Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

स्कूटी सवार शिक्षिका को भैंस ने टक्कर मारी, एक पैर फैक्चर हालात गंभीर.. इधर स्कूल में ताला बच्चे सड़क पर..15 महीने से स्कूल भवन का किराया नहीं मिलने पर मालिक ने लगाया ताला.. बच्चों ने सड़क पर प्रार्थना करके पढ़ाई पूरी की..

स्कूटी सवार शिक्षिका को भैंस ने टक्कर मारी, पैर में फैक्चर
दमोह शुक्रवार शाम स्कूल से स्कूटी से घर वापिस जा रही एक शिक्षिका को भैंस द्वारा टक्कर मारकर गिरा देने का घटनाक्रम सामने आया है। जिसके बाद गंभीर हालत में शिक्षिका को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सगौनी स्कूल में पदस्थ शिक्षिका रुचिका ठाकुर 25 वर्ष स्कूल से वापिस घर कुलुवा कुम्हारी लौट रही थी। रास्तें में शाम करीब पांच बजे उनकी स्कूटी तथां भैंस के बीचं आमने सामने की भिडंत हो गई। जिससे रूचिका सड़क पर गिर गई। जिससे उनके दाए पैर में फैक्चर हो गया है। जिला अस्पताल के महिला ट्रामा सेंटर में भर्ती रूचिका का फिलहाल उपचार जारी है।

15 महीने से स्कूल का किराया नहीं मिलने पर लगा ताला 
दमोह। शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए स्कूल भवनों अतिरिक्त कक्षों के निर्माण से लेकर छात्र छात्राओं की सुविधाओं के लिए हर साल करोड़ों का बजट बनता है और राशि खर्च की जाती है। इसके बावजूद आज भी ऐसे स्कूल है जहां स्वयं के भवन नहीं है। यदि भवन हैं तो अतिरिक्त कक्ष नहीं है। और अतिरिक्त कक्ष मंजूर हो गए हैं तो अधूरे पड़े हुए हैं और राशि की अगली क़िस्त का इंतजार कर रहे हैं।
 ऐसे ही कुछ हालातों के बीच दमोह जिले की तेंदूखेड़ा तहसील अंतर्गत भोपाटा का प्राइमरी स्कूल गांव में किराए के भवन मैं लंबे समय से संचालित हो रहा है। 1000 रुपए महीने पर संचालित स्कूल भवन का पिछले 15 महीनों से किराया नहीं मिलने तथा इस मामले में शिक्षा विभाग के ब्लॉक स्तर के अधिकारियों को अवगत कराए जाने के बाद भी किराया भुगतान नहीं होने पर आखिरकार परेशान होकर भवन मालिक ने कमरे में ताला लगा दिया। 

जिसके बाद बच्चों को स्कूल के बाहर सड़क पर खड़े होकर प्रार्थना करने के बाद में जमीन पर बैठकर पढ़ाई पूरी की। जिसकी फोटो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने और मामला मीडिया के संज्ञान में आने के बाद जिला शिक्षा अधिकारी तक पहुंचा जिसके बाद गांव के सरपंच को इस बात के लिए तैयार किया गया है, जब तक स्कूल का अतिरिक्त कक्ष बनकर तैयार नहीं हो जाता तब तक वह भवन मालिक को एक हजार रुपया महीना बतौर किराया अदा करेगा। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments