Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कोपरा नदी में नहाने गए दो मासूम बच्चों की गहरे में चले जाने से जल समाधि.. इधर मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने में लापरवाही.. जिला पंचायत के सीईओ ने 6 उपयंत्रीयो पर की कार्रवाई.. एक के निलंबन का प्रस्ताव कमिश्नर को भेजा..

नदी में नहाने गए दो मासूम बच्चों की जल समाधि 
दमोह। जिले के देहात थाना अंतर्गत आंखखेड़ा गांव में रविवार दोपहर कोपरा नदी में डूबने से दो मासूम बच्चों की मौत हो गई प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनों बच्चे घर से खेलने के लिए निकले थे और फिर वह करीब आधा किलो मीटर दूर कोपरा नदी तक कब पहुंच गए। लेकिन किसी को पता ही नहीं लगा। देर तक उनके घर वापस नहीं लौटने पर जब तलाश की गई तो नदी के बाहर उनके कपड़े मिले जिसके बाद पानी में उतर कर जब उन्हें तलाशा गया तब तक उनकी सांसें थम चुकी थी।
निखिल और करण नाम के दोनों बच्चे  जो कि आपस में   चाचा भतीजे लगते थे,  को नदी से निकालकर जिला अस्पताल लाए जाने पर मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने मर्ग कायम कर दोनों शवों को पोस्टमार्टम हेतु भेज कर जांच शुरू कर दी है। वही इस दुखद घटनाक्रम से परिजनों का रो रो कर बुरा हाल बना हुआ है।
जिला पंचायत के सीईओ ने 6 उपयंत्रीयो पर की कार्रवाई
    दमोह। महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी योजनांतर्गत जिले की समस्त पंचायतों में कार्य खोले गये है कोविड 19 को देखते हुए प्रवासी मजदूरों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराये जाने हेतु मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दमोह डाँ गिरीश मिश्रा के द्वारा लगातार उपंयत्रीयों को निर्देशित किया जा रहा है।
      उन्होने जिले के 06 उपंयत्रियों पर कार्रवाही की हैं जिसमें उपंयत्री ग्रामीण यात्रिकी सेवा जनपद पंचायत तेन्दूखेडा दिलीप सूत्रकार, उपंयत्री जनपद पंचायत पटेरा आर के गोस्वामी, उपंयत्री जनपद पंचायत पटेरा टी पी सुमन, उपयंत्री जनपद पंचायत पथरिया आरिफ खान, उपंयत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा जनपद पंचायत बटियागढ संदीप दाँगी एवं जनपद पंचायत बटियागढ मोहम्मद हुसैन खान के द्वारा ग्रामीण जाँबकार्डधारियों को रोजगार उपलब्ध न कराने के आरोप मे संबंधितों को कारण बताओं नोटिस जारी किया हैं। जिसके जबाव में उपंयत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा जनपद पंचायत बटियागढ संदीप दाँगी के द्वारा जानकारी न होना एवं बार-बार निर्देश देने के बाद भी जॉबकार्डधारियों को श्रम नियोजन न करने पर निलंबन की कार्यवाही हेतु आयुक्त सागर संभाग सागर को प्रस्ताव भेजा गया।
      इसी प्रकार उपंयत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा जनपद पंचायत तेन्दूखेडा दिलीप सूत्रकार की एक वेतन वृद्धि संचयी प्रभाव से रेाके जाने हेतु प्रस्ताव आयुक्त सागर संभाग को भेजा गया। इसी प्रकार उपंयंत्री जनपद पंचायत पटेरा टी पी सुमन एंव उपंयत्री जनपद पंचायत बटियागढ मोहम्मद हुसैन के द्वारा कार्य में रूचि नहीं लिये जाने के कारण एवं सेक्टर में कार्यो पर श्रमिक नियोजन में लापरवाही बरतने के कारण पुनः अंतिम अवसर देते हुए 03 दिवस का समय दिया गया है, यदि इनके सेक्टर में श्रमिक नियोजन में प्रगति संतोषप्रद नहीं होने पर संविदा अवधि नहीं बढाये जाने का निर्णय मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाँ गिरीष मिश्रा के द्वारा लिया गया। 

Post a comment

0 Comments