Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

अधिवक्ता-पीएसआई विवाद मामले में नहीं हुई FIR.. अधिवक्ता संघ 25 जून को मनाएगा प्रतिवाद दिवस.. अधिवक्ताओं के ज्ञापन के बाद ASP ने PSI को किया लाईन अटैच.. !

अधिवक्ता  25 जून को नही करेंगे कार्यस्थल पर प्रवेश-
दमोह। कोतवाली केंपस में दो दिन पहले एक अधिवक्ता और पीएसआई के बीच हुए विवाद के बाद कल रात अधिवक्ता गण पीएसआई के खिलाफ रिपोर्ट कराने कोतवाली गए थे। जहां एफआईआर नहीं नहीं लिखे जाने पर आज अधिवक्ताओं ने एसपी आफिस पहुचकर एएसपी से चर्चा की। इसके बाद भी पीएसआई के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं होने पर अधिवक्ताओं ने बैठक करके 25 जून को कार्य से विरत रहने का निर्णय लिया है। इधर अधिवक्ताओं के बीच आक्रोष को बढ़ता देख एडीशनल एसपी विवेक लाल द्वारा पीएसआई शुभम शर्मा को लाईन अटैच कर दिए जाने की जानकारी भी सामने आई है। इसके बावजूद अधिवक्तागण कार्य से विरत रहने के निर्णय पर अटल बताए गए है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत दिनों अधिवक्ता सलमान खान के साथ के पी एस आई शुभम शर्मा ने कोतवाली में परिसर में ड्राइवर आरक्षक रविन्द्र सिंग के साथ मिलकर मारपीट कर दी थी जिसमे अधिवक्ता के कान का पर्दा फट गया था। समूचे घटनाक्रम की अधिवक्ता जनों द्वारा एफआईआर लिखाने की कवायद कल कोतवाली में की गई किंतु टी आई स्टाफ के बचाव की मुद्रा में आ गए और एफआईआर लिखने से इंकार कर दिया। आज अधिवक्ताओं का एक दल जिसमे गजेंद्र चौबे, आलोक श्रीवास्तव, अनुनय श्रीवास्तव, मुकेश पांडेय, मनीष नगाइच सहित अन्य अधिवक्ताओं ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से भेंट की व पी एस आई के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने ज्ञापन दिया जिसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने मात्र मुलाहजा कराने का अस्वासन दिया किंतु एफआईआर की बात पर जांच कराने की बात कहने लगे।
सम्पूर्ण घटनाक्रम के बाद आज अधिवक्ता संघ के केंद्रीय क्ष में अधिवक्ता सामान्य सभा का आयोजन किया गया जिसमें सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि पुलिस लगातार आरोपी को संरक्षण दे रही है ऐसी स्थिति में अधिवक्ता जनों का सम्मान व अस्मिता खतरे में है व अधिवक्ता जो दूसरों को न्याय दिलाने का कार्य करते हैं आज उनकी ही रिपोर्ट नही लिखी जा रही है 
ऐसी विपरित स्थिति में अधिवक्ता संघ दमोह कल कार्य से विरत रह कर एक दिवसीय प्रतिवाद दिवस रखेगाव इस स्थिति से स्टेट बार को अवगत कराके प्रदेश स्तरीय प्रतिवाद दिवस आयोजित करने की कवायद की जाएगी। संघ ने यह भी निर्णय लिया कि भविष्य में इस तरह के आरोपियों के विरुद्ध अधिवक्ता मुकदमा लेने खड़े नही होंगे। कल प्रतिवाद दिवस के दौरान सभी अधिवक्ता न्यायालय गेट के बाहर रहकर टेंट में धरना देने के उपरांत एस पी दमोह से कार्यवाही करने भेंट करेंगे व ज्ञापन सौपेंगे।

Post a comment

0 Comments