Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

अमर शहीद राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह बलिदान दिवस पर.. सिंग्रामपुर में हुए कार्यक्रमों में केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और मप्र के मंत्री ओमकार मरकाम ने श्रद्धा सुमन अर्पित किए.. केंद्रीय मंत्री पटेल सेवा सप्ताह कार्यक्रमों में शामिल हुए..

सिंग्रामपुर में आयोजित कार्यक्रमों में श्रद्धासुमन अर्पित
दमोह। अमर शहीद राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर प्रदेश में उनका पुण्य स्मरण करते हुए उनके बलिदान को नमन किया गया। इस मौके पर दमोह जबलपुर मार्ग पर स्थित सिंग्रामपुर में आयोजित कार्यक्रमों में राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह को याद करते हुए सभी राजनीतिक दलों तथा सर्व समाज के प्रतिनिधियों ने सुमन अर्पित किए। इन दो अलग अलग कार्यक्रमों में केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और मप्र के आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार मरकाम भी शामिल हुए तथा उन्होंने अपनी विम्रम श्रद्धांजलि अर्पित की।    
                                                     
 सिंग्रामपुर में अमर शहीद राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह बलिदान दिवस के अवसर पर आयोजित गरिमामय कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद पटैल ने  कहा कि नव-जवान पीड़ी से कहुंगा कि वे सब जबलपुर अपने विभिन्न कामों से जाते हैं, कभी आप इन शहीदों के स्थल पर जायें, जहां पिता-पुत्र को अंग्रेजी हुकुमत ने तौप से उड़ाया था, इस बारे में कल्पना करें। यह स्थान जबलपुर के एलगिन अस्पताल के समीप है। 
उन्होंने कहा आज से लगभग डेढ़ सौ वर्ष पूर्व जब इतने साधन नहीं थे, उस समय अंग्रेज साम्राज्य को चुनौती देना हमारे पूर्वजों के अदम्य साहस को दर्शाता है। श्री पटैल ने कहा हमें पूर्वजों की चिंता करनी चाहिए, यदि नहीं करेंगे तो हमें भी आने वाले समय में ना जाना जायेगा ना ही पहचाना जायेगा। उन्होंने कहा इस तरह के जन्म दिवस और बलिदान दिवस के आयोजनों में हम बुजुर्गो को यहां बुलाएं और इन वीरों के बारे में बोलने कहें। हमें अपने पूर्वजों के बारे में जानने को मिलेगा। 
श्री पटैल ने आदिवासियों की संस्कृति और परम्पराओं पर आपनी बात विस्तार से रखी। यह भी कहा कि हम अच्छी बातों को स्वीकारें। केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद पटैल ने समाज के लोगों से नशे को त्यागने का आव्हान किया। उन्होंने कहा भगवान हमें पूर्वजों की तरह सामर्थ्य दें। श्री  पटैल ने इस अवसर पर अपनी बात आगे बढ़ाते हुए पुनरू महापुरूषों के चरणों पर नमन् किया।
उन्होंने वीरागंना रानीदुर्गावती के जनम दिवस 05 अक्टूबर को यहां आयोजित होने वाले कार्यक्रम के संबंध में जानकारी विस्तार से देते हुए कहा कि संस्कृति विभाग द्वारा तीन दिवसीय आयोजन किया जायेगा। उन्होंने कहा क्षेत्रीय कलाकारों का इस आयोजन में स्वागत है। मातृ शक्ति से भी सहभागिता का आग्रह किया। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।
इस अवसर पर विधायक धमेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व मंत्री दशरथ सिंह, पूर्व विधायक सोना बाई, सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी, मोन्टी रैकवार, अनुपम सोनी, श्यामा उरैती, ऋषि लोधी राघवेन्द्र भैया, रूपेश सेन,  जन प्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि, समाज के गणमान्य और वरिष्ठजन तथा बड़ी संख्या ग्राम और आसपास के क्षेत्रों और अन्य जिलों से बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।
 बलिदान दिवस के कार्यक्रम में शामिल हुए मंत्री श्री मरकाम
दमोह। अमर शहीद राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह बलिदान दिवस के अवसर पर आदिम जाति कल्याण विभाग तथा घुमक्कड़ अर्ध घुमक्कड़ एवं विमुक्त जनजाति कल्याण विभाग के मंत्री ओमकार सिंह मरकाम आज दमोह जिले के सिग्रामपुर पहुंचे। उन्होने यहां शंकर शाह और रघुनाथ शाह जी के बलिदान दिवस पर यहां आयोजित भव्य कार्यक्रम में शामिल हुए।
 उन्होंने इस गरिमामय कार्यक्रम में कहा झाबुआ, रतलाम, बड़वानी, होशंगाबाद तथा बैतूल जिले के हमारे आदिवासी भाई एवं प्रतिनिधी भी शामिल होगें। श्री मरकाम ने कहा भव्यवता के साथ प्ररेणा स्थल पर हम इन बलिदानियों का स्मरण करेगे। उन्होंने उपस्थित समाज के लोगों से अनुरोध  किया कि आप सभी मुस्तेदी के साथ खड़े हो जायें,  सरकार आपके साथ समग्र विकास के लिए खड़ी है।
आदिम जाति कल्याण मंत्री श्री मरकाम ने कहा नशा से दूर रहना चाहिए, इससे हमारा और समाज का विकास अवरूद्ध होता है। उन्होंने कहा निर्णय आप सबको करना है। श्री मरकाम ने कहा हमारा समाज शिक्षित हो, प्रगति के रास्ते पर हम आगे बढे, कमलनाथ सरकार आपके साथ है। उन्होंने सरकार द्वारा आदिवासियों के हित में लिए गये निर्णयों पर विस्तार से बात रखी। इस अवसर पर विधायक जबेरा धमेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व विधायक जबेरा प्रताप सिंह, ऋषि लोधी राघवेंद्र भैया अन्य जनप्रतिनिधियों और समाज के वरिष्ठजनों की मौजूदगी रही।
केंद्रीय मंत्री पटेल सेवा सप्ताह कार्यक्रमों में शामिल हुए
दमोह। प्रधानमंत्री जी का जन्मदिन पूरे देश में सेवा सप्ताह के रूप मे मनाया जा रहा है, इसी के तहत आज केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद पटैल स्थानीय तहसील ग्राउण्ड में स्थित मूक बधिर विद्यालय पहुँचे । यहां उन्होने कहा मूक बधिर बच्चों की जो जरूरते है, एक छोटी सी कोशिश है, उनको पूरा किया जायें, प्रधानमंत्री जी के जन्मदिन पर ये भी तय हुआ मूक बधिर बच्चो, स्वास्थ्य केन्दों, वृद्धा आश्रम या अन्य जगहों पर हम जायेगें और उनकी जरूरतों को हम पूरा करने की कोशिश करेंगे। यहां उनका स्वागत मूक बधिर बच्चों ने गीत गाकर किया।
 श्री प्रहलाद पटेल ने यहां बच्चों के साथ केक काटकर प्रधानमंत्री जी का जन्मदिन मनाया, साथ ही बच्चों को उपहार स्वरूप बैग भी दियें। इस अवसर पर विधायक हटा पी एल तंतवाए, भाजपा अध्यक्ष देव नारायण श्रीवास्तव, सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी, अनुपम सोनी, रमन खत्री, मोन्टी रैकवार मौजूद रहे।

