Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जबलपुर में बाइक सवार बदमाशों को शिक्षिका से मोबाइल छीनना महंगा पड़ा.. गोहलपुर थाना पुलिस ने मोबाईल लुटेरो के साथ.. चोरी का मोबाइल खरीदने वालो को भी पकड़ा.. वारदात में प्रयुक्त मोटर साइकिल एवं चाकू सहित चार गिरफ्तार..

 मोबाईल छीनने वाले गिरोह के चार सदस्य पकड़े गए
 जबलपुर। गोहलपुर थाना पुलिस ने राह चलती महिलाओं तथा युवतियो से चाकू की नोक पर मोबाइल छीन कर फरार हो जाने वाले बाइक सवार गिरोह के चार सदस्यों को पकड़ने में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है पुलिस ने आरोपियों के पास से लूटा गया एक मोबाइल तथा वारदात में प्रयुक्त मोटरसाइकिल एवं चाकू को भी जप्त करने में सफलता हासिल की है। पकड़े गए आरोपियो के नाम अजहर पिता इस्तियाक उम्र 23 वर्ष सरदार रेसीडेंसी गोहलपुर,शहबाज अंसारी पिता मेहबूब अंसारी उम्र 26 वर्ष निवासी बेनी सिंह की तलैया, मोहम्मद सुल्तान पिता अब्दुल अंसारी उम्र 24 वर्ष निवासी चार खंबा एवं एवं मोहम्मद अख्तर अंसारी पिता मोहम्मद हसन उम्र 24 वर्ष निवासी गाजी मिया मस्जिद गोहलपुर जबलपुर बताए गए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार 5 जून की रात  11:45 बजे थाना गोहलपुर में श्रीमती सरला जैन उम्र 55 वर्ष निवासी वीरछाया अम्बेडकर काॅलोनी शांतिनगर ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि वह शासकीय विद्यालय तमरहाई में शिक्षिका है। आज शाम लगभग 7-45 बजे वह अपनी बेटी शैली जैन के साथ काम से शांतिनगर गई थी। वापस आते समय शांतिनगर गली नम्बर 15 में गार्डन के पास से गुजर रही थी उसी समय पीछे से काले रंग की मोटर सायकिल में सवार 02 अज्ञात लड़के आये और उसके बाजू से मोटर सायकल निकाली। पीछे बैठे लड़के ने उसके वाये हाथ से एमआई ए1 मोबाइल छीन लिया जिसे उसने एवं उसकी बेटी ने पकड़ने की कोशिश की तो मोबाइल छीनने वाले लड़के ने चाकू दिखाया जिससे दोनों डर गये, और उन्हें पकड़ नहीं सके। दोनों मोबाइल छीनकर मोटर सायकल से भाग गये। मोबाइल कीमती 15 हजार रूपये का है, दोनों लड़कों की उम्र लगभग 25-30 वर्ष के बीच होगी। रिपोर्ट पर धारा 392 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा  घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपियों की पतासाजी कर अविलम्ब गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर  अमित कुमार एवं नगर पुलिस अधीक्षक गोहलपुर अखिलेश गौर द्वारा थाना प्रभारी गोहलपुर आर.के गौतम के नेतृत्व में टीम गठित कर पतासाजी हेतु लगाया गया।
गठित टीम द्वारा घटना स्थल के आसपास पतासाजी की गयी, मुखबिरों को लगाया गया। दौरान पतासाजी के विश्वसनीय मुखबिर से जानकारी लगी कि मोटर सायकिल क्र. एमपी 20 एनजे 8340 में 24-25 साल के 2 लडके घटना के वक्त शांति नगर में घूमते हुये देखे गये है। मोटर सायकिल के रजिस्ट्रेशन नम्बर के आधार पर पतासाजी की गयी जिस पर उक्त मोटर सायकिल इस्तियाक अंसारी निवासी गोहलपुर के नाम पर रजिस्ट्रर्ड होना पायी गयी।इस्तियाक अंसारी के घर पर दबिश दी गयी। पतासाजी पर ज्ञात हुआ कि उक्त मोटर सायकिल को इस्तियाक अंसारी का बेटा अजहर चलाता है। अजहर को अभिरक्षा में लेते हुये सघन पूछताछ की गयी तो अजहर ने अपने दोस्त शहबाज अंसारी के साथ मिलकर मोबाईल छीनना स्वीकार किया एवं छीने हुये मोबाईल को अपने दोस्त सुल्तान के माध्यम से 1800 रूपये में मोह0 अख्तर को बेचना बताया, । शहबाज अंसारी, मोह. सुल्तान एवं मोह. अख्तर को सरगर्मी से तलाश कर अभिरक्षा मे लेते हुये सघन पूछताछ करते हुये छीना हुआ मोबाईल एमआई ए1 कम्पनी का एवं घटना में प्रयुक्त मोटर सायकिल तथा घटना के वक्त दिखाया हुआ चाकू जप्त करते हुये चारों आरोपियों को प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है। 
  अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी गोहलपुर आर.के गौतम, उप निरीक्षक मयंक यादव, प्रधान आरक्षक राघवेन्द्र सिंह, मानसिंह आरक्षक अंद्रेश त्रिपाठी, आशीष असाटी, आशीष तिवारी, चीता 811 के अरविंद, विपिन की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा  टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की गयी है।

Post a comment

0 Comments