Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

छिंदवाड़ा में रफ्तार का कहर.. ट्रक की टक्कर से बस की खिड़कियों के कांच टूटकर बारातियों को लगे.. चार की मौके पर मौत, 15 इलाजरत..

 परसगांव से लौट रही बारात की बस और ट्रक में टक्कर-
छिंदवाड़ा। एक बार फिर रफ्तार का कहर सामने आया है । तेज रफ्तार ट्रक द्वारा बारातियों से भरी बस को क्रासिंग के दौरान टक्कर मारकर आगे बढ़ जाने तथा बस की खिड़कीयो के कांच टूटकर यात्रियों को लगने से 4 बारातियो की मौके पर मौत हो गई। धरम टेकड़ी चौकी क्षेत्र स्थित बनगांव के समीप हुए इस दिल दहला देने वाले हादसे में 15 बारातियों को गंभीर चोटें भी आई है। इस सडक़ हादसे ने मालवी परिवार में शादी की खुशियां मातम में बदल दी। 
एसपी मनोज राय ने बताया कि पिंडरई डबीर से उमेश मालवी की बारात परसगांव गई थी। विवाह संपन्न होने के बाद बुधवार सुबह बाराती दुल्हन को लेकर वापस गांव लौट रहे थे। इस दौरान बनगांव के समीप सामने से आ रहा ट्रक बस को ड्राइवर साइड से टक्कर मारते हुए आगे निकल गया। 
हादसे में बस ड्राइवर के पीछे की सीट पर बैठे लगभग २० बारातियों को खिडक़ी की कांच टूटकर लगी। जिससे चार लोगों की मौके पर मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर धरमटेकड़ी और कुंडीपुरा पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। घायलों को 108 एम्बुलेंस और डायल 100 वाहन से जिला अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया है। 

बताया जा रहा है कि मंगलवार देर रात तक विवाह की विभिन्न रस्मे चलने के बाद बुधवार सुबह दुल्हन की विदाई हुई थी। जिससे रात भर जगे बाराती सुबह बस में गहरी नींद में थे। इसी दौरान हादसे का शिकार हो जाने से उन को बचाव करने या सम्हलने का भी मौका नही मिला। हादसे के बाद बस में चीख पुकार मच गई। और बस झटके के साथ रुक गई। बस में महिलाएं और बच्चे भी सवार थे। जबकि दुल्हा-दुल्हन पीछे कार से आ रहे थे।
 घटना के कुछ देर बाद ही दुल्हा-दुल्हन की कार भी मौके पर पहुची तथा बारात की बस को दुर्घटनाग्रस्त देख कर सभी के होश उड़ गए। इधर बस को टक्कर मारने के बाद ट्रक को लेकर चालक घटना स्थल से भाग गया। एसपी मनोज राय ने बताया कि बस को टक्कर मारने वाले ट्रक का नम्बर मिल गया है। जिसकी तलाश की जा रही है जल्द ही आरोपी ट्रक को पकड़ कर चालक को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हादसे के वक्त बस की रफ्तार ही काफी तेज होने की जानकारी सामने आई है।

हादसे के बाद अस्पताल में पुलिस तथा डॉक्टर के बीच वाद विवाद के हालात बन गए। सिर्फ एक ही चिकित्सक होने से घायलों के इलाज में हो रही देरी से परिजन लाचार बने रहे वही घायलों के इलाज में देरी से नाराज कुंडीपुरा टीआई और सीएसपी का भी चिकित्सकों से विवाद हो गया। इस हादसे में सुक्लुढाना के सुखलाल  मालवी 62, सिंगोड़ी के रजोला के कोमल मालवी 45, सुक्लुढाना के जीतलाल मालवी 28 और नरसिंहपुर के ग्राम कपूरी निवासी दशरथ मालवी 45 की मौके पर मौत हो गई। जबकि घायलों का उपचार जारी है। छिंदवाड़ा से सुधीर दुबे की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments