Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कोरोना वायरस से बचाव हेतु एलर्ट.. जिला अस्पताल में आईसोलेशन वार्ड शुरू.. जिला व अनुविभाग समन्वय समिति गठित.. खण्ड स्तरीय अधिकारियों को प्रशिक्षण.. समता सखियां करेगी जागरूक.. समूह की महिलाओं ने बनाए मास्क..

बचाव हेतु जिला अस्पताल में आईसोलेशन वार्ड शुरू
दमोह। कोरोना वायरस से बचाव के लिये कलेक्टर तरूण राठी द्वारा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये गये निर्देशों के तहत शासकीय जिला चिकित्सालय में आईसोलेशन वार्ड की स्थापना की गई है। डाँ दिवाकर पटैल ने बताया कोरोना वायरस विश्व में महामारी के रूप में घोषित किया गया हैं। जिला अस्पताल मे कोरोना की रोकथाम एवं बचाव से संबधित सारी मूलभूत व्यवस्था की जा चुकी हैं। 
 जिला अस्पताल परिसर मे 09 विस्तर का आईशोलेशन वार्ड प्रथक से बनाया गया हैं। आईशोलेशन वार्ड मे स्टाफ की बारी-बारी से ड्यूटी लगाई जायेगी साथ ही स्टाफ के लिए भी अलग से व्यवस्था की गई हैं।उन्होने कहा ऐसे मरीज जो विदेश से आयेंगे उनमें लक्ष्ण नही पायें जायेगें फिर भी उन्हे 14 या 28 दिन के आर्ब्जवेशन रूम में रखा जायेगा, विदेश से आये हुये लोगो के लिए 6 विस्तर की व्यवस्था डिस्टिक ट्रेर्निंग सेंटर जटाशंकर कॉलोनी मे की गई हैं, जहां हम उन्हे सुविधा उपलब्ध करा सकेंगे।

आयुर्वेदिक काढ़ा पीकर कोरोना वाइरस से बचाव- दमोह। जिला आयुष अधिकारी डॉ आईके कुर्मी के मार्ग दर्शन में जिला आयुर्वेद चिकित्सालय, दमोह में पिलाये जा रहे काढ़े को पीकर आम जन मानस ने कोराना से बचाव किया। जिला आयुर्वेद चिकित्सालय, दमोह में पदस्थ आरएमओ डॉ अनुराग कुमार ने बताया प्रतिदिन सुबह 10 बजे से दोपहर 01 बजे तक कोरोना वाइरस से बचाव हेतु संशमनी वटी के साथ काढ़ा बनाकर पिलाया जा रहा हैं। जिसमें त्रिकुट, तुलसी, चिरायता, नागर मौथा आदि औषधियों को मिलाकर बनाया गया हैं, जो कोरोना वाइरस से बचाव करता ही हैं, साथ ही सामान्य सर्दी जुखाम में भी लाभ होता हैं। डॉ अनुपमा वर्मा एवं डॉ प्रियंका जैन ने बताया कि 370 रोगियों को कोरोना वाइरस के बचाव हेतु काढ़ा पिलाया गया। जिसमें श्रीमति व्हीव्ही मसीह, रामकली राय, अंजनी राय, चित्रेश गर्ग, दीनदयाल रजक, धर्मेन्द्र, कस्तूरचंद आदि को विशेष सहयोग रहा।
महिलाएं बना रहीं मास्क, जागरुक करेंगी समता सखियां
दमोह। आज सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस के प्रकोप से पीड़ित है, भारत में भी इस वायरस के विस्तार ने चिन्ताएं बढ़ा दीं हैं। कलेक्टर तरूण राठी के निर्देश पर जिले में आजीविका मिशन द्वारा गठित स्वसहायता समूहों द्वारा सुरक्षा मास्क तैयार किए जा रहें हैं और समझाइस के साथ जन समुदाय को उपलब्ध कराए जा रहे हैं। समूहों द्वारा तैयार मास्क सूती कपड़े एवं नान वावेन कपड़े पर तैयार किए जा रहे हैं और स्टर्लाइजिंग मशीन से कीटाणु रहित करके बाजार में उतारे जा रहे हैं। समूह द्वारा तैयार मास्क 10 रु. मात्र की कीमत पर जन समुदाय को उपलब्ध कराए जा रहे हैं जो कि जिला अस्पताल, नगर पालिका एवं जिला पंचायत के सामने आसानी से उपलब्ध हैं। 

