Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

खजरी मेले में राई नृत्य के ठुमको के साथ.. खूब चली