Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कोरोना एलर्ट.. बांदकपुर-कुंडलपुर ट्रस्ट व विभिन्न समाज प्रमुखों के साथ प्रशासन की बैठक.. मास्क एवं सेनिटाइजर उचित मूल्य पर मिलेंगे.. 31 मार्च तक परीक्षाएं व मूल्यांकन स्थगित.. ज्ञापन देने चार पांच से अधिक लोगों के पहुचने पर पावंदी..

 कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कोरोना वायरस संबंधी बैठक 
दमोह। कोरोना एक संक्रमित बीमारी है, आज और अभी स्थिति में  चिंता  की कोई बात नहीं है। जिला प्रशासन द्वारा सार्थक प्रयास किये जा रहे है, इससे घबराने की जरूरत नहीं है। अभी तो राहत की बात है, पर चिंता की बात भी है। जब कोई व्यक्ति संक्रमित हो और सम्पर्क में आये तो इसका फैलाव होगा। इस आशय की बात आज कलेक्टर तरूण राठी ने जिला कार्यालय सभाकक्ष में सभी धर्मो के लोगों की आयोजित बैठक में व्यक्त की। उन्होंने कहा 31 मार्च तक संयमित तरीके से रहना है, फैल जाने से मुश्किल होगा। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमंत  चैहान खासतौर  पर मौजूद थे।
 कलेक्टर तरूण राठी ने कहा सरकार ने एहतियातन उपाय के तहत स्कूल, कॉलेज, आंगनबाड़ी बंद कर दिये है, परीक्षाएं चल रही है, उनके पेपर हो रहे है। वहां भी गाईड लाईन के तहत पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कोचिंग सेन्टर, बारात घर बंद कर दिये गये हे। आमजनों के बीच जागरूकता के लिए पम्पलेट का वितरण किया जा रहा है तथा मीडिया के माध्यम से आमजनों को जागरूक करने के प्रयास जारी है। यह भी कहा कि विदेश से कोई व्यक्ति आता है तो सूचना एयरपोर्ट ऑथर्टी के माध्यम से मिल रही है। श्री राठी ने कहा अभी की स्थिति में विदेश से आने वाले व्यक्ति से यह बीमारी फैल रही है। विदेशियों के यहां आने पर 14 दिन आईशोलेशन में रखा जा रहा है। आईशोलेशन वार्ड जिला अस्पताल में बनाया गया है, विदेशी व्यक्ति यहां आता है, तो जांच उपरांत कोरेटांइन सेंटर में रखा जायेगा। जटाशंकर स्थित जिला प्रशिक्षण केन्द्र में यह सेन्टर स्थापित किया गया है। उन्होंने बताया जिले के कर्मचारियों और स्वास्थ अमले को प्रशिक्षण दिया गया है।
एसपी हेमंत चैहान ने कहा प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस अपनी भूमिका अदा कर रही है। वायरस की जानकारी सभी के द्वारा दी जा रही है। गाईड लाईन के अनुसार 20 से अधिक व्यक्ति एक स्थान पर न हो, का पालन किया जायें। लोगों में जागरूकता हों। उन्होंने कहा लोगों को अभी भी पूरी जानकारी नहीं है। यह भी कहा विभिन्न विभागों को जिम्मेवारी सौंपी गई है, आमजन और समाज भी गंभीरता से लें। पुलिस अधीक्षक ने कहा धार्मिक आयोजनों में भी सर्तकता बरती जायें। उन्होंने कहा धार्मिक आस्था के साथ ही गाईड लाईन का पालन किया जायें। होर्डिग्स भी लगाई जा रही है। पम्पलेट का वितरण भी किया जा रहा है। हमें जनहित में निर्णय लेना होगा।
