Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

13 की दुल्हन 16 का दूल्हा.. बाल विवाह रोकने के लिए सागर के अधिकारियों की टीम गढ़ाकोटा तथा पथरिया क्षेत्र में भटकती रही.. आखिरकार घण्टो की समझाइश के बाद देर रात रुक गया झूड़ा गांव में बाल विवाह..

आखिरकार 6 घंटे की मशक्कत के बाद रुका बाल विवाह 
सागर। गढ़ाकोटा तहसील के झूड़ा गांव में बाल विवाह की सु्चना सागर विशेष किशोर पुलिस इकाई CID टीम को मिली तो टीम ने गढ़ाकोटा महिला बाल विकास, चाइल्ड लाइन एवं थाना पुलिस के साथ ग्राम झूड़ा पहुंची। जहां टीम ने बाल विवाह रोककर दोनों परिवार को समझाइश दी। लेकिन इस कार्यवाही में 6 घंटे से अधिक की मशक्कत करना पड़ी तब कहीं देर रात को दोनों परिवार बाल विवाह रोकने को तैयार हुए।
13 साल की दुल्हन और 16 साल के दूल्हे की शादी की सभी तैयारियां हो चुकी थी। इसी दौरान जैसे ही विशेष किशोर पुलिस इकाई CID टीम सागर को सोमवार दोपहर 3:00 बजे इसकी सूचना मिली और अधिकारियों ने आनन-फानन में बाल विवाह रोकने के लिए मौके पर पहुंचकर समझाएं दी। लेकिन परिजन गुमराह करने की कोशिश करते रहे।
 टीम की अधिकारी ज्योति तिवारी ने बताया कि सूचना पर जब टीम ढाना ग्राम में मौके पर पहुंची तो लड़का पक्ष ने टीम को गुमराह किया कि पथरिया में शादी हो रही है। तब टीम ने पथरिया दमोह पुलिस से संपर्क किया तो उनका कहना था कि लड़का पक्ष टीम से झूठ बोल रहे है। ओर शादी गढ़ाकोटा के झूड़ा ग्राम से हो रही है। तो टीम ने लड़का पक्ष को समझाइश दी। उस टाईम बारात रवाना होने वाली थी। 
टीम द्वारा गढ़ाकोटा महिला बाल विकास से जानकारी लेकर साथ ही टीम में महिला बाल विकास,चाइल्डलाइन 1098 एवं थाना पुलिस को लेकर झूड़ा ग्राम पहुंचे। जहां पहुंचते ही टीम को देखकर शादी वाला परिवार छुप गया। लाइटें भी बंद कर दी गई। टीम जब मौके पर पहुंची तो  लड़की की उम्र 13 वर्ष निकली। बड़ी मशक्कत के बाद लड़की के परिवार वालों से बात हुई और समझाइश दी गई कि बच्ची की उम्र बहुत कम है नाबालिग है अगर शादी कर दोगे तो आगे बच्ची की जान को खतरा हो सकता है। कड़ी मेहनत के बाद कामयाबी मिली और शादी रोकने में टीम को सफलता मिली।
 इस मामले में महिला बाल विकास गढ़ाकोटा से सुपरवाइजर राजेश्वरी चौबे ने बताया कि लगभग 8:30 बजे हमारे जिला अधिकारी डीपीओ का फोन आया कि झूड़ा ग्राम में बाल विवाह हो रहा है जहां विशेष किशोर पुलिस इकाई की टीम है में ग्राम पहुंची और दोनों परिवारों के लोगों को समझाइश दी और बाल विवाह रूकवाया।इस कार्यवाही में प्रमुख रूप से विशेष किशोर पुलिस इकाई CID टीम से ज्योति तिवारी, महिला बाल विकास गढ़ाकोटा से सुपरवाइजर राजेश्वरी चौबे, चाइल्डलाइन 1098 से खेमराज पटेल,बर्षा ठाकुर, हवलदार शिवशंकर प्रजापति, थाना गढ़ाकोटा सहायक उपनिरीक्षक गौरव गुप्ता के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद था। गढ़ाकोटा सागर से रवि सोनी की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments