Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जिस थाने में पदस्थ रही, वहीं पर महिला थानेदार की रिपोर्ट लिखने में आनाकानी..! झांसी टीकमगढ़ मार्ग पर सागर की महिला थानेदार रश्मि जैन से चार बदमाशों ने किया लूट का प्रयास..

थानेदार की रिपोर्ट लिखने में आनाकानी क्यों-
टीकमगढ़/ निवाड़ी/ पृथ्वीपुर। जिस थाने में महिला थानेदार पदस्थ रही हो आज उसी थाने में महिला थानेदार की रिपोर्ट दर्ज करने को टी आई तैयार नहीं है। 3 घंटे बाद भी नवविवाहिता महिला थानेदार तथा उसका भाई लूट की वारदात करने वाले चार लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कराने थाने में डेरा डाले रहे, SP को मोबाइल लगाते रहे। फिर भी यदि TI उनकी रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी करते रहे तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि आरोपियों के राजनीतिक कनेक्शन हाई प्रोफाइल है।
यह किसी फिल्म की कहानी नहीं बल्कि सोमवार शाम झांसी टीकमगढ़ मार्ग पर पृथ्वीपुर थाना अंतर्गत ज्योरा गॉव के पास महिला बम्होरी थाने में पदस्थ एसआई रश्मि जैन के साथ लूट की वारदात की कोशिशों का एक ऐसा कच्चा चिट्ठा है जिसे मानने के लिए पृथ्वीपुर टी आई के के खनेजा तैयार नहीं है। दरअसल सागर निवासी एसआई रश्मि जैन की हाल ही में 8 फरवरी 2019 को झांसी जिले में विवाह संपन्न हुआ है शादी के बाद पहली विदा की बेला में उनका भाई अशोक जैन तथा रिश्तेदार रश्मि को झांसी से टीकमगढ होते हुए सागर ले जा रहे थे। रास्ते में पृथ्वीपुर थाने के ज्योरा गांव के पास आल्टो कार में सवार चार बदमाशो ने उनकी कार को रोक कर लूट का प्रयास किया। सयोग से इसी दौरान एक एएसआई पुलिस के साथ निकल रहे थे जो रुक गए थानेदार रश्मि ने हंड्रेड डायल को भी सूचना देकर बुला लिया कार सवाल चारों आरोपियों को पकड़ लिया गया।
थानेदार के भाई अशोक जैन ने बताया कि पृथ्वीपुर थाने में कार सहित चारों आरोपियों को पहुंचाए जाने के 3 घंटे बाद भी उनकी f.i.r. नहीं लिखी जा रही है जबकि पूर्व में उनकी बहन इसी थाने में पदस्थ है चुकी है। आरोपियों की अल्टो कार में शराब की बोतलें नमकीन आदि भी रखा मिला है। इसके बाद भी TI केके खनेजा आरोपियों को बचाने की कोशिश में क्यों लगे हैं ? इसको लेकर तरह-तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। यूपी पासिंग की इस गाड़ी में सवार लोग यूपी के निवासी है अथवा एमपी के ? यह तो साफ नहीं हो सका है लेकिन इतना तय है कि इनके राजनीतिक कनेक्शन काफी गहरे हैं। तभी तो महिला थानेदार के साथ लूट के प्रयास के मामले में पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने में आनाकानी करती रही है।
पूरे मामले में खास बात यह है कि शादी के बाद पहली विदा के दौरान लाल सुर्ख जोड़े में सोने के जेवरात से लदी थानेदार रश्मि जैन के जेवर उतरवाने के प्रयास जहां आरोपियों द्वारा किए गए वहीं थानेदार द्वारा खुद को s.i. बताए जाने पर आरोपी यह कमेंट करने से नहीं चूके थानेदार हो कोई होम मिनिस्टर नहीं। मामले में एसपी को जानकारी दिए जाने और उनके द्वारा जल्द एफ आई आर के निर्देशों के बाद भी रात 10 बजे तक रिपोर्ट क्यों नहीं लिखी गई इसको लेकर प्रदेश की कमलनाथ सरकार में सवाल उठने लगे हैं। पृथ्वीपुर से हेमंत वर्मा की रिपोर्ट 
ब्रेकिंग न्यूज़ अपडेट-पाँच घण्टे के हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद पृथ्वीपुर पुलिस ने पकड़े गए चारो आरोपियों के विरुद्ध लूट के प्रयास की विभिन्न धारा 341, 294, 393, 506 ,34 के तहत मामला दर्ज किया ।

Post a comment

0 Comments