Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जनसुनवाई में 78 आवेदनों पर सुनवाई.. तीन सचिवों की वेतन वृद्धि रूकी.. एक पंचायत सचिव निलंबित.. नरसिंहगढ़ कांड में फरार आरोपी पर 10 हजार का ईनाम घोषित..

जनसुनवाई 5 मामले समय-सीमा बैठक में रखे गये
दमोह। आम नागरिकों की समस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु जनसुनवाई प्रत्येक मंगलवार को निरंतर जारी है, इसी क्रम में आज कलेक्टर तरूण राठी ने नागरिकों की बुनियादी समस्याओं को समक्ष में सुना और इन नागरिकों की समस्याओं को समय-सीमा में निराकृत करने निर्देश दिये। इस मौके पर 78 प्राप्त आवेदन पर सुनवाई की गई। जनसुनवाई में सीईओ जिला पंचायत गिरीश मिश्रा, एसडीएम रविन्द्र चौकसे, संयुक्त कलेक्टर नारायण सिंह ने भी सहभागिता निभाई। 
 जनसुनवाई में तहसील दमोह की ग्राम पंचायत बम्होरी निवासी बलराम प्रसाद कुर्मी ने गरीबी रेखा का राशन कार्ड बनवाने, तहसील पटेरा की ग्राम पंचायत छेवला दुबे की तुलसारानी ने पति की सड़क एक्सीडेन्ट में मृत्यु होने पर परिवार सहायता राशि नहीं मिलने तथा तहसील तेन्दूखेड़ा साकिन खमरिया कलॉ निवासी निर्मला यादब ने पति के स्वर्गवास होने पर संबल योजना का लाभ दिलाने के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किये जिन्हें कलेक्टर श्री राठी ने समय-सीमा बैठक में रखने के साथ संबंधित अधिकारी को निराकरण करने निर्देश दिये। पथरिया थाना अंतर्गत ग्राम सूखा निवासी एक वृद्ध आवेदक ने अपने पुत्र के विरूद्ध कार्यवाही करने आवेदन प्रस्तुत किया है, जिस पर कलेक्टर श्री राठी ने एसडीएम को भरण पोषण का मामला दर्ज करने निर्देशित किया है। हिरदेपुर के निवासियों की ग्राम में पानी भरने संबंधी शिकायत पर इंजीनियर से जाँच कराने निर्देश दिये।

तहसील पथरिया के ग्राम नरसिंहगढ़ निवासी मकुंदी यादव ने अपनी पत्नी के इलाज हेतु मुख्यमंत्री सहायता कोष, स्वेच्छानुदान मद से उपचार हेतु आर्थिक सहायता प्राप्त करने, बिलवारी मुहल्ला निवासी पारस शर्मा ने अनुकंपा नियुक्ति के लिये, तहसील दमोह के ग्राम टौरी निवासी बजीबाई लोधी ने गरीबी रेखा का राशन कार्ड बनवाने तथा ग्राम रियाना पोस्ट जुझार निवासी सरदार सींग ने मकान के पास शौच व गंदगी फैलाने वाले लोगों पर कार्यवाही करने अलग-अलग आवेदन प्रस्तुत किये है। कलेक्टर श्री राठी ने जनसुनवाई में आये आवेदनों का त्वरित गति से समय-सीमा में निराकरण करने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है। इस मौके पर विभिन्न विभागों के अधिकारीगण मौजूद थे। उल्लेखनीय है जनसुनवाई में आवेदकों को बैठने, निःशक्तजनों को ट्राईसिकल और बारी-बारी से सुनवाई के लिये साऊण्ड व्यवस्था के साथ-साथ अन्य व्यवस्थाओं के लिये महिला एवं पुरूष कर्मचारियों को भी तैनात किया गया है।

तीन सचिवों की एक-एक वेतनवृद्धि रूकी-जिले की जनपद पंचायत तेन्दूखेड़ा की ग्राम पंचायत धनेटा माल सचिव मुकंद सिंह एवं ग्राम पंचायत ससनाकला के सचिव लीलाधर यादव द्वारा प्रस्तुत जवाब संतोषजनक नहीं होने एवं ग्राम पंचायत तारादेही के सचिव इमरत सिंह अनुपस्थित होने के आरोप में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा ने संबंधितों की एक-एक वेतनवृद्धि असंचयी प्रभाव से रोकी जाकर भविष्य के लिये सेचत किया है। उल्लेखनीय है गत दिवस भ्रमण के दौरान ग्राम पंचायत तारादेही, धनेटामाल एवं ससनाकला कार्यालय बंद पाये जाने एवं संबंधित ग्राम पंचायत सचिव पंचायत मुख्यालय से अनुपस्थित पाये जाने के कारण संबंधित सचिवों को नोटिस जारी कर समक्ष में लिखित अभ्यावेदन, जवाब सप्रमाण चाहा गया था, जिनमें सचिव ग्राम पंचायत धनेटा माल एवं ग्राम पंचायत ससनांकला द्वारा समक्ष में उपस्थित होकर जवाब प्रस्तुत किया गया था।
ग्राम पंचायत बांसनी सचिव निलंबित-जिले की जनपद पंचायत दमोह की ग्राम पंचायत बांसनी सचिव द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत गलत सर्वे सूची तैयार करने एवं पात्र हितग्राहियों को सर्वे सूची में नहीं लिये जाने के आरोप में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा ने जाँचकत्र्ता अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन के आधार पर पवन गर्ग को तत्काल सचिव पद से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में सचिव ग्राम पंचायत बांसनी का मुख्यालय कार्यालय जनपद पंचायत दमोह होगा एवं नियमानुसार निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।
फरार आरोपी पर 10 हजार का ईनाम घोषित-

दमोह। एसपी विवेक सिंह ने एक फरार आरोपी पर 10 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया है। अपराध क्रमांक 391/19 धारा 450 ,307,302 ताहि के तहत थाना दमोह देहात अंतर्गत ग्राम नरसिंहगढ़ निवासी आरोपी मोनू ऊर्फ सचिव पिता महेन्द्र पाराशर उम्र 30 साल फरार है। उन्होंने प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत हुये फरार आरोपी पर दस हजार रूपये का ईनाम घोषित किया है। जो कोई व्यक्ति विधि संगत शक्तियों का प्रयोग कर आरोपी को गिरफ्तार करेगा, करवायेगा या ऐसी सूचना देगा जिसके आधार पर उसकी गिरफ्तारी संभव हो सके, ऐसे सूचनाकत्र्ता को पुरूस्कार की राशि से पुरूष्कृत किया जायेगा। पुरूस्कार वितरण के संबंध में पुलिस अधीक्षक का निर्णय अंतिम एवं सर्वमान्य होगा।

Post a comment

0 Comments