इस अवसर पर विभिन्न धर्मो के धर्मालंबियों ने अपनी बात व सुझाव रखें। जागेश्वर धाम बांदकपुर ट्रस्ट के अध्यक्ष सुरेश मेहता ने कहा मंदिर परिसर मे हाथ धोने के लिए डिटोल हैंडवाश का उपयोग किया जा रहा हैं, मंदिर प्रांगण में साफ-सफाई का विशेष ध्यान दिया जा रहा हैं। उन्होने कहा अब से गर्भ ग्रह में प्रवेश पर प्रतिबंधित कर दिया जायेगा लोग बाहर से ही भगवान भोले नाथ के दर्शन कर सकते है, जिससे ज्यादा संख्या में भीड़ एकठ्ठी नही होगी और संक्रमण से बचा जा सकेगा। कुण्डलपुर समिति के अध्यक्ष संतोष सिंघई ने कहा कुण्डलपुर मे आये श्रद्धालुओ के लिए हम सतर्कता बतरेगें, हम शासन-प्रशासन का सहयोग करेंगें। उन्होंने कहा कलेक्टर साहब ने सभी समाज के लोगों को बुलाकर चर्चा की सराहनीय पहल है। हम जन-जागरूकता के लिए प्रयास करेंगे। जैन समाज अध्यक्ष सुधीर सिंघई बबलू जैन ने कहा कोरोना से बचाव के पम्पलेट सभी धार्मिक संस्थाओं एवं शासकीय कार्यालय में लगाये और वितरित‍किये जायेंगे। जिससे लोगो को कोरोना से बचाव के लिए जानकारी प्राप्त होगी। बड़ी देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष एडवोकेट कमलेश भारद्वाज ने कहा कोरोना से बचाव हेतु इस बार ट्रस्ट ने मेले मे दुकान नही लगवाने का निर्णय लिया हैं। उन्होने कहा हम शासन दृप्रशासन के साथ सहयोग के लिए तैयार हैं।
क्रिश्यचन समाज से डॉ. अजय लाल ने कहा सभी धर्म के लोगों ने सतर्कता अभियान में प्रशासन के साथ देना की बात कही है। उन्होने कहा जिले के लोगो को कोरोना वायरस से बचाने हेतु सामाजिक, संस्थागत एवं धार्मिक स्तर पर हर संभव हम प्रयासरत तथा प्रतिबद्ध हैं। यह भी कहा हम सभी एक हृदय एक आवाज से और प्रशासन का साथ देने के लिए संकल्पित है। दमोहवासियों के हित के लिए जो भी संभव होगा हम करेंगे। गुरूद्वारा सिंह सभा से केप्टन वाधवा ने कहा हम सभी एक दूसरे के सहयोग से सभी लोगो को कोरोना से सबंधी जानकारियां देगें, शासन का सहयोग करेंगे। हम सर्तक होगें तो सभी सर्तक होगें। मुसलिम समाज की ओर से  श्री अनवर उस्ताद ने कहा कोरोना एक अनचाही बीमारी हैं, जिससे सावधानी बरत कर बचा जा सकता हैं, सभी जिलेवासी एक दूसरे का सहयोग करें, दूरी बना कर रखें, हाथों को हमेशा धोते रहें। उन्होने कहा जितना हो सकें यात्राए टाले अपने घरों मे ही रहें। आजम खान ने कहा सभी धार्मिक स्थल पर जहां हाथ धोने के लिए टाविल की व्यवस्था हैं, वहां से टाविल अलग कर दिये जायें। वहां पर मिट्टी के घड़े रख दें ताकि लोग अपने हाथ साबुन से थो लें। इस दौरान बांदकपुर मे आये पं. कृपाल पाठक अन्य धर्मो के धार्मालंबियों ने भी अपनी बात रखी।                   
जटाशंकर कॉलोनी में आईसोलेशन वार्ड की स्थापना
दमोह। कोरोना वायरस से सर्तकता एवं बचाव के लिये कलेक्टर तरूण राठी द्वारा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये निर्देशों के तहत डिस्टिक ट्रेर्निंग सेंटर जटाशंकर कॉलोनी में आईसोलेशन वार्ड की स्थापना की गई है। ऐसे मरीज जो विदेश से आयेंगे उनमें लक्ष्ण नही पायें जायेगें फिर भी उन्हे 14 या 28 दिन के आर्ब्जवेशन रूम में रखा जायेगा, विदेश से आये हुये लोगो के लिए 6 विस्तर की व्यवस्था डिस्टिक ट्रेर्निंग सेंटर जटाशंकर कॉलोनी मे की गई हैं, जहां उन्हे सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी।
डॉ राकेश राय ने कहा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु प्रयास किये जा रहे हैं। कोरोना वायरस का इंक्युवेशन पीरियड 14 दिन का होता हैं, विदेश से संक्रमित व्यक्ति यदि भारत आया हैं, और दूसरे व्यक्तियों को संक्रमण ना हो पायें इसलिए उन्हे 14 दिन के लिए आईसोलेटिड वार्ड मे रखा जाकर उनका इलाज किया जायेगा। इस वार्ड मे सारी सुविधाए उपलब्ध कराई गई हैं।
