Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

प्रेमी के प्यार में पागल भाभी ने.. शराब की बॉटल से कराई थी देवर की हत्या.. इधर देवर भाभी को लूटने वाला एक बदमाश गिरफ्तार.. दो लुटेरों की तलाश में पंजाब जाएगी पुलिस.. SP ने किया दो बारदातों का पर्दाफाश किया..

 प्रेमी के संग मिलकर भाभी ने कराई थी देवर की हत्या
दमोह। हिंडोरिया थाना क्षेत्र में 5 दिन पूर्व एक युवक की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने साइबर सेल की मदद सुलझाने में कामयाबी हासिल की है। एसपी हेमंत सिंह चौहान ने सोमवार दोपहर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए पूरे घटनाक्रम का खुलासा कर बताया कि मृतक की हत्या के पीछे उसकी सगी भाभी और उसके प्रेमी का हाथ था। इधर बटियागढ़ थाना अंतर्गत 15 दिन पूर्व देवर भाभी के साथ हुई लूट की वारदात का खुलासा करते हुए एसपी ने बताया कि एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है वही फरार दो आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम को पंजाब भेजा जा रहा है।
हिंडोरिया थानांतर्गत करैया हजारी गांव में 26 फरवरी की सुबह तरबार पटेल का रक्त रंजित शव मिलने के बाद उसके भाई ताराचंद पटेल की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मामला पंजीबद्ध किया था। जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशन में हिंडोरिया थाना पुलिस की टीम मामले की पर्दाफाश में जुटी हुई थी। पुलिस जांच के दौरान यह बात सामने आई कि देहात थाना के मुहारी मलाई निवासी नीलू उर्फ योगेंद्र पटेल नामक युवक के मृतक तरवर पटेल की भाभी से अवैध संबंध थे। 
जिसकी जानकारी महिला के पति को दिए जाने पर उसके द्वारा उसके साथ मारपीट की जाती थी। वहीं अवैध संबंधों की बात सार्वजनिक तौर पर उजागर करने की धमकी दिए जाने पर नीलू पटेल तरवर को ठिकाने लगाने की फिराक में था।  पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी हेमंत चौहान ने एएसपी विवेक लाल एवं पर्दाफाश करने वाली हिंडोरिया थाने की टीम की मौजूदगी में पूरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए खुलासा किया। 
एसपी ने बताया कि अवैध संबंधों की पोल खुलने के डर से सहोदरा बाई मैं अपने प्रेमी के साथ  मिलकर प्लानिंग करते हुए 26 फरवरी के तड़के चार बार पटेल की हत्या कर दी। लेकिन पुलिस जांच के दौरान इनकी अवैध संबंधों की बात का खुलासा हो जाने से आरोपी ज्यादा समय तक बच नहीं सके और पुलिस पूछताछ के दौरान आखिरकार उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने दोनों के खिलाफ हत्या तथा हत्या के षड्यंत्र की धारा के तहत अपराध पंजीबद्ध कर के गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।
5000 के नाम वाले इस अंधे हत्याकांड का पर्दाफाश करने में अहम भूमिका निभाने वाले हिंडोरिया थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर एसएस राजपूत, उपनिरीक्षक बीएल चौधरी, प्रधान आरक्षक पवन तिवारी, मुकेश दुबे अभिषेक चौबे महिला आरक्षक पार्वती सैनिक राकेश दुबे के अलावा साईवर सेल टीम के सदस्य आरक्षक राकेश अठ्या, सौरभ टंडन, अजीत दुबे को एसपी हेमंत चौहान द्वारा पुरस्कृत किए जाने की घोषणा की है।
देवर भाभी के साथ लूट की वारदात करने वाला गिरफ्तार
दमोह। बटियागढ़ थाना अंतर्गत खडेरी बाईपास पर करीब 15 दिन पूर्व बाइक सवार देवर भाभी के साथ लूट की वारदात को अंजाम देने वाले तीन अज्ञात आरोपियों का पता लगाकर पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया तथा इसके पास से 60000 कीमत का सोने का हार भी बरामद कर लिया गया है वहीं उसके दो साथियों की तलाश की जा रही है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार हटा थाने के लोहरा गांव निवासी शैलेंद्र जैन अपनी भाभी के साथ बाइक से सत्संग कार्यक्रम में शामिल होने पथरिया थाने के सूखा ग्राम गए थे जहां से 18 फरवरी को वापस लौटते समय खडेरी बाईपास पर तीन अज्ञात युवकों ने हथियार की नोक पर उन्हें रोक लिया था तथा धमकाते हुए सोने का हार दो मोबाइल और 4500 नगद लेकर भाग गए थे। जिसकी शिकायत बटियागढ़ थाने में दर्ज किए जाने पर पुलिस ने लूट का मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी। इधर घटना की गंभीरता को समझते हुए एसपी हेमंत चौहान ने एएसपी विवेक लाल के नेतृत्व में टीम बनाते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे।
 जिसके बाद बटियागढ़ थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर कार्यवाही करते हुए गोलू रजक को हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो उसने आकाश तथा विकास रजक के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया पुलिस ने गोलू के पास सोने का हार बरामद कर लिया है वही उसके दो साथियों की लोकेशन पंजाब की मिलने पर पुलिस टीम पंजाब भेजी जा रही है। 
10000 के इनामी बदमाशों की पतासाजी कर पर्दाफाश मैं साइबर सेल की टीम का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। प्रकरण में अच्छा कार्य करने वाले बटियागढ़ टी आई एलएन तिवारी उपनिरीक्षक पी डी इमेज मिंज एवं सुनील मेहर, एएसआई शिलान विनीत, प्रधान आरक्षक अकरम खान, आरक्षक मनीष गंधर्व, संजय पाठक, महेश यादव के अलावा साइबर सेल टीम के सदस्य राकेश अठ्या, सौरभ टंडन, अजीत दुबे, कुलदीप ठाकुर, राहुल राजपूत और रूपनारायण को पुरस्कृत करने की घोषणा एसपी द्वारा की गई है।

Post a comment

0 Comments