Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

पत्रकारों के ज्ञापन के बाद कलेक्टर के निर्देश पर नपाधिकारी ने दुकानों की निविदा प्रक्रिया को आगे बढ़ाया.. मीडिया कर्मियों ने कलेक्टर तरूण राठी का आभार जताते हुए दुकानों की दर कम कराने सहित अन्य बिंदुओं पर राहत की अपेक्षा की..

पत्रकारों के ज्ञापन के बाद दुकानों की निविदा प्रक्रिया बढ़ी
दमोह  नगरपालिका द्वारा पत्रकारों के लिए आफिस हेतु दुकान आवंटन निविदा में व्याप्त विसंगतियों को लेकर कलेक्टर महोदय को पत्रकारों द्वारा सौंपे गए ज्ञापन के बाद श्री राठी ने नगरपालिका अधिकारी कपिल खरे को दिए गए निर्देशों के बाद निविदा प्रक्रिया को आंगे बढ़ा दिया गया है।  जिसके लिए कलेक्टर श्री तरूण राठी जी एवं जनसंर्पक अधिकारी वायए कुरैशी का पत्रकार साथियों ने ह्रद्रय से आभार जताया है। 
दरअसल दमोह नगरपालिका द्वारा नगर के मानस भवन के समीप कैदो की तलैया पर निर्मित मार्केट के पिछले हिस्सें में प्रथम तल पर प्रस्तावित करीब पचास दुकानों को पांच साल की किराएदारी पर वरिष्ठ एवं अधिमान्य पत्रकारों को न्यूनतम दर पर दिए जाने का निर्णय लिया था। लेकिन जब इन प्रस्तावित दुकानों की निविदा प्रकिया की सूचना समाचार पत्रों में जारी की गई तो अधिकांश मीडियाकर्मियों के होश उड़ गए। क्यों कि पत्रकारों के लिए आरक्षण का हवाला दिए जाने के बाद भी इनकी राशि चार लाख रूपए निर्धारित की गई थी। वहीं दो लाख रूपए अमानत राशि के तौर पर निविदा पत्र के साथ जमा कराने कहां गया था। मामले में माननीय केंद्रीय मंत्री और सासंद प्रहलाद पटेल का ध्यान आकर्षित कराए जाने पर सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी द्वारा पत्रकारों के साथ नपाध्यक्ष श्रीमति मालती असाटी एवं सीएमओ कपिल खरे से चर्चा की गई। जिसके बाद निविदा के साथ अमानत राशि तो दो लाख से घटाकर एक लाख रूपए कर दी गई। परंतु धरोहर राशि चार लाख को कम नहीं किया गया। 
जिसके बाद सोमवार को पत्रकारों ने कलेक्टर श्री तरूण राठी से मुलाकात करके निविदा प्रक्रिया में व्याप्त विंसंगति की ओर ध्यान आकर्षित कराने एक ज्ञापन सौंपते हुए पत्रकारों के आर्थिक हालात से अवगत कराया। दमोह  नगरपालिका द्वारा पत्रकारों के लिए आफिस हेतु दुकान आवंटन निविदा में व्याप्त विसंगतियों को लेकर कलेक्टर महोदय को पत्रकारों द्वारा सौंपे गए ज्ञापन के बाद श्री राठी ने नगरपालिका अधिकारी कपिल खरे को दिए गए निर्देशों के बाद निविदा प्रक्रिया को आंगे बढ़ा दिया गया है।  जिसके लिए कलेक्टर श्री तरूण राठी जी एवं जनसंर्पक अधिकारी वायए कुरैशी का पत्रकार साथियों ने ह्रद्रय से आभार जताया है। 

इस मामले में पत्रकार गण चाहते है कि कैदो की तलैया की प्रथम तल की पांच साल की किराएदारी वाली दुकानों की अमानत राशि 4 लाख से घटा कर दो लाख रूपए की जाए। बोली प्रक्रिया के बजाए पात्र पत्रकारों को लाटरी सिस्टम से दुकान आवंटन किया जाए। शहरी क्षेत्र के निवासी होने की पावंदी हटाकर जिले के निवासी पत्रकारों को पात्रता प्रदान की जाए। पत्रकारों के लिए आरक्षण हो जाने के बाद अन्य आरक्षण से मुक्त रखा जावे। माननीय कलेक्टर महोदय, नगरपालिका अध्यक्ष जी एवं नपाधिकारी से अपेक्षा करते है कि उपरोक्त बिंदुओं पर विचार करते हुए पत्रकारों के हितों तथा हालात को ध्यान में रखकर जरूर राहत प्रदान करेंगे।
नपा ने फार्म प्राप्त करने एवं जमा करने की तिथि बढ़ाई-
त्रकारों के ज्ञापन के बाद नपाधिकारी द्वारा जारी की गई संशोधित सूचना के अनुसार अब कैदों की तलैया की बी ब्लाक की प्रथम तल की दुकाने पत्रकारो को किराएदारी पर आवंटित किए जाने की पूर्व में जारी विज्ञप्ती को संशोधित किया गया है। पूर्व में इन दुकानों के निविदा फार्म प्राप्त करने की तिथि 18 नवम्बर थी। जिसे बढ़ाकर 2 दिसंबर कर दिया गया है। वहीं निविदा फार्म जमा करने की तारीख 20 नवम्बर से बढ़ाकर 5 दिसंबर कर दी गई है। जबकि निविदा फार्म खोेले जाने की ंतिथी 9 दिसंबर तय की गई है। नगरपालिका द्वारा निविदा तिथि आगे बढ़ाने का पत्रकारों ने स्वागत करते हुए धरोहर राशि को 4 लाख से घटाकर दो लाख करने सहित अन्य बिंदुओं का भी निराकरण करने की अपेक्षा की है।

Post a comment

0 Comments