Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

शरद पूर्णिमा पर दूषित मावे से बने लड्डू खाने से यादव परिवार के बच्चो, महिलाओ सहित आधा दर्जन की हालत बिगड़ी.. देर रात लखनपुर से जिला अस्पताल में भर्ती..

 दूषित मावे से बने लड्डू खाने से आधा दर्जन बीमार-
दमोह। शरद पूर्णिमा के मौके पर एक बार फिर दूषित मावे से बने लड्डू के सेवन करने से कुछ लोगों के उल्टी दस्त के शिकार होकर हालात बिगड़ने का घटनाक्रम सामने आया है। जिला मुख्यालय से करीब 15 किमी दूर लखनपुर गांव में यादव परिवार के लोग शरद पूर्णिमा पूजन के बाद लड्डू चखने के साथ ही उल्टी-दस्त के शिकार हो गए। बाद में देर रात सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनका इलाज जारी है।
लखनपुर में निवासी सुदामा यादव ने बताया कि शरद पूर्णिमा के मौके पर पूजन हेतु लड्डू तैयार कराने के लिए उन्होंने आज ही अभाना के बसंत नेमा की दुकान से 350 रुपये किलो का अच्छा वाला खोवा खरीदा था। जिसकी लड्डू पूजन के लिए बनाए गए थे पूजा के बाद उनको छोड़ कर परिवार के सभी सदस्यों ने लड्डू का सेवन किया था।
 जिसके बाद एक-एक करके सभी की हालत बिगड़ने लगी। जिला अस्पताल में भर्ती कराए गए बच्चों में सुदामा का 9 वर्षीय बेटा संजय तथा 7 वर्षीय पुत्र दीपक के अलावा कविता पति कमलेश यादव 30 वर्ष, गिरजा पति पंचम यादव 75 वर्ष शामिल है। इन सभी का जिला अस्पताल में भर्ती करके इलाज किया जा रहा है।
प्रशासन द्वारा शरद पूर्णिमा के पूर्व दूषित मावा की सेंपलिंग कराने के लिए खाद्य सुरक्षा दल से शहर के अनेक स्थानों में कार्यवाही कराई गई थी इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में धड़ल्ले से दूषित मावा की बिक्री होना कहीं ना कहीं गंभीर चूक कहा जा सकता हैअजित सिंह राजपूत की रिपोर्ट 

Post a comment

0 Comments