Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

नवागत कलेक्टर तरुण राठी ने जागेश्वर नाथ के दर्शन कर पदभार ग्रहण किया.. पूर्व कलेक्टर नीरज कुमार द्वारा शुरू की गई जनहितेसी मुहिम जारी रखने की जनापेक्षा जारी..

नवागत कलेक्टर तरुण राठी ने पदभार ग्रहण किया-
दमोह। नवागत कलेक्टर श्री तरुण राठी ने मंगलवार को कलेक्टोरेट कार्यालय पहुंचकर अपर कलेक्टर और जिला पंचायत के सीईओ गिरीश मिश्रा से दमोह कलेक्टर का पदभार ग्रहण कर लिया है। भारतीय प्रशासनिक सेवा 2010 के अधिकारी श्री राठी इसके पूर्व मप्र शासन में उपसचिव थे। इनके पास लोक निर्माण विभाग, विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग महाप्रबंधक (कार्मिक) के अलावा मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम का अतिरिक्त प्रभार था। 
कलेक्टर श्री तरुण राठी सोमवार शाम भोपाल से दमोह आ गए थे तथा उन्होंने मंगलवार सुबह बांदकपुर पहुंचकर प्रातः बेला में भगवान जागेश्वर नाथ के दर्शन कर पूजन आरती की। इस दौरान  एसडीएम रविंद्र चोकसे  मंदिर प्रबंधन के प्रमुख मौजूद रहे। इसके बाद वह कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने अपना पदभार ग्रहण किया। बता दें कि 2 दिन पूर्व मप्र में हुए प्रशासनिक फेरबदल के तहत 4 माह के अंदर दमोह में तीसरे कलेक्टर के तौर पर श्री राठी को भेजा गया है। वही पूर्व कलेक्टर नीरज कुमार सिंह सोमवार को ही अपना पदभार छोड़ चुके थे। 
मंत्रालय में इतने महत्वपूर्ण विभागों का दायित्व संभालने वाली श्री राठी की गिनती प्रदेश के टैलेंटेड, सरल युवा आईएएस अधिकारियों में होती है। इनकी कार्यक्षमता का लाभ निश्चित तौर पर दमोह जिले को प्राप्त होगा। जन अपेक्षा है कि पूर्व कलेक्टर नीरज कुमार सिंह द्वारा जल संरक्षण हेतु जन सहयोग व श्रम दान से प्रारंभ कराए गए जिले के 300 तालाबों के जीर्णोद्धार मुहिम को नवागत कलेक्टर श्री तरुण राठी जारी रखेंगे। 
वही ढाई करोड़ के धान खरीदी छनाई घोटाला, हिंडोरिया कन्यादान योजना फर्जीवाड़ा की जांच तथा अवैध बोरवेल, अवैध खनन, परिवहन आदि के फर्जीवाड़े के खिलाफ भी मुहिम पूर्वत जारी रखते हुए बिना किसी राजनैतिक दबाव के जनहित के कार्यो में अग्रणी रहेंगे।। 
अंत मे एक बात और बताना चाहूंगा कि कलेक्टर बंगला के रंगरोगन, साज सज्जा कराने के मामले में ज्यादा ध्यान नही देवे। आपके पूर्व के दो कलेक्टरों के कार्यकाल में लोक निर्माण विभाग ने लाखों की राशि कलेक्टर बंगला के भीतरी तथा बाहरी आवरण को आकर्षक बनाने में खर्च कर चुके है। लेकिन कलेक्टर जे विजय कुमार और नीरज कुमार सिंह को यहां पर ज्यादा दिनों तक रहने का अवसर नहीं मिल सका। इसके पूर्व भी इस बंगले पर ज्यादा सरकारी धन खर्च कराने वाले कलेक्टर ज्यादा समय तक इस बंगले का सुख नहीं भोग सके। इस बात की जानकारी आप यहां के पुराने कर्मचारियों से हासिल कर सकते हैं। आपकी क्षमताओं को ध्यान में रखकर  जिले वासियों को आपसे बहुत उम्मीदें हैं। इसीलिए यह सब बातें आप के पदभार ग्रहण के दिन ही साफ कर दी हैं। आपका कार्यकाल दमोह जिले के लिए विकास के मामले में मील का पत्थर साबित हो। इन्ही भावनाओं के साथ आपको दमोह कलेक्टर बनने की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। अटल राजेन्द्र जैन

Post a comment

0 Comments