Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के बैठक में आने के पहले ही कलेक्टर नीरज कुमार चार्ज सौप चले गए.. कलेक्टर के तबादले से सत्ताधीशों की करतूत पर उठे सवाल.. केंद्रीय मंत्री ने जाने योजनाओ के हाल..

कलेक्टर के तबादले से सत्ताधीशों की करतूत पर सवाल-
दमोह। विधान सभा चुनाव के बाद चार महिने में एक के बाउ एक दो कलेक्टर के तबदलों ने कमलनाथ सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर दिए है। चार महिने के अंदर ही दमोह कलेक्टर पद से रातोरात हटा दिए गए नीरज कुमार सिंह के तबादले से आम नागरिकों में नाराजगी के साथ सत्ताधीशों को लेकर तीखी प्रतिक्रिया सामने आ रही है। इधर नीरज कुमार सिंह  आज केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल की अध्यक्षता में आयोजित होने वाली बैठक के पहले ही अपना चार्ज अपर कलेक्टर को देकर चले गए। जिससे यह बैठक प्रभारी कलेक्टर के भरोसे संपादित हुई। 
कलेक्टर नीरज कुमार सिंह के तबादले को लोग धान छनाई घोटाले में कराई गई एफआईआर तथा हिंडोरिया में कन्या दान योजना तहत फर्जीवाड़ा उजागर होने पर रोके गए भुगतान से जोड़कर देख रहे है। प्रमुख अखबारों में इस तरह की खबरें सुर्खियां बनी हुई है। बताया जा रहा है कि इन दोनों गड़बड़ियों पर कारवाई के बाद कांग्रेस के कुछ प्रभावशाली नेता कलेक्टर को हटाने पूरा जोर लगाए हुए थे। नतीजन आचार सहिंता खत्म होते ही कलेक्टर नीरजकुमार का नाम तबदाला सूची में आते देर नहीं लगी। जबकि नीरजकुमार नवतपा की भीषण गर्मी और धूप की परवाह किए बिना जन सहयोग से 300 तालाबों के जीर्णोद्वार की मुहिम में जुटे हुए थे। 
नीरजकुमार द्वारा 100 दिनों के अंदर जिस तरह से जिले के कौने कौने में साइकिल से पहुंचकर तथा हालात को समझकर समस्याओं के निराकरण  में रूचि ली गई ऐसी ही उम्मीद अब नए कलेक्टर से की जा रही है। सोमवार को केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटैल कलेक्टोरेट कार्यालय में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सुबह 11 बजे लेने वाले थे। उसके आधे घंटे पूर्व ही कलेंक्टर नीरज कुमार ने जिला कार्यालय पहुंचकर अपना चार्ज अपर कलेक्टर को सौंप दिया। जिससें 11 बजे से केंद्रीय मंत्री श्री पटेल की अध्यक्षता में प्रारंभ हुई जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में प्रभारी कलेक्टर गिरीश मिश्रा को अपनी सहभागिता दर्ज कराना पड़ी। 
 वंचितों को सौभाग्य योजना लाभ दिलवाया जायें-पटैल  
दमोह। जिले में सौभाग्य योजना के तहत लक्ष्य अनुसार कार्य हो गया है, यदि कोई लाभ से वंचित हो गया है, तो उसे भी लाभ दिलवाया जायें। पेयजल के लिए लक्ष्य पर न जायें, जहां सोर्स की शिकायतें हो या पेयजल स्त्रोत नहीं है, उन्हें समूह नल जल योजना से जोड़ा जायें। यह बात आज  जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटैल ने कही। उन्होंने कहा जिले के दो सामूहिक पेयजल योजनाएं पूर्ण हो जाने से पेयजल की समस्या दूर हो जायेगी। बैठक के प्रारंभ में प्रभारी कलेक्टर डॉ. गिरीश मिश्रा ने गत बैठक का पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए पूर्ण जानकारी रखी।उन्होंने कहा प्रधानमंत्री आवास योजना में जो गांव शामिल नहीं है, उनके नाम दिये जायें, शामिल करवायें जायेंगे। श्री पटैल ने कहा आज आप सबसे मिलना हुआ, मेरा भाव पहली बैठक दमोह में लेना था। उन्होंने कहा जिले में महत्वपूर्ण धरोहर है, उन्हें वह स्थान नहीं मिला, मैनें कल्पना नहीं की ऐसा महत्वपूर्ण विभाग मिलेगा, यहां बहुत कुछ करना है। श्री पटैल ने कहा समन्वय से बेहतर परिणाम आते हैं, सभी अधिकारी इस मंशा से कार्य अंजाम दें। उन्होंने महात्मा गांधी रोजगार गारण्टी योजना की भी समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिये।
बैठक में केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटैल ने जिले में पर्यटन एवं संस्कृति की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए चिन्हित पर्यटन स्थलों रूकमणि मठ एवं अम्बिका मठ कुण्डलपुर, मड़ियादो किला, गुप्तकालीन मंदिर सकोर हटा, शिव मंदिर बरी कनौरा बटियागढ़ रनेह मठ हटा, रंग महल किला हटा, नोलेश्वर मंदिर नोहटा, कोडल शिव मंदिर तेन्दूखेड़ा और सात समूह मंदिर चित्राखेड़ा की जानकारी लेते हुए यहां विभाग द्वारा प्रस्तावित कार्य योजना की जानकारी लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
श्री पटैल ने बड़गुवां गांव जो कि जबेरा में है, पुरातत्व एवं एएसआई विभाग के अधिकारियों से कहा जायें देखें और कार्य योजना बनायें। उन्होंने जिले में ऐतिहासिक धरोहरों का पुनः सर्वे करने के निर्देश दिये। यह भी कहा सिंगोरगढ़ में वाटर वॉडी का प्लान तैयार किया जायें। यह भी कहा जिले में पर्यटन की अपार संभावनाएं है। बैठक में प्रभारी कलेक्टर डॉ. गिरीश मिश्रा ने प्रधानमंत्री आवास के लक्ष्य एवं पूर्ति की जानकारी देते हुए बताया कि लक्ष्य के विरूद्ध 37 हजार से अधिक आवास पूर्ण कर लिए गये हैं। इस वर्ष के लक्ष्य और प्रगति से अवगत कराया गया। उन्होंने यह भी बताया कि सौभाग्य योजना के तहत 34 हजार 200 कनेक्शन दिये गये हैं तथा प्रधानमंत्री आवास की मजदूरी 80 प्रतिशत कर दी गई है, शेष का भी भुगतान शीघ्र कर दिया जायेगा।
 बैठक में पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटैल, विधायक धमेन्द्र सिंह लोधी, आलोक गोस्वामी, नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी, बद्री पटैल, अशोक भारती सहित जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति के सदस्यगण और अधिकारी मौजूद रहे। बैठक के अंत में आभार प्रदर्शन एडीशनल कलेक्टर आनंद कोपरिहा ने व्यक्त किया।

Post a comment

0 Comments