3 मई के बाद लॉकडाउन थ्री या लॉकडाउन फ्री.. प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं बैठक, जल्द होगी स्थिति साफ.. मप्र में 9 रेड जोन, 19 आरेंज, 24 ग्रीन जोन.. स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश के सभी 733 जिलों को राज्यवार रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा..

3 मई के बाद लॉकडाउन थ्री या लॉकडाउन फ्री..
नई दिल्ली। 3 मई के बाद देश में लॉकडाउन थ्री या लॉकडाउन फ्री इसको लेकर प्रधानमंत्री मोदी आज बैठक कर रहे हैं। शाम तक स्थिति साफ होने की संभावना है।उम्मीद की जा रही  है कि कोरोना संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में पाजेटिव केस संख्या के आधार पर सरकार प्रदेशों को जोन निर्धारण करके छूट हेतु सुझाव दे सकती है। 
 इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश के राज्यों के अलग-अलग जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा है।  कोरोना मामलों की संख्या, डबलिंग रेट और टेस्ट के हिसाब से जिलों की नई सूची बनाई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने शुक्रवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को यह जानकारी दी है। देश के 130 जिलों में 3 मई के बाद भी सख्ती जारी रह सकती है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन्हें रेड जोन घोषित किया है। उन्होंने कहा है कि रिकवरी रेट बढ़ा है। इसी हिसाब से अब अलग-अलग इलाकों में जिलों को जोन वाइज बांटा जा रहा है।
जोन वाइज बांटा जा रहा है।
 यूपी में सबसे अधिक 19 रेड जोन, गोवा रेड जोन फ्री
 देश के कुल 733 जिलों में 130 जिले रेड जोन में 284 जिले ऑरेंज जोन में, 319 जिले ग्रीन जोन वाले जिले सामने आए है। राज्यों की बात की जाए तो यूपी के 75 जिलों में सबसे अधिक 19 रेड जोन वाले जिले सामने आए है। जबकि सबसे कम संक्रमण वाले राज्य में रेड जोन से बाहर प्रदेशों में गोवा, असम, अरुणाचल, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, त्रिपुरा, लद्दाख, लक्षद्वीप आदि प्रदेश शामिल है। जहां एक भी पाजेटिव केस वाला मरीज नहीं है।
मप्र में 9 रेड जोन, 19 आरेंज, 24 ग्रीन  जोन 
मध्यप्रदेश में रेड जोन वाले 9 जिलों में इंदौर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, धार, बड़वानी, पूर्वी निमाड़, देवास, ग्वालियर है। वहीं ऑरेंज जोन वाले 19 जिलों में खरगोन, रायसेन, होशंगाबाद, रतलाम, आगर मालवा, मंदसौर, सागर, शाजापुर, छिंदवाड़ा, अलीराजपुर, टीकमगढ़, शहडोल, श्योपुर, डिंडोरी, बुरहानपुर, हरदा, बैतूल, विदिशा, मुरैना है। इधर ग्रीन जोन में शामिल 24 जिलों में रीवा, अशोकनगर, राजगढ़, शिवपुरी, अनूपपुर, बालाघाट, भिंड, छतरपुर, दमोह, दतिया, गुना, झाबुआ, कटनी, मंडिया, नरसिंहपुर, नीमच, पन्ना, सतना, सीहोर, सिवनी, सीधी, उमरिया, सिंगरौली, निवाड़ी है।
राजस्थान में 8 रेड 19 आरेंज, 6 ग्रीन जोन-
राजस्थान में रेड जोन में 8 जिलों में जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, भरतपुर, नागौर, बांसवाड़ा, झालावाड़ को शामिल किया गया है। ऑरेंज जोन वाले 19 जिलों में टोंक, जैसलमेर, दौसा, झुंझुनूं, हनुमानगढ़, भीलवाड़ा, सवाईमाधोपुर, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, उदयपुर, धौलपुर, सीकर, अलवर, बीकानेर, चूरू, पाली, बाड़मेर, करौली, राजसमंद शामिल है। वही ग्रीन जोन वाले 6 जिलों में बारां, बूंदी, गंगानगर, जालोर, सिरोही, प्रतापगढ़ है।
महाराष्ट्र में 14 रेड, 16 आरेंज, 6 ग्रीन जोन
महाराष्ट्र में रेड जोन वाले 14 जिलों में मुंबई, पुणे, ठाणे, नासिक, पालघर, नागपुर, सोलापुर, यवतमाल, औरंगाबाद, सतारा, धुले, अकोला, जलगांव, मुंबई सब-अर्बनशामिल है। वहीं ऑरेंज जोन वाले 16 जिलों में रायगड़, अहमदनगर, अमरावती, बुलढ़ाणा, नंदूरबार, कोल्हापुर, हिंगोली, रत्नागिरी, जालना, नांदेड़, चंद्रपुर, परभनी, सांगली, लातूर, भंडारा, बीड तथा ग्रीन जोन वाले 6 जिले जोनरू ओस्मानाबाद, वाशिम, सिंधुदुर्ग, गोंदिया, गढ़चिरौली, वर्धा है।

उत्तरप्रदेश में 19 रेड, 36 आरेंज, 20ग्रीन-
उत्तरप्रदेश के रेड जोन के 19 जिलों में आगरा, लखनऊ, सहारनपुर, कानपुर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, मेरठ, रायबरेली, वाराणसी, बिजनौर, अमरोहा, संत कबीर नगर, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, रामपुर, मथुरा, बरेली शामिल है। ऑरेंज जोन के 36 जिलों में गाजियाबाद, हापुड़, बागपत, बस्ती, बदायूं, संभल, औरैया, शामली, सीतापुर, बहराइच, कन्नौज, आजमगढ़, मैनपुरी, श्रावस्ती, बांदा, जौनपुर, एटा, कासगंज, सुल्तानपुर, प्रयागराज, जालोन, मिर्जापुर, इटावा, प्रतापगढ़, गाजीपुर, गोंदा, मऊ, भदोही, उन्नाव, पीलीभीत, बलरामपुर, अयोध्या, गोरखपुर, झांसी, हरदोई, कौशांबी तथा ग्रीन जोन के  20 जिलों में बाराबंकी, खेड़ी, हाथरस, महाराजगंज, शाहजहांपुर, अंबेडकर नगर, बलिया, चंदोली, चित्रकूट, देवरिया, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, हमीरपुर, कानपुर देहात, कुशी नगर, ललितपुर, महोबा, सिद्धार्थ नगर, सोनभद्र, अमेठी है।
उत्तराखंड के रेड जोन में हरिद्वार शामिल है। ऑरेंज जोन में देहरादून तथा नैनीताल है तथा ग्रीन जोन में 10 जिलें उधम सिंह नगर, अल्मोड़ा, पौड़ी गढ़वाल, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी गढ़वाल, उत्तरकाशी है। 

No comments

About

सतत प़त्रकारिता का 30 वां साल.. 1990-2008 ब्यूरो चीफ दैनिक भास्कर भोपाल, 2009-2014 रिपोर्टर साधना न्यूज मप्र छग, 2010- 2014 रिपोर्टर न्यूज एक्सप्रेस चैनल, 2013-2016 ब्यूरो ओम टीवी न्यूज नेटर्वक, 2012-2020 ब्यूरो जनजन जागरण भोपाल, 2017 से AtalNews 24.com न्यूज पोर्टल.. महत्वपूर्ण तात्कालिक घटनाक्रमों की फोटो, जानकारी 9425095990,8839744763 पर वाटसअप करें ..