Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कॉलोनी क्षेत्र में जींस टीशर्ट पहने घूम रही थी अंजान युवती.. पुलिस को कोतवाली ले जाकर करना पड़ी आव भगत.. बजह सुनकर आप भी रह जाएंगे दंग..

कॉलोनी क्षेत्र में घूम रही अंजान युवती की पुलिस आवभगत
दमोह। शहर के कॉलोनी क्षेत्र में जींस टीशर्ट जेबरात पहने एक अंजान युवती को संदिग्ध हालात में यहां से वहां घूमता देखकर स्थानीय निवासी हैरान परेशान होते रहे। बाद में मामले की जानकारी स्थानीय पार्षद को लगने पर पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची तो युवती महिला थानेदार की स्कूटी पर बैठकर कोतवाली पहुंच गई। जहा आवभगत के बाद ही युवती ने अपने बारे में जो जानकारी दी उसे सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। 
शुक्रवार को शहर के मुकेश कॉलोनी क्षेत्र में घूम रही एक युवती के बारे में लोगो ने पार्षद विक्रम ठाकुर को सूचना दी। मौके पर पहुंचे पार्षद को जब कुछ गड़बड़ लगा उन्होंने टीआई रविंद्र गौतम को सूचना देने में देर नहीं की। सोने के जेबरात पहने युवती हाथ में मोबाईल भी लिए हुए थी। तथा बार बार किसी को फोन लगा रही थी। लेकिंन जबाव नहीं मिलने से वह परेशान थी। मौके पर पहुंची लेडीस सब इंस्पेक्टर ने उक्त युवती से पूछताछ की तो उसने अपना नाम अर्चना तथा कटंगी का निवासी होना बताया। पुलिस ने कोतवाली चलने को कहा तो वह शान से एसआई की स्कूटी पर पीछे बैठ गई। 
पुलिस द्वारा जब से जानकारी चाही गई तो उसने भूखे होने तथा गर्मी लगने जैसी बात करते हुए अपनी फरमाइश रख दी। जिसके बाद कोतवाली टीआई रविंद्र गौतम ने युवती को बढ़िया खाना खिलाकर जब पूछताछ की तो उसने अपने परिजनों का मोबाइल नंबर बता दिया। कॉल करने पर पता लगा कि युवती सिंगरौली जिले की निवासी है। विवाहित तथा मानसिक रूप से कमजोर है। कटंगी में उसके जीजा रहते हैं जहां उसे जाना था। लेकिन दमोह स्टेशन पर उतारने के बाद कटंगी जाने की बजाए ऑटो से कालोनी पहुच गई। यहां पर भटकते देखकर कॉलोनी वासियों ने जागरूकता का परिचय दिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

टी आई रविंद्र गौतम ने बताया कि युवती के परिजनों से सिंगरौली बात करने के बाद उसके जीजा कटंगी निवासी गोपाल राजपूत को कॉल करके दमोह बुलाया गया तथा उनके सुपुर्द कर दिया गया। यदि समय रहते युवती को कालोनी से कोतवाली नहीं पहुंचाया जाता तो किसी अनहोनी से इंकार नहीं किया जा सकता था। क्यों युवती सोने के जेबरात भी पहने थी तथा मानसिक तौर पर कमजोर होन के साथ शहर से अनजान थी।  युवती के परिजनों का पता लगाकर उसे सुरक्षित पहुंचाने के लिए कोतवाली पुलिस निश्चित तौर पर साधुवाद और बधाई की पात्र कही जा सकती है। वहीं कालोनी क्षेत्र के पार्षद बिक्रम ठाकुर भी बधाई के पात्र है जिन्होंने हालात को समझकर पुलिस को सूचना देने में देर नहीं की।
आप के आसपास भी कभी कोई ऐसे हालात निर्मित हो तो आप भी जागरूकता का परिचय देते हुए अच्छे नागरिक होने के कर्तव्य का निर्वहन करने से नहीं चूके। क्यों कि ऐसे अवसर बार बार नहीं मिलते। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments