Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

मप्र शासन की अभिनव पहल.. अब किसानों को नकल के लिए यहां वहां नहीं भटकना पड़ेगा.. एमपी ऑन लाइन के कियोस्क केंद्र से खाता खसरा नक्शा की प्रति प्रदान करने की योजना की कलेक्टर ने की शुरूआत..

मप्र शासन की किसानों के लिए अभिनव पहल
दमोह। मध्यप्रदेश शासन की पहल पर किसानों के लिए एक नई  पहल की शुरुआत की गई है। इसके तहत अब किसानों को अपने ही गांव में और आसपास अपने खाता खसरा नक्शा सहित अन्य भू राजस्व से जुड़ी नकले कम मूल्य पर उपलब्ध हो सकेंगी। इसके लिए अब उन्हें यहां वहां नहीं भटकना पड़ेगा। इस आशय की बात कलेक्टर तरुण राठी द्वारा सोमवार को एमपी ऑन लाइन के कियोस्क केंद्र से किसानों को राजस्व दस्तावेजों  की प्रतियां प्रदान करने की योजना की शुरुआत करते हुए कहीं।
नगर के उमा मिस्त्री की तलैया के समीप एम पी ऑनलाइन के कियोस्क संचालकों द्वारा आयोजित कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। तत्पश्चात अतिथियों का स्वागत आयुष कंप्यूटर के संचालक अंकित असाटी, पार्षद प्रतिनिधि विवेक अग्रवाल द्वारा किया गया। कलेक्टर तरुण राठी, एसडीएम रविंद्र चोकसे, अधीक्षक भू अभिलेख वर्षा दुबे द्वारा कियोस्क सेंटर का फीता काटकर योजना का शुभारंभ करते हुए हुए 5 किसानों को उनके खाता खसरा की नकल प्रदान की गई। इस अवसर पर कलेक्टर तरुण राठी, एसडीएम रविंद्र चोकसे, अधीक्षक भू अभिलेख वर्षा दुबे, विधायक प्रतिनिधि पवन गुप्ता, शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल ठाकुर मंचासीन रहे।


 कलेक्टर तरुण राठी ने कहा कि यह कार्यक्रम शहर में आम जनमानस के बीच इसलिए किया गया, जिससे कि इस बात की जानकारी किसानों एवं आम जनमानस को प्राप्त हो सके। कलेक्टर तरुण राठी ने कहा कि इस कार्यक्रम को हम कलेक्ट्रेट या तहसील में भी कर सकते थे लेकिन यहाँ करने का उद्देश्य यही था कि शासन की इस योजना का लाभ और जानकारी आम जनमानस को हो सकें। इस योजना के प्रारंभ होने से आज मजदूरों को अपने काम को छोड़कर तहसील कार्यालय नकल हेतु नहीं आना पड़ेगा। उसे अपने गांव में ही खसरा खाता खतौनी की नकल तत्काल उपलब्ध हो जाएगी।  इस अवसर पर शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल ठाकुर द्वारा मध्यप्रदेश शासन की इस योजना की प्रशंसा करते हुए शासन की इस पहल का स्वागत किया और अधिक से अधिक किसानों को तत्काल ही अपने गांव पास पड़ोस में ही दस्तावेज उपलब्ध होने के लिए शासन का आभार माना। कार्यक्रम का संचालन कपिल सोनी द्वारा किया गया।आभार प्रदर्शन संचालक अंकित असाटी द्वारा किया गया । 

 इस दौरान अधीक्षक भू अभिलेख वर्षा दुबे ने बताया कि आयुक्त भू अभिलेख एवं बंदोबस्त ग्वालियर द्वारा भू अभिलेख की प्रति निर्धारित दरों पर भू स्वामियों को प्रदान करने एमपी ऑनलाइन के प्राधिकृत सेवा प्रदाता नियुक्त किया गया है। इससे किसानों को एमपी ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से उनके खाता खसरा सहित भू अभिलेख की प्रतियां प्रदान करने की सुविधा प्रारंभ की गई है। इससे अब जिले के सभी लोक सेवा केंद्रों के साथ-साथ एमपी ऑनलाइन के कियोस्क से भी भू अभिलेख की दस्तावेजों की प्रतियां किसानों को उनके गांव आस-पास में ही उपलब्ध हो सकेंगी। कार्यक्रम में प्रमुख रुप से गोपाल प्रसाद गुप्ता, लालचंद राय, दीपक मिश्रा, बृज किशोर सोनी, चंदन ताम्रकार, प्रशांत सोनी, रामबाबू सिंह बघेल, भरत पांडे, रज्जन सिंह, मुकेश जैन, जय हिंद धुर्वे सहित सैकड़ों की तादाद में किसान एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

Post a comment

0 Comments