जिला परियोजना प्रबंधक आजीविका मिशन ने बताया वायरस के प्रकोप से बचने हेतु दमोह जिला प्रशासन द्वारा समस्त तैयारियां कर लीं हैं। शहर से लेकर गांवों तक वायरस से बचने हेतु लोगों को जागरूक किया जा रहा है और समझाइस दी जा रही है। इस वायरस से बचने मे स्वच्छता की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका है बार- बार हांथ धोना, नाक मुह आदि में बार बार हांथ न लगाना, छींक आने पर हांथ की बांह पर छींक लेना, यदि सार्वजनिक स्थान पर जाना हो या यात्रा करना हो तो सुरक्षा मास्क लगाकर जाना आदि ऐसी सावधानियां हैं जिनके माध्यम से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है। इस संबंध में जिला परियोजना प्रबंधक आजीविका मिशन दमोह श्याम गौतम ने बताया जन समुदाय को कोरोना वायरस सहित अन्य स्वच्छता के विषयों पर जागरुक करने के लिए म.प्र. राज्य आजीविका मिशन द्वारा ‘‘समता सखियों ’’ को भी प्रशिक्षित किया गया है। उक्त समता सखियां गांव गांव जाकर कोरोना वायरस से बचाव और माहवारी के दौरान की स्वच्छता के प्रति किशोरी बालिकाओं एवं महिलाओं को समझाइस देने के साथ साथ सुरक्षा मास्क और सेनेटरी पैड उपलब्ध भी कराएंगी।
नियंत्रण हेतु जिला व अनुविभाग समन्वय समिति गठित
दमोह। कोरोना वायरस (ब्व्टप्क्-19) से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु कलेक्टर तरूण राठी ने जिला स्तरीय समन्वय समिति का गठन किया है। गठित समिति में पुलिस अधीक्षक हेमंत चैहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा, अनुविभागीय अधिकारी दमोह रवीन्द्र चैकसे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थय अधिकारी डॉ. तुलसा ठाकुर, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास प्रदीप राय, उप-संचालक कृषि आर.एस.शर्मा, जिला आयुष अधिकारी  डॉ. इंद्र कुमार कुर्मी, जिला परिवहन अधिकारी आर.डी. दक्ष, जिला शिक्षा अधिकारी पी.पी. सिंह, अधीक्षक रेल्वे स्टेशन दमोह जे.एस. मीणा,जिला आपूर्ति अधिकारी भरत कूप सिंह, सिविल सर्जन डॉ. ममता तिवारी, जेलर जिला जेल दमोह एन.एस. राणा, जिला समन्वयक सर्व शिक्षा अभियान कालीचरण गौतम, परियोजना अधिकारी डूडा एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारी कपिल खरे, कंपनी कमाण्डर होमगार्ड रजनी खटीक शामिल हैं। उन्होने कहा समन्वय समिति की बैठक प्रति सप्ताह सोमवार को समय-सीम (टी.एल.) की बैठक उपरांत अथवा पृथक से आवश्यकतानुसार सूचना दिये जाने पर आयोजित की जायेगी। बैठक में समिति कोरोना वायरस की रोकथाम, नियंत्रण एवं बचाव हेतु किये गये प्रयास एवं आवश्यक सुझाव प्रस्तुत करेगी।
 कलेक्टर तरूण राठी ने कोरोना वायरस (ब्व्टप्क्-19) से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु हटा, तेंदूखेड़ा एवं पथरिया में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) की अध्यक्षता में अनुविभाग स्तरीय समन्वय समिति का गठन किया गया है। गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस), तहसीलदार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, ब्लॉक मेडीकल ऑफीसर, स्वास्थ्यध्आयुष (सदस्य सचिव), परियोजना अधिकारी महिला बाल विकास, अनुविभागीय अधिकारी कृषि, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर पालिका, निरीक्षक, खाद्य विभाग शामिल हैं।उन्होने कहा समिति की बैठक आज आवश्यक रूप से आयोजित करने निर्देशित किया हैं। साथ ही प्रत्येक सोमवार को समिति की बैठक की जायेगी तथा इसके अतिरिक्त समय-समय पर आवश्यकतानुसार समिति की बैठक आयोजित किए जाने के लिए समिति स्वतंत्र रहेगी।   
नोवल कोरोना सबंधी बैठक पथरिया मे सम्पन्न
दमोह। कोरोना वायरस (ब्व्टप्क्-19) से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु आज पथरिया अनुविभागीय अधिकारी भारती देवी मिश्रा की अध्यक्षता में अनुविभागीय स्तरीय समन्वय बैठक आयोजित की गई। बैठक मे उन्होने कोरोना वायरस की रोकथाम, नियंत्रण एवं बचाव हेतु एहतियात बरतने सबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
नोवल कोरोना सबंधी बैठक हटा मे सम्पन्न-
दमोह। कोरोना वायरस (ब्व्टप्क्-19) से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु आज हटा अनुविभागीय अधिकारी राकेश सिंह मरकाम की अध्यक्षता में अनुविभागीय स्तरीय समन्वय बैठक आयोजित की गई। बैठक मे कोरोना वायरस की रोकथाम, नियंत्रण एवं बचाव हेतु एहतियात बरतने सबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
नोवल कोरोना सबंधी बैठक तेंदूखेड़ा मे सम्पन्न
दमोह। कोरोना वायरस (ब्व्टप्क्-19) से संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु आज तेंदूखेड़ा अनुविभागीय अधिकारी गगन बिसेन की अध्यक्षता में अनुविभागीय स्तरीय समन्वय बैठक आयोजित की गई। बैठक मे कोरोना वायरस की रोकथाम, नियंत्रण एवं बचाव हेतु एहतियात बरतने सबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
खण्ड स्तरीय अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण
दमोह। जिले में कोरोना वायरस संक्रमित प्रकरण सामने नही आये हैं। जिला प्रशासन ने आमजनो मे कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु अपनाये जाने वाली सावधानियो के सबंध में जागरूकता हेतु खण्डो स्तसरीय कर्मचारियों को मास्टर प्रशिक्षक के रूप में प्रशिक्षण दिया गया है। इस दौरान डॉ. राकेश राय, जनसंपर्क अधिकारी वाय आर कुरैशी, डब्ल्यू  एचओ प्रतिनिधि डॉ अखिलेश पटैल भी विशेष रूप से मौजूद रहे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तुलसा ठाकुर ने बताया कि कोरोना से बचाव हेतु तीन महत्वपूर्ण सूत्र खुद की सुरक्षा, अपने प्रिय जनों की सुरक्षा, एवं समुदाय की सुरक्षा ।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तुलसा ठाकुर ने बताया साबुन. पानी से बार.बार एवं नियमित रूप से हांथ धोवें। जब साबुन. पानी उपलब्ध नहीं हो तो अल्कोहल युक्त  सैनीटाईजर का उपयोग करें, अपने आंख, नाक एवं मुंह को छूने से बचें। खांसते एवं छींकते व्याक्ति से न्यूनतम एक मीटर की दूरी बनाये। हांथ से संपर्क के स्थान पर नमस्ते अथवा आदाब कर अभिवादन करें। आपके प्रिय जनों की सुरक्षा-अपने हांथ पर खांसते अथवा छींकने से बचें रूमालध्टिश्यू का उपयोग करें अथवा बाजू को मोड कर उसके अंदरूनी सतह से मुह को ढंके। अनावश्यक भ्रमण न करें व भीड-भाड से बचें। यदि आप बीमार है या किसी की देखभाल कर रहें तो मास्क का उपयोग करें ।
आपके समुदाय की सुरक्षा-यदि कोई बीमार है तो चिकित्सकीय का परामर्श दें। यदि किसी को बुखार, खांसी, अथवा सांस की कठिनाई हो तो घर के भीतर रहने की सलाह दें, स्वास्थ्य कर्मियों से संपर्क की समझाईश दें व उनकी सलाह मानने को कहें। बिना सोचे कोई भी मैसेज फारवर्ड न करें। विशेषज्ञों की राय मानें।  जनसंपर्क अधिकारी YA कुरैशी की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments