Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सागर लोकायुक्त का पन्ना शिक्षा विभाग में अटैच बाबू के घर छापा.. शिक्षक से 10 हजार की रिश्वत लेते हुए.. रंगे हाथों पकड़ा गया भ्रष्ट सहायक शिक्षक..

10 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया बाबू-
पन्ना। सागर लोकायुक्त की टीम ने डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में पन्ना शिक्षा विभाग के भ्रष्ट बाबू को उसके ही घर पर एक शिक्षक से 10000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। शिक्षा प्रकोष्ठ में अटैच भ्रष्ट बाबू रामशंकर रैकवार वास्तव में सहायक शिक्षक है। लेकिन ले देकर विभाग में अटैच होने के बाद जिस तरह से रिश्वतखोरी की सांप सीढ़ी चढ़ रहा था, उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कहीं ना कहीं रिश्वत के इस खेल का हिस्सा ऊपर तक भी पहुंचा रहा होगा।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह पन्ना पहुंची लोकायुक्त टीम ने शिक्षा प्रकोष्ठ शाखा में अटैच बाबू रामशंकर रैकवार को सलेहा में पदस्थ शिक्षक अरविंद दुबे से 10000 रु की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। अरविंद ने बताया कि उसे 2014 से परेशान किया जा रहा है। रिजल्ट कम आने से पदस्थापना बदल दी गई, आसंचई वेतन वृद्धि बन्द कर दी गई। आवेदन के बाद वेतन वृद्धि और लोहार गांव से सलेहा पदस्थापना की बात कही गई। जिसके एवज में 20000 रु मांगे गए थे। 10 हजार रुपए वह पहले दे चुका था। जिसके बाद उसने रिश्वतखोर बाबू को रंगे हाथों पकड़वा दिया। 

बताया जा रहा है कि उच्चाधिकारियों को रुपए देने के नाम पर शिक्षकों से वेतन वृद्धि स्थानांतरण के नाम पर लगातार रिश्वत की मांग की जाती रही है। जिसकी शिकायत पूर्व में किए जाने के बाद भी कार्यवाही नहीं की गई। इसके कुछ दिन पूर्व ही शिक्षक रवि डनायक ने भी शिक्षा विभाग के एक बाबू को 3000 रु की रिश्वत मामले में रंगे हाथों पकड़ वाया था। 
इसके बाद भी विभाग में पदस्थ श्री बाबू भ्रष्टाचार करने से नहीं चूके तथा आज एक और मछली सागर लोकायुक्त के डीएसपी राजेश खेड़े की टीम के जाल में फंस गई। पन्ना से गणेश विश्वकर्मा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments