Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

छतरपुर में SDM कार्यालय पर हुए हमले के खुलासे के पहले.. सोशल मीडिया पर चौकाने वाले खुलासे ने एसडीएम समर्थकों की रात की नींद उड़ाई.. सुबह सागर आईजी की मौजदगी में होगा हाई प्रोफाइल मामले का पर्दाफाश.. !

एसडीएम पर हमले के पीछे क्या उनके के ही लोग थे.. !
 छतरपुर । एसडीएम अनिल सपकाले पर बुधवार की सुबह तहसील स्थित उनके ऑफिस में तोड़फोड़ और कथित जानलेवा हमले के पीछे एसडीएम और उनके लोगों की साजिश थी इस बात की चर्चाएं गुरुवार को रात होने के पहले ही गहराती जा रही है। हालांकि इस पूरे मामले का पर्दाफाश शुक्रवार को सागर आईजी की मौजूदगी में एसपी तिलक सिंह करेंगे। लेकिन इसके पहले सोशल मीडिया पर जो चौंकाने वाले खुलासे सामने आ रहे हैं उससे सपकाले के समर्थकों की रात की नींद उड़ चुकी है। तथा वह खुलासे के पहले हाई लेवल पर मामले को रफा-दफा कराने या ठंडे बस्ते में डलवाने एड़ी चोटी का जोर लगाने की कोशिश में जुटे बताए जा रहे हैं।
बुधवार को सुबह हुए उपरोक्त तथाकथित घटनाक्रम के बाद मीडिया में इस हाईप्रोफाइल मामले के उछलते ही एसपी तिलक सिंह ने एडिशनल एसपी जयराज कुबेर के नेतृत्व में 12 सदस्य टीम गठित करके आरोपियों की  पतासाजी और गिरफ्तारी के साथ मामले के पर्दाफाश की जिम्मेदारी सौंपी थी। पुलिस टीम ने 24 घंटे के अंदर ही पूरे घटनाक्रम की जांच करते हुए महत्वपूर्ण सूत्र हासिल करने के साथ ही कड़ियों से कड़ियां जोड़कर इस तथाकथित हमले की साजिश को सुलझा लिया है।
जानकर सूत्रों का कहना है कि एडीशनल एसपी जयराज कुबेर के नेतृत्व में गठित टीम ने इस मामले में सीसीटीव्ही कैमरे के फुटेज हासिल कर संदेह के आधार पर कुछ लोगों से जैसे ही पूछताछ शुरू की पूरे घटनाक्रम की सच्चाई उजागर होते देर नहीं लगी। एसडीएम सपकाले के भी साजिस में शामिल होने की जानकारी सामने आने पर उनसे भी सर्किट हाउस में कड़ी पूछताछ की गई।
  पुलिस ने एक-एक कर सारे आरोपियों को दबोच कर मामला सुलझा लिया है। पुलिस ने उन पांचों हमलावरों को भी दबोच लिया है जो नकाब पहनकर साहब को बजाते हुए तोड़फोड़ की नौटंकी करने पहुंचे थे। इस साजिश को रचने वालो में एक यूनिवर्सिटी के संचालक, एक बीजेपी नेता, एक खबर नवीस और एक रिटायर अधिकारी के शामिल रहने मामले का भांडा फूटने की खबर लगते ही भाजपा नेता के गिरफ्तारी के डर से छतरपुर से भागने के बाद टीकमगढ़ में पकड़े जाने जैसी जानकारी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
 कुल मिलाकर पूरा मामला मामला हाई प्रोफाईल होने के कारण छतरपुर एसपी तिलक सिंह इसका खुलासा करने में फूंक फूंककर कदम रख रहे हैं। वहीं सूत्रों का कहना है कि इस पूरी साजिश लेकर जुटाए गए सबूतों तथा हालात से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है।  शायद यही वजह है कि शुक्रवार को सागर रेंज के आईजी छतरपुर आकर इस पूरे मामले में बयान देंगे। लेकिन इसके पहले आधी रात के बाद की रात और सुबह बाकी है। ऐसे में खुलासे के पहले सपकाले समर्थकों की रात की नींद उड़ी हुई है। 

Post a comment

0 Comments