Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जिला अस्पताल की किचन पर खाद्य सुरक्षा प्रशासन विभाग की रेड से हड़कंप.. मरीजों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की जांच.. मूंग की पतली दाल और लौकी की सब्जी की हुई सेंपलिंग..

जिला अस्पताल किचन पर जांच कार्रवाई से हड़कंप-
दमोह। खाद्य सुरक्षा प्रशासन विभाग द्वारा जिला चिकित्सालय के रसोई घर का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान मरीजों को प्रदाय किये जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की जांच की गई। किचिन में तैयार मूंग की दाल एवं लौकी की सब्जी के नमूनें लिए गए। इनको गुणवत्ता परीक्षण हेतु भोपाल स्तिथ राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भेज दिया गया। इस दौरान किचिन परिसर में स्वच्छता रखने के दिशा निर्देश दिए गए।
कलेक्टर तरुण राठी एवं डीओ खाद्य सुरक्षा प्रशासन डॉ आरके बजाज के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा मानक अधि. के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा अधिकारी, राकेश अहिरवाल ने जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों को दिए जा रहे भोजन की गुणवत्ता की जांच हेतु रसोईघर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण कार्यवाही में रसोईघर से तैयार मूँग दाल एवं तैयार लौकी की सब्जी का नमूना जांच हेतु लिया है। रसोईघर के निरीक्षण के दौरान फ़ूड लाइसेंस एवं फ़ूड सेफ्टी डिस्प्ले बोर्ड की प्रति स्पष्ट रूप से प्रदर्शित नहीं पाई गई। कार्यरत कर्मचारियों को हेड कवर,एप्रन एवं हैंड ग्लव्स का उपयोग करते हुए नहीं पाया गया है। कार्यरत कर्मचारियों को मेडिकल फिटनेस प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के लिए रसोईघर केअर टेकर को निर्देश दिए गए हैं। 
रसोईघर में पेस्ट कंट्रोल नियंत्रण का प्रबंधन एवं अपशिष्ट पदार्थों का समुचित निष्पादन व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं। केयरटेकर एवं मुख्य कुक को जिला अस्पताल के मरीजों को केवल गुणवत्तापूर्ण शुद्ध भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही परिसर में स्वच्छ तरीके से भोजन का निर्माण,भंडारण एवं वितरण करने के निर्देश दिए गए हैं। इन तैयार भोजन के नमूनों को जांच हेतु राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भोपाल भेजा गया है। 
यह पहला मौका नहीं है जब जिला अस्पताल की किचन में  गंदगी से लेकर भोजन की गुणवत्ता को लेकर सवाल उठे हो। 19 अक्टूबर को पथरिया विधायक श्रीमती रामबाई ने भी जिला अस्पताल के भ्रमण के दौरान किचन का निरीक्षण करते हुए यहां व्याप्त गंदगी को लेकर जमकर फटकार लगाई थी। इसके बाद भी यहां के हालातों में  सुधार नजर नहीं आया है। 
यही वजह है कि आज खाद्य सुरक्षा प्रशासन की टीम की कार्रवाई के दौरान भी ऐसे ही  हालात देखने को मिले और खाद्य सुरक्षा अधिकारी को सफाई व्यवस्था बनाने के निर्देश देना पड़े । खाद्य सुरक्षा अधिकारी  राकेश अहिरवार का कहना है सेंपलिंग सामग्री की जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर इस संबंध में नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। खाद्य सुरक्षा प्रशासन विभाग दमोह की यह कार्यवाही निरंतर जारी रहेगी।

Post a comment

0 Comments