इसी कड़ी मे आज शाम को केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद पटैल वृद्धाश्रम भी गये यहां उन्होने सभी का हालचाल भी जाना साथ ही सभी बुर्जगों को साल ओढ़ाकर सम्मान किया। 
जबेरा में स्वास्थ्य केन्द्र में फल- कम्बल वितरित किये
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मरीजों को फल और कम्बल वितरित किये साथ ही यहां पर वरिष्ठजनों और बुजुर्गो का शाल ओढाकर सम्मान कर पैर छुये और आर्शीवाद लिया
 उन्होंने कहा यशस्वी प्रधानमंत्री जी ने अपने जीवन के 69 वर्ष पूरे किये है। श्री  पटैल ने कहा पार्टी और सरकार ने तय किया है कि प्रधानमंत्री जी के जन्म दिवस को सेवा सप्ताह के रूप में सादगी से मनाया जायें। मैंने यहां के साथियों से चर्चा कर निर्णय लिया, आज यहां बुजुर्गो के बीच अपने को पाकर उनका यहां मुझे आशीर्वाद भी मिला। उन्होंने कहा बुजुर्गो के आशीर्वाद से हमें काम करने की प्रेरणा भी मिलती है। इनके अनुभव से बड़ी कोई पूंजी नहीं है। श्री पटैल ने कहा हमें जो सामाजिक जिम्मेदारियों और जवाबदारियां मिली है, उन्हें पूरा करना चाहिए। उन्होंने कहा इस अस्पताल के लिए डॉ. राय साहब ने जो बातें कही है, उनको प्राथमिकता से करने का प्रयास किया जायेगा।
इस अवसर पर विधायक धमेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व मंत्री दशरथ सिंह, पूर्व विधायक सोना बाई, सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी एवं रूपेश सेन, मोन्टी रैकवार, अनुपम सोनी, श्यामा उरैती, ऋषि लोधी राघवेन्द्र भैया, सम्मानीय जनप्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि, समाज के गणमान्य और वरिष्ठ नागरिक तथा बड़ी संख्या ग्राम के बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Post a comment

0 Comments