Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण के विरोध में सांसद प्रहलाद पटेल का पुतला फूंका.. पुलिस ने चौरसिया हत्याकांड के 4 अन्य आरोपियों को कोर्ट में पेश किया..

कांग्रेस नेताओं ने सांसद प्रहलाद पटेल का फूंका-
दमोह। हटा में देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के मुख्य आरोपी 4 दिन बाद भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है वही पुलिस चार अन्य आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रही है। इधर सांसद प्रहलाद पटेल द्वारा इस हत्याकांड के एक गुनाहगार को बचाने एसपी को लिखे गए पत्र से आक्रोशित कांग्रेस नेताओं ने पुतला दहन करते हुए उन पर अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण देने के आरोप लगाए।
मंगलवार दोपहर कांग्रेस नेता प्रदीप खटीक एवं दीपेश पटेरिया के नेतृत्व में बड़ी संख्या में हटा के कांग्रेस जन प्रहलाद पटेल के पुतले को लेकर बसस्टेंड पहुंचे। जहां हाय हाय के साथ नारेबाजी करते हुए पुतले को आग के हवाले करते हुए जमीन पर पटक दिया गया। 
इस दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय निवासियों की भीड़ तमाशाईयों के तौर पर लगी रही। बाद में कांग्रेस नेताओं ने एसडीएम नाथूराम गोड एक ज्ञापन सौंपा। 
महामहिम राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन में सांसद प्रहलाद पटेल द्वारा देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के नामजद आरोपी इंद्रपाल पटेल को बेगुनाह बताते हुए एसपी को लिखे गए पत्र को अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण बताते हुए कहा कि गुनाहगारों को बचाने एवं अपने राजनीतिक फायदे के लिए सांसद द्वारा अपने प्रभाव का गलत दुरुपयोग किया जा रहा है जिसकी जांच की जाए।
इस मौके पर कांग्रेस नेता प्रदीप खटीक का आरोप था कि प्रहलाद पटेल इस मामले में राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं घटना के 4 दिन बाद भी वह मृतक परिवार के पास पहुंच कर सांत्वना देने का समय नहीं निकाल सके। लेकिन गुनाहगार को बचाने के लिए एसपी को पत्र लिखने में उन्होंने देर नहीं की। 
एक अन्य कांग्रेस नेता दीपेश पटेरिया का कहना था कि अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण दिए जाने के इस मामले को कांग्रेस तथा हटा क्षेत्र के लोग कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे तथा पूरे बुंदेलखंड क्षेत्र में सांसद प्रहलाद पटेल का विरोध करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। इस साल होली के पहले प्रहलाद के पुतले जलने की बजह जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल के समर्थकों द्वारा सांसद पटेल को ज्ञापन सौंपा जाना और सांसद द्वारा उस ज्ञापन के बिंदु पर ऐसी को पत्र लिखना रहा है। जिसकी विस्तृत रिपोर्ट और वीडियो कल ही अटल न्यूज़ 24 पर अपडेट की गई थी। पुनः उस खबर को देखने के लिए इस खबर के पहले की खबरों को देखना ना भूले।
इधर हटा थाना पुलिस द्वारा देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड से जुड़े चार अन्य आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया है जहां से उनकी रिमांड मांगी जा रही है मुख्य 7 आरोपियों के अलावा चार अन्य आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्त में लिया है। उनमें से तीन आनिश खान, मोनू तंतुवाय और अनीश खान हटा के निवासी है। वही राजा डॉन अहिरवार बांसा तारखेडा का निवासी है। पुलिस द्वारा जल्द इस मामले में बड़े खुलासे की उम्मीद की जा रही है। हटा से अनिल शर्मा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments