Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

नामचीन कंपनियों से मिलती जुलती नकली सामग्री बनाने के मामले में दमोह ने कटनी को पीछे छोड़ा.. ! संतराम जर्दा से मिलते जुलते नाम की फैक्ट्री का पुलिस ने किया भंडाफोड़..

संतराम जर्दा से मिलते नाम की फैक्ट्री का भंडाफोड़
दमोह। नकली सामग्री निर्माण के मामले में दमोह ने कटनी को पीछे छोड़ दिया है। नामचीन कंपनियों के मिलते जुलते नाम से साबुन, टूथपेस्ट, गोली बिस्कुट, ब्रेड, हल्दी, मिर्च, मसाले, नमकीन जैसे खाद्य सामग्री का निर्माण व पैकिंग दमोह के एक क्षेत्र विशेष में होने के हालात किसी से छिपे नहीं है। ताजा मामला संतराम कंपनी के जर्दे से मिलते जुलते नाम की कंपनी संचालित किए जाने का सामने आया है। 
 पुलिस ने कटनी के संतराम जर्दा कंपनी के संचालक सुशांत पटेल की रिपोर्ट पर दमोह के सिंधी कैंप इलाके से संतराग नाम से संचालित जर्दा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। इसके संचालक बबलू और शंकर कुकरेजा को गिरफ्तार करके फैक्ट्री में उपयोग की जाने वाली मशीन नकली पाउच पैकिंग सामग्री को जप्त किया है। 

मजे की बात यह है कि बबलू कुकरेजा अपने नकली गुटखा पाउच पर संतराम कंपनी के संचालक की फोटो की तरह अपनी फोटो लगाकर जर्दा खाने वालों की आंखों में धूल झोंक रहा था। पुलिस के कुछ पुराने लोगो को इसके डुप्लीकेट जर्दे के कारोबार के बारे में पहले से पता भी था। लेकिन सेटिंग के चलते सब कुछ चल रहा था। यदि कटनी से संतराम कंपनी के संचालक ने टीआई आरके गौतम के समक्ष पहुंचकर मामले की शिकायत नहीं की होती तो शायद नकली जर्दे की फैक्ट्री का खुलासा भी नहीं होता।
। इस उल्लेखनीय खुलासे के लिए कोतवाली टीआई आरके गौतम तथा उनकी टीम बधाई की पात्र है। वहीं जनापेक्षा की जा रही है कि अन्य नकली सामग्री के निर्माण फैक्टरी का भी पुलिस जल्द तहकीकात करके खुलासा करेगी। जिससे लोगो के स्वास्थ्य और सेहत से खिलवाड़ करने वाजे नक्कारों के कारनामों पर अंकुश लग सकेगा। गौरतलब है कि शहर के सिंधी कैंप क्षेत्र में ही कुछ घरों मे चर्चित कंपनियों से मिलते जुलते नाम के नमकीन, कुरकुरे, गोली, बिस्कुट, मसाले जैसे खाद्य सामग्री के निर्माण की जानकारियां सामने आती रही है। लेकिन इन पर कभी कोई सख्त कार्यवाही नहीं होना कहीं ना कहीं संबंधित विभाग और अधिकारियों से इनकी मिलीभगत की ओर इशारा करती हैअभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments