Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

फिल्मों की तरह आसमान में उड़ते गुब्बारे में बैठकर सफर के नजारें को देख रोमांचित हुए ग्रामीण.. जबेरा के पास आसमान से अचानक जमीन में उतरे विशाल बैलून को.. सेना के जवान अपने साथ जबलपुर ले गए

गुब्बारा देखने उत्सुकतावश ग्रामीणों की लगी भीड़
दमोह।  जबेरा तहसील मुख्यालय से करीब चार किलो मीटर दूर ग्राम झालों-नारायणपुरा के जंगल से लगे खेतों में अचानक किसानों एवं ग्रामीणों को आसमान से एक बड़ा गुब्बारा नीचे उतरते हुए दिखाई दिया। आसमान से गुब्बारा देख पहले तो लोग डरकर  भागने होने लगे। किंतु जैसे ही गुब्बारा आसमान से नीचे जमीन की तरफ पास आया उसमें बैठे लोगों को देखकर लोग गुब्बारे के पास पहुंचे और मदद मागे जाने पर गुब्बारा को पकड़ कर उतारने में सहयोग करने लगे। जैसे ही गुब्बारे के उतरने की खबर आसपास के गांवों में पहुंची। जबेरा सहित अन्य गांवों से भी लोग उत्सुकतावश गुब्बारे को देखने पहुंचने लगे।
ग्राम झालों एवं नारायणपुरा किलोग्राम से करीब आधा किलोमीटर दूर जंगल से गुब्बारे को सुरक्षित खींचकर गांव के पास मैदान में लाया गया, यहां लोगों का  हुजूम इकट्ठा हो गया। लोग उत्सुकतावश बच्चे, महिला, पुरुष ,गुब्बारे को देखने पहुच गए। जब  ग्रामीणों ने गुब्बारे में बैठे लोगों से परिचय पूछा। तो  गुब्बारे में सवार विपिन कुमार, हितेश, अरुणकुमार ने बताया कि वह आर्मी कैंप जबलपुर से आये है एवं यह उनका ट्रेनिंग अभ्यास था। एक निश्चित परिधि में गुब्बारे से वह ट्रेनिंग लेते थे। लेकिन अचानक आज गुब्बारा करीब 8 किलोमीटर आगे आ गया और उसने गैस कम हो गई ।जिससे उन्हें इमरजेंसी में यहां उतरना पड़ा। 
इमरजेंसी में उतरने की सूचना उन्होंने आर्मी कैंप जबलपुर को दी। जहां से मदद के तौर पर आर्मी के दो ट्रक ग्राम झालों पहुंचे। सूबेदार राजेश कुमार ने बताया कि यह उनकी ट्रेनिंग में जबलपुर से सुबह उड़ान भरी थी। कि अचानक वो ट्रेनिंग क्षेत्र से आगे निकल आए। उनकी गैस कम हो गई और उन्हें यहां उतरना पड़ा।उनकी यह लेंडिंग सुरक्षित रही है। यहां उतरकर लोगों का उन्हें काफी सहयोग प्राप्त हुआ। लोगों ने उनका स्वागत किया। उन्हें चाय पिलाई उनसे बातचीत की एवं वहीं सूचना पाकर पुलिस थाना से एस आई एमके सिंह पुलिस स्टाफ के साथ ग्राम झालों पहुंचे। जहां उन्होंने आर्मी अधिकारियों से बातचीत की, उनसे जानकारी एकत्रित की एवं लोगों के हुजूम को दूर कर मदद की। 

इस संबंध में एसआई एमपी सिंह ने बताया कि उन्होंने उन्हें सूचना मिली थी। कि ग्राम झालों जो कि जबेरा से करीब 4 किलोमीटर दूर है कोई गुब्बारा अचानक आकर नीचे उतरा है और  लोगों की भीड़ उसके पास लग रही है ।सूचना पाकर तत्काल पुलिस स्टाफ के साथ ग्राम झालो पहुचे। जहां उन्होंने गुब्बारे में बैठे आर्मी के अधिकारियों से बात की और गुब्बारे में कुल 4 लोग सवार थे।जो सभी आर्मी केम्प जबलपुर से हैं।  जानकारी में आर्मी अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षित उतरने के दौरान ग्रामीणों  ने उनकी काफी मदद की उनका स्वागत कर उन्हें चाय भी पिलाई। वही केम्प से मदद हेतु आये आर्मी के 2 ट्रक से झालो से 12:15 बजे जबलपुर रवाना हुए ।उन्होंने ग्रामीणों को धन्यवाद भी दिया। जबेरा से मयंक जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments