Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह पन्ना स्टेट हाइवे पर निषेधाज्ञा की अनदेखी.. विधायक राहुल सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने.. खराब हुए चने का परिवहन कराने किया चका जाम.. कलेक्टर ने जाँच समिति गठित कर तीन दिन में जाँच प्रतिवेदन मांगा.. इधर निषेधाज्ञा उल्‍लंघन पर 11 को जेल..

खराब हुए चने का परिवहन कराने कांग्रेस का प्रदर्शन 
दमोह। निसर्ग तूफान की वजह से बुंदेलखंड के विभिन्न क्षेत्रों में हुई जोरदार बारिश से खरीदी केंद्रों पर किसानों का चना गीले होने के साथ खराब हो गया है। जिसका उठाव व परिवहन करने अब अधिकारियों द्वारा इंकार किया जा रहा है। जिससे नाराज किसानों की समस्या के समाधान हेतु विधायक राहुल सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस जनों ने निषेधाज्ञा की अनदेखी करके दमोह पन्ना स्टेट हाईवे पर धरना प्रदर्शन के साथ चकाजाम किया। इस दौरान मौके पर पहुचे अधिकारीगण विधायक को मनाने के चक्कर में धारा 144 के उल्लंघन के हालात को नजरादांज करते रहे।वहीं कलेक्टर ने अपर कलेक्टर की अध्यक्षता में एक सीमिति का गठन करके चना खराब होने के मामले की तीन दिन में जांच प्रतिवेदन सौपने के निर्देश दिए है। इधर लाक डाउन में एसपी के निर्देशन में निषेधाज्ञा उल्‍लंघन पर 11 को जेल भेजे जाने की जानकारी सामने आई है। लेकिन यह आंदोलनकारी नहीं आम ग्रामीणजन है।
 दमोह हटा रोड पर स्थित चना खरीदी केंद्र 'रुचि वेयर हाउस' में क्रय की गई चना फसल अचानक हुई बारिश की वजह से जमकर नुकसान पहुंचा है  यहां तक कि  अनेक चने अंकुरित हो गए हैं वहीं अब अधिकारियों द्वारा खराब हो गई किसानों की फसल का उठाओ परिवहन किए जाने से इनकार किया जा रहा है। जिसकी जानकारी लगने पर विधायक राहुल सिंह शुक्रवार को रुचि वेयर हाउस पहुंचे। जहां उन्होंने अधिकारियों से चर्चा करते हुए चने का तुरंत परिवहन एवं जो किसानों की फसल खरीदी केंद्र पर सड़ रही है या अंकुरित हो गई है, उसे भी उसी अवस्था में खरीदने की मांग को लेकर मौके पर अधिकारियों से चर्चा करके जानकारी प्राप्त की।
इधर कांग्रेसजनों के साथ किसानों ने अपनी समस्याओं को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया जिसकी जानकारी लगने पर मौके पर एडीएम आनंद कोपरिहा, जिला खाद्य अधिकारी व्हीके सिंह, डीडीए आरएस शर्मा, समिति प्रबंधक डीएमओ मिश्रा, एसडीएम रविन्द्र चौकसे आदि पहुच गए। इधर मौके पर किसानों की समस्याओं का समाधान ना होने पर विधायक राहुल सिंह के साथ कांग्रेस जन हटा-पन्ना हाईवे पर धरने पर बैठ गए। जिससे चक्का जाम जैसे हालत बनते देर नहीं लगी। जिसके बाद प्रशासन द्वारा मौके पर मार्कफेड के डीएम पी. नरहरी से बात की व समिति प्रबंधक, परिवहन कर्ता के खिलाफ नोटिस जारी करने को कहा। 
बाद में एस.डी.एम. श्री चौकसे द्वारा कलेक्टर से चर्चा उपरांत विधायक राहुल सिंह को आश्वस्त किया गया कि 5 दिन के भीतर जिला प्रशासन खरीदी केंद्र में क्रय किया हुआ किसानों का 1-1 दाना सही जगह पहुंचाया जाएगा एवं बची हुई नष्ट फसल जो खरीदी केंद्र में है, उसे भी उसी हालत में क्रय किया जाएगा। विधायक राहुल सिंह जी ने प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी को चेतावनी देते हुए 5 दिन की मोहलत दी और कहा कि, अगर निकट दिनांक तक खरीदी हुई फसल का क्रय नहीं किया गया व परिवहन नहीं किया गया, तो जिला कांग्रेस, किसानों के साथ मिलकर पुनः महा आंदोलन करेगी।
कलेक्टर ने जाँच हेतु समिति गठित करके तीन दिन में जाँच प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए..
दमोह। रबी विपणन वर्ष 2020-21 मे समर्थन मूल्य पर चना, मसूर एवं सरसों का उपार्जन नीति के अनुसार जिले के 37 उपार्जन केन्द्रों में उपार्जन का कार्य किया जा रहा है। जिसमें मानसून के कारण 04 जून 2020 को बारिश होने से रूचि वेयर हाउस मुड़िया एवं अन्य उपार्जन केन्द्रों में रखे चना स्कंद के भीग जाने की सूचना प्राप्त होने पर कलेक्टर श्री तरूण राठी ने जॉंच हेतु दल का गठन किया हुआ है। अचानक हुई बारिश के फलस्वरूप किसकी लापरवाही के कारण कितनी मात्रा में चना स्कंद भीग गया है, इस हेतु जांच दल गठित किया गया है। दल में अध्यक्ष अपर कलेक्टर आनदं कोपरिहा, सदस्य सचिव उपसंचालक कृषि आरएस शर्मा एवं सदस्य जिला आपूर्ति अधिकारी बीके सिंह को बनाया गया है। उन्होने कहा उपरोक्तानुसार समिति 3 दिवस के भीतर अपना जाँच प्रतिवेदन स्पष्ट अभिमत सहित पस्तुत करना सुनिश्चित करेगी।
इधर निषेधाज्ञा उल्‍लंघन पर 11 को भेजा जेल..
दमोह। पुलिस अधीक्षक हेमंत चैहान द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत जिले में विगत दिवस लॉक डाउन के दौरान प्रतिबंधात्‍मक कार्यवाही की गई, जिसमें 11 व्‍यक्तियो को धारा 151 सीआरपीसी के तहत जेल भेजा गया है। इसमें से थाना मडियादौ, थाना तारादेही, थाना पटेरा, थाना तेंदूखेडा में 02-02, थाना हिंडोरिया, थाना हटा, थाना बटियागढ़, थाना जबेरा में 01-01 आरोपी को जेल भेजा गया। 

Post a comment

0 Comments