मास्क एवं सेनिटाइजर उचित मूल्य पर देने के निर्देश
दमोह। नोबेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और इसके इलाज सम्बन्धी आवश्यक सामग्री की उपलब्धता  एवं उचित मूल्य पर विक्रय के सम्बन्ध में औषधि निरीक्षक दमोह द्वारा जिले के सभी केमिस्ट को मास्क एवं सेनिटाइजर पर्याप्त मात्रा में एवं उचित मूल्य पर देने  के निर्देश  दिए गये  है। औषधि निरीक्षक महिमा जैन ने बताया सभी केमिस्ट को मास्क एवं सेनिटाइजर पर्याप्त मात्रा में एवं उचित मूल्य पर क्रय विक्रय का रेकार्ड कार्यालय में सबमिट करने के भी निर्देश दिए गए थे।  दमोह जिले के  कुछ  मेडिकल को इनकी उपलब्धता के लिए चिन्हित भी किया गया है और निर्देशित किया गया जरूरतमदों ( जो संक्रमित हो या जो संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया हो) को ही मास्क दिए जाये, ताकि इनकी अनावश्यक मांग को नियंत्रित किया जा सके। निर्देशों के पालन न किये जाने की स्थिति में संबंधित के विरुद्ध कार्यवाही की जायगी, जिसके लिए संबंधित केमिस्ट स्वयं जिम्मेदार होंगे।
मास्क एवं सेनिटाइजर की उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिए औषधि निरीक्षक महिमा जैन द्वारा दमोह के आनंद मेडिकल स्टोर्स ,हिदुस्तान ट्रेडर्स ,कोमल मेडिकोस,इटौरिया औषधि विक्रय केंद्र ,न्यू प्रिया  मेडिकल एंड सर्जिकल , कृष्णा मेडिकल स्टोर, श्री शर्मा मेडिकल का निरिक्षण किया गया एवं क्रय दृविक्रय, मास्क एवं सेनिटाइजर स्टॉक चेक किया और कोरोना वायरस के रोकथाम हेतु दिशा निर्देश डिस्प्ले करने के निर्देश दिए गए , मास्क की जरुरत किसे है और किसे नहीं कस्टमर को समझाइस देने को भी कहा गया।
 बचाव के लिए 560 लोगों ने पिया आयुर्वेदिक काढ़ा
दमोह। जिला कलेक्टर तरुण राठी द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत  जिला आयुष अधिकारी डॉक्टर आई के कुर्मी के निर्देशन में  शासकीय जिला चिकित्सालय दमोह में कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु  गत तीन दिनों में 560 लोगों को आयुर्वेदिक काढ़ा,  संशमनी वटी एवं होम्योपैथी दवा का सेवन कराया गया तथा इससे बचाव के संबंध में सुझाव भी दिए गए। आर एम ओ डॉ अनुराग कुमार ने बताया कोरोना वायरस से बचाव हेतु भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें, नियमित व्यायाम करें साथ ही आयुष विभाग द्वारा निशुल्क प्रदान किये जाने वाले काढ़े का इस्तेमाल करें।                                                                           
डॉ प्रियंका जैन (एम डी आयुर्वेद) ने बताया आयुर्वेद रोगों की रोकथाम एवं बचाव का विज्ञान है, आयुर्वेद को अपनाकर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है। बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों एवं कोरोना वायरस से बचाव के लिए ऋतुचर्या का पालन करें। हल्का भोजन करके स्वास्थ्य रहा जा सकता है। डॉ अनुपमा वर्मा ,श्रीमती मसीह, अरविंद असाटी रामकली राय ,धर्मेंद्र कुमार, दीनदयाल अंजनी राय चित्रेश्वर कस्तूर का सहयोग रहा मध्य प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष महेंद्र जैन ने इस दौरान नागरिकों को बताया गया स्वच्छता ही इसके बचाव का बेहतर तरीका है। सभी ने मरीजों को संक्रमण से बचने के सुझाव दिए।
31 मार्च तक परीक्षाएं व मूल्यांकन कार्य स्थगित 
दमोह। कलेक्टर तरूण राठी ने जानकारी देते हुए बताया माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश भोपाल की वर्ष 2020 की हाई स्कूल, हायर सेकेण्ड्रीध् हायर सेकेण्ड्री व्यवसायिक पाठ्यक्रम आदि परीक्षाएं 02 मार्च से संचालित हो रही है। उन्होंने बताया शिक्षा विभाग के पत्र के परिपालन में राज्य में लोक स्वास्थ्य एवं लोक हित में नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु एवं विद्यालयों मे एक स्थान पर विद्यार्थी के समूह में एकत्रित उपस्थित होने के परिणाम स्वरूप उक्त बीमारी के संभावित खतरे की रोकधाम करने के उदेदश्य से वर्तमान स्थितियो की गंभीरता‍ को दृष्टिगत रखते हुए 20 मार्च से 31 मार्च तक की आयोजित होने वाली मंडल की समस्त परीक्षाएं तत्काल प्रभाव से स्थगित की गई है।
कलेक्टर श्री राठी ने बताया कि 21 मार्च से प्रारंभ होने वाला उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य भी 31 मार्च तक के लिए तत्काल प्रभाव से स्थगित किया जाता है। यह भी बताया  कि मंडल की स्थगित परीक्षाओं के कार्यक्रम की तिथियां एवं मूल्यांकन कार्य करने की तिथियां पृथक से घोषित की जायेगी। कलेक्टर ने इसीक्रम में समस्त केन्द्राध्यक्ष सहायक केन्द्राध्यक्ष को यह भी निर्देशित किया जाये कि संबंधित केन्द्र हेतु पूर्व में आवंटित दिनांक 20 मार्च से 31 मार्च तक की आयोजित परीक्षाओं के प्रश्न पत्र संबंधित थानों में ही आगामी आदेश तक सुरक्षित रखें जायें तथा इस दौरान प्रश्न पत्र की शील्ड बंद बॉक्स को किसी भी दशा में मंडलध् जिला कलेक्टर की अनुमति के बिना नहीं खोला जायें। श्री राठी ने संबंधित अधिकारियों से कहा है कि सभी को इसकी सूचना और निर्देश से अवगत करा दिया जायें।
ज्ञापन देने चार पांच से अधिक लोग नहीं पहुचे 
दमोह। कलेक्टर तरूण राठी ने जिले के निवासियों से आग्रह किया हैं नोवल कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व सुरक्षा की दृष्टि से बड़ी संख्या में लोग एक साथ होकर ज्ञापन आदि देने कलेक्ट्रेट न पहुँचे। उन्होने कहा हैं आवश्यक होने पर 4-5 लोग ज्ञापन आदि लेकर आ सकते हैं, अपनी बात या ज्ञापन दे, तो यह ज्यादा लोकहित में रहेगा। यह आग्रह 31 मार्च तक के लिए किया गया हैं।
चार धाम से बांदकपुर पहुंचे तीर्थ यात्री स्क्रीनिंग में स्वस्थ्य पाये गये रहेंगे 14 दिन होम आइसोलेशन मेंदमोह। जिले के प्रसिद्ध तीर्थ क्षेत्र बांदकपुर में जागेश्वरनाथ धाम पहुंचे तीर्थ यात्रियों जो चार धाम की यात्रा करके कल रात यहां पहुंचे थे, सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, सभी स्वस्थ्य पाये गये। कलेक्टर तरूण राठी के निर्देश पर स्वास्थ्य और राजस्व सहित अन्य अमला सजगता से कार्य अंजाम दे रहा है। इसी तारतम्य में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तुलसा ठाकुर ने बताया इन सभी तीर्थ यात्रियों का स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी का स्वास्थ्य परीक्षण  के उपरांत इन तीर्थ यात्रियों को जरूरी स्वास्थ्य संबंधी हिदायत दी गई है, इन्हें होम आइशोलेशन में रख रेग्यूलर ऑव्जरवेशन 14 दिनों तक किया जायेगा। जनसंपर्क अधिकारी वायए कुरैशी द्वारा प्रदत्त सूचना अनुसार 

Post a comment

0 Comments