Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

नगरपालिका में तालाबन्दी से मचा हड़कंप.. त्यौहार के पहले वेतन नहीं मिलने पर कर्मचारियों गुस्सा फूटा.. पालिका प्रतिनिधियों कि चला चली की बेला में पूरे शहर में अराजक हालात..

त्यौहार पर वेतन नहीं मिलने पर कर्मचारियों गुस्सा फूटा-
दमोह। वर्तमान परिषद के प्रतिनिधियों की चला चली की बेला में चल रही दमोह नगर पालिका की परिषद इन दिनों अपने और अपनों के हितों को साधने में जुटी नजर आ रही है। नतीजन जनहित से लेकर कर्मचारियों के हित भी प्रभावित हो रहे हैं। यहा तक कि राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त और रक्षाबंधन जैसे पर्व के मौके पर भी कर्मचारियों के खाते में जुलाई माह का वेतन जमा नहीं हो सका है।
 हालात से हलाकान नगर पालिका के विभिन्न कर्मचारी संगठनों ने मंगलवार को नपा के विभिन्न कार्यालयों के ताले ही नही खुलने दिए। जिससे 11 बजने के बाद भी तालाबंदी के हालात बने रहे। इस बीच नपा के विभिन्न कर्मचारी संगठनों ने अपनी 16 सूत्रीय मांगों के बैनर भी टांगकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जिससे हड़कंप के हालात बनते देर नहीं लगी। जानकारी लगने पर नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, सीएमओ कपिल खरे और नेता प्रतिपक्ष राज किशोर चौहान पालिका परिसर में पहुंचे
 जहां नपा कर्मचारी संघ के अध्यक्ष भागीरथ शर्मा व अन्य नेताओं के साथ इनकी देर तक चर्चा होती रही। नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी का कहना था लगातार तीन दिन अवकाश होने की वजह से कर्मचारियों के खाते में वेतन ट्रांसफर नहीं हो पाया है। जो जल्द से जल्द हो जाएगा। वहीं कर्मचारियों की अन्य मांगों को लेकर भी आश्वासन देती नजर आई।
शहर को भूल अपनी चिंता में जुटे पालिका प्रतिनिधि-
बारिश के दिनों में शहर में किस तरह के बदतर हालात में आम नागरिकों को रहना पड़ रहा है इसकी चिंता नगर पालिका प्रशासन को बिल्कुल भी नहीं है। करोड़ों की लागत से नया फिल्टर प्लांट बन जाने के बाद भी गंदा मटमैला दूषित पानी नलों से सप्लाई किया जा रहा है। लाखो रुपया सीसी रोड के निर्माण पर खर्च हो जाने के बाद भी कीचड़, दलदल, गड्ढे भरे हालातों से वार्ड वासियो को आवागमन करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा हैं। स्वच्छता मिशन के नाम पर शौचालय निर्माण पर लाखों की राशि खर्च हो जाने के बाद भी शौचालय उपयोग हीन बने हुए हैं। सफाई के नाम पर  हर महीने  लाखों का भुगतान होने के बाद भी  जगह-जगह कूड़े करकट हो गंदगी के ढेर  देखे जा सकते हैं। अवैध कब्जा, निर्माण, दुकानों के ऊपर दुकानों के निर्माण जैसी स्थिति को लेकर पूरे शहर में अराजक माहौल बना हुआ है। इनके एवज में लाखों रुपए की वसूली करके महज हजारों की राशि नगर पालिका के खजाने में खानापूर्ति के नाम पर जमा की जा रही है। 
नगर पालिका की अनेक दुकानों के गलियारों से लेकर सीडी वाले रास्तों को भी बेचने की तैयारी की जा चुकी है। वही अनेक पालिका प्रतिनिधियों के परिजनों को पिछले दरवाजे से दुकानों का आवंटन अवैधानिक तरीके से हो  चुका है। नाला नाली फुटपाथ सहित अन्य निर्माण कार्य घटिया क्वालिटी के होने के बावजूद ठेकेदारों को कोई रोकने टोकने वाला नहीं है। चारों तरफ कमीशन बाजी के शोर में नक्कारखाने में तूती जैसे हालत छिपे नही है। 
कांग्रेस नेताओ द्वारा किए जाने वाले आंदोलन प्रदर्शन ज्ञापन भी महज अपने अपनो के काम कराने हेतु दबाव बताया जा रहा है। इन सब हालातों के बीच चौथे स्तंभ होने का दंभ भरने वालो की भूमिका पर भी उंगली उठाने से लोग नही चूक रहे है। त्योहारों के बाद शहर के वार्ड वार्ड, गली गली के हालातों को रूबरू कराने के लिए  आपके मोहल्ले में पहुंचेगी अटल News24 की टीम। आपके आसपास जो भी घटिया कार्य, निर्माण अवैध निर्माण और खाऊ खोरी के हालात निर्मित हुए हैं उनकी सूची, फोटो जानकारी वीडियो आदि अपडेट पहले से करके रखना नहीं भूले। याद रखें जल्द आपके बीच होगी हमारी टीम और जनता के बीच होगी आप की खबर। अटल राजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments