिला कोरोना योद्धा ने कहा हम लोगों को नया जीवन देने के लिए सभी डॉक्टर्स एवं उनकी पूरी टीम का धन्यवाद, साथ ही इस विषम परिस्थिति में कोरोना से लड़ने के लिए बहुत ज्यादा सपोर्ट किया गया, डॉक्टर साहब और उनके पूरे स्टाफ ने एक परिवार जैसा माहौल दिया, हमारा ख्याल रखा, इसलिए हम बहुत जल्दी रिकवर होकर स्वस्थ हो गए, हम कामना करते हैं डॉक्टर साहब उनका पूरा स्टाफ खूब तरक्की करें, सभी आमजन को बहुत सावधानी बरतनी चाहिए, मास्क लगाये, सोशल डिस्टेंस का पालन जरूर करें और जब भी घर से बाहर जाय या आए तो सैनिटाइजर का उपयोग जरूर करें, अपने परिवार समाज की सुरक्षा जरूर करें। इसी प्रकार एक अन्य महिला कोरोना योद्धा ने कहा पहले मुझे खांसी आ रही थी, साथ ही बुखार आया, यहां आने पर भर्ती किया गया, यहां पर बहुत बढ़िया सुविधाएं हैं, हम लोगों को कोई परेशानी नहीं हुई, प्राइवेट अस्पताल से भी बेहतर सुविधाएं यहां दी गई।
आरएमओ डॉ दिवाकर पटेल ने कहा आज डीसीएससी वार्ड दमोह से 6 कोरोना योद्धा डिस्चार्ज किए गए, कुछ मरीजों में गंभीर स्थिति थी, सांस लेने में बहुत तकलीफ हो रही थी, लंबे समय तक ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया, उनका उपचार किया गया, उनकी स्थिति में लगातार सुधार आया और वह आज पूर्ण स्वस्थ हो गए। उन्होंने कहा विपरीत परिस्थिति में होने के बावजूद भी मरीज ठीक हो कर घर जा रहे हैं, जिससे हमारे पूरे स्टाफ का मनोबल बढ़ता है और आने वाले समय में यदि इसी प्रकार की मरीज बढ़ते हैं, तो हम इसी अनुभव के साथ आगे मरीजों का उपचार करने में सक्षम रहेंगे। उन्होंने कहा आगामी कुछ दिनों में जिला चिकित्सालय में 14 बेड का आईसीयू वार्ड निर्मित किया जा रहा है, जिसमें हमारे गंभीर मरीजों को रख कर उपचार किया जाएगा। डॉ पटेल ने कहा यदि कोई लक्षण आते हैं, तो जिला चिकित्सालय में आए, तुरंत जांच स्क्रीनिंग करवाएं, आवश्यक होगा तो आपका कोरोना का टेस्ट लिया जाएगा, आवश्यक नहीं होगा तो आपको दवाई देकर घर भेज दिया जाएगा, भर्ती होने के भय के कारण से ना आना भी आपको नुकसानदायक है, बीमारी एकदम से बढ़ती है, इसलिए लक्षण आने पर जिला चिकित्सालय या आसपास के शासकीय चिकित्सालय में जरूर जाएं। इस अवसर पर डॉक्टर्स और स्टॉफ नें तालीया बजाकर फूल मालाओं से विदा लेते मरीजों का स्वागत कर विदा किया।
बटियागढ़ से दो कोरोनॉ योद्धाओं ने जीती जंग
दमोह। आज फिर बटियागढ़ कोबिड केयर सेंटर से हर्षित करने बाले खबर दो कोरोनॉ योद्धाओं ने जीती जंग, डॉक्टर स्टाफ ने बधाई देकर फूल माला पहना कर घर को किया रवाना। मेडिकल स्टाफ ने ताली बजाकर स्वागतव किया बी. एम. ओ. डॉ. आर. आर. बागरी, डॉ सचिन तिबारी, मिथलेश अहिरवाल, बेसाली काम्बले ने फूल माला पहनाकर घर के लिए रवाना किया। डॉ बागरी ने डिसचार्ज हुए मरीजों की उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुए, घर पर रहने सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए अपना एवं अपने परिवार का ख्याल रखने की बात कही।
रघुराज अस्पताल में फीवर क्लीनिक की शुरुआत कल मंगलवार से हो रही है इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ संगीता त्रिवेदी ने बताया कि यहां पर भी फीवर क्लीनिक प्रातः 9:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक संचालित होगा उन्होंने आम जनों से आग्रह किया है कि वह यहां आकर जांच करवा सकते हैं।
मिशन अस्पताल में भी होगा कोरोना का ईलाज..
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संगीता त्रिवेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि शहर के मिशन अस्पताल में कोरोना ईलाज के लिए तैयारियां कर ली गई हैं, जो व्यक्ति वहां ईलाज करवाना चाहते हैं, उन्हें वहां रिफर कर दिया जायेगा। यह भी बताया कि सामान्य तौर पर वहां प्रतिदिन का ईलाज अनुमानित 8 हजार रूपये की जानकारी दी गई है।

Post a comment

0 Comments