Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

स्टेशन कैंपस में नाबालिक से बलात्कार के विरोध में प्रदर्शन.. हिदू युवा वाहिनी, लघु व्यापारी संघ, विद्यार्थी परिषद ने ज्ञापन सौप फांसी की मांग की..

 नाबालिक से बलात्कार मामले में ज्ञापन प्रदर्शन-
दमोह। रेलवे स्टेशन कैंपस से एक नाबालिक को अगवा करके उसके साथ ज्यादती किए जाने का घटनाक्रम तूल पकड़ता जा रहा है। रेलवे पुलिस ने भले ही इस मामले में आरोपी ऑटो चालक सद्दाम खान को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया हूं लेकिन इस तरह की वारदातों पर अंकुश लगाने और आरोपी को फांसी दिए जाने की मांग को लेकर आज भी प्रदर्शन किए गए। 
हिंदू युवा वाहिनी और लघु व्यापारी संघ ने शनिवार दोपहर एसपी ऑफिस पहुंचकर जिले में हो रही महिला हिंसा की घटनाओं पर नाराजगी जताते हुए नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया तथा महामहिम राष्ट्रपति महोदय के नाम संबोधित एक ज्ञापन एडिशनल एसपी विक्रम कुशवाहा को सौंपा गया। इस मौके पर हिंदू युवा वाहिनी के जिला संयोजक विक्रांत गुप्ता विक्की एवं लघु व्यापारी संघ के अध्यक्ष तनुज पराशर तथा अनेक सामाजिक संगठनों के युवाओं की मौजूदगी रही।
हिंदू युवा वाहिनी द्वारा रेलवे जीआरपी थाना पहुंचकर वह एक ज्ञापन सौंपा तथा रेलवे स्टेशन परिसर में इस तरह की वारदातों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की इस मौके पर विक्रांत गुप्ता ने स्टेशन कैंपस सेना मालिक सेना वाले को अगवा करके ले जाने वाले बलात्कारी ऑटो चालक सद्दाम को फांसी दिए जाने की मांग की गई।
इसके पूर्व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद युवा पदाधिकारियों एवं महिला शाखा द्वारा बी एक ज्ञापन एसपी ऑफिस पहुंचकर एडिशनल एसपी विक्रम सिंह कुशवाहा को सौंपा गया था। जिसमें महिलाओं तथा बालिकाओं संबंधी बढ़ती हिंसा पर चिंता जताते हुए इन पर अंकुश लगाने हेतु कठोर कार्यवाही करने की मांग पुलिस से की गई।
इस पूरे घटनाक्रम को लेकर उल्लेखनीय है कि 2 दिन पूर्व राजरानी एक्सप्रेस भोपाल से दमोह रेलवे स्टेशन पर उतरी एक 15 वर्षीय किशोरी के साथ ऑटो चालक सद्दाम द्वारा अगवा करके डरा धमका कर बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया था जिसकी रिपोर्ट आधी रात को दर्ज कराने के लिए यह किशोरी रेलवे पुलिस से लेकर कोतवाली के चक्कर लगाती रही थी। बाद में सागर जीआरपी थाने में अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी सद्दाम को गिरफ्तार किया गया था। 
उक्त वारदात की जानकारी लगने के बाद से ही शहर के विभिन्न संगठनों में आक्रोश पूर्ण माहौल बना हुआ है। तथा रेलवे क्षेत्र के सुरक्षा इंतजामों पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

Post a comment

0 Comments