Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सीएम के आगमन को लेकर प्रशासन एलर्ट.. कलेक्टर ने ओलावृष्टी से हुए फसल नुकसान का जायजा लिया, स्कूल तथा आँगनबाडी केंद्र भी पहुंचे..

कलेक्टर ने खेतों में फसल नुकसान का जायजा लिया-
दमोह। मुख्यमंत्री कमलनाथ के दमोह आगमन को लेकर प्रशासन एलर्ट हो गया है। बुधवार को कलेक्टर नीरजकुमार सिंह ने अपनी बिजिट के दौरान खेतों में पहुंचकर ओला वृष्टि से हुए फसल नुकसान का जायजा लिया। मिडिल स्कूल का निरीक्षण करके मध्यान्ह भोजन में बनी दाल रोटी खाई, बच्चों से सवाल जबाव किए तथा आंगनवाड़ी केंद्र का भी जायजा लिया।
कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने आकस्मिक भ्रमण के दौरान ग्राम देवरी में हुई ओलावृष्टि का निरीक्षण खेतों में पहुचकर किया। खेत के मेड़ पर पैदल चलकर खेतां के अंदरूनी हालात को कलेक्टर ने देखा। इस दौरान किसानों ने ओला की बजह से जिस स्थान पर फसलों को अधिक नुकसान हुआ है वहां का भी जायजा लिया तथा अधिकारियो को निर्देश दिए। इसी तरह मोहास गांव पहुंचे कलेक्टर ने खेत में फसल नुकसान की जानकारी ली तथा ग्रामीणों को आश्वस्त कराते हुए संबंधितों को सर्वे कर वस्तु स्थिति की जाँच करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर एसडीएम. नाथूराम गौड़ सहित प्रशासनिक अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।
देवरी मिडिल स्कूल में मध्यांह भोजन की जांच की-

आकस्मिक भ्रमण के दौरान ग्राम देवरी के शासकीय माध्यमिक शाला के निरीक्षण किया। इस दौरान बच्चों के मध्यान्ह भोजन चेक किया, कलेक्टर ने पूछा आज मेन्यू में क्या है, एक प्लेट मुझे भी दो, उन्होने यहॉ पर बनी दाल रोटी भी खाई। जब यह बात गॉव के लोगो को पता चली तो सभी यह नजारा देखने विद्यालय आ गये। कलेक्टर श्री सिंह ने हेडमास्टर से दर्ज बच्चों की संख्या के बारे में भी जाना। उन्होने खाना बनाने वाली बाई से पूछा कितने बच्चों का खाना बना रही हो, भुगतान में कोई परेशानी तो नहीं, पैसे अब ऑनलाईन मिल जातें है जैसे कई सवाल पूछें। इस पर बाई ने कहा साहब अब कोई दिक्कत नहीं है । कलेक्टर श्री सिंह ने बाई से कहा जब सब्जी बनाओगी तब फिर आऊगां। कलेक्टर ने सबंधित अधिकारी से स्कूल की बाउड्री बाल के सबंध मे चर्चा करते हुये बाउड्री वाल बनवाने के निर्देश दिये।

मोहास में प्राची को टेबल सुनाने पर पेन गिफ्ट किया-
कलेक्टर नीरज कुमार सिंह पटेरा तहसील के ग्राम मोहास के शासकीय प्राथमिक शाला में भी मध्यान्ह भोजन, बाउड्री-वाल और भौतिक व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होने चॉदनी के उपचार के लिए संबधित अधिकारी को निर्देश दिये। कलेक्टर श्री सिंह ने बच्चों से पूछा क्या पढ़ रहे थे, बच्चों बताया सर एबीसीडी और क, ख, ग पढ रहें है, उन्होने सुनाने को कहा, बच्चों ने कलेक्टर को एबीसीडी और क, ख, ग सुनाये। उन्होने संबधित से पूछा सभी बच्चे रोज आते है, उपस्थित बच्चों से कहा रोज स्कूल आया करों। कलेक्टर श्री सिंह ने बच्चों से टेबल सुनाने के लिए कहा उपस्थित बच्चो में से प्राची ने चार का टेबल सुनाया, इस पर कलेक्टर ने अपनी पेन भी गिफ्ट मे प्राची को दी और कहा खुब पढों और अपना अपने माँ-बाप का नाम रोशन करो।
कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने किचिन शेड में जाकर निरीक्षण करते हुये पूछा आज मेन्यू में क्या है, बताया दाल, रोटी और सब्जी है, खाना कितने बजे वितरित करते है, कलेक्टर श्री सिंह ने मध्यान्ह भोजन की डेली रूटीन भी चेक किये, उन्होने बच्चों की दर्ज संख्या के बारे में भी जाना। गणवेश वितरण के बारे मे भी जानकारी ली। कलेक्टर ने आँगनबाडी केन्द्र का भी निरीक्षण कर आँगनबाडी कार्यकर्ता से दर्ज बच्चों की संख्या के बारे में जाना, क्या सिखाया, औपचारिक शिक्षा की के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली। इस दौरान एस.डी.एम. नाथूराम गौड़ सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

Post a comment

0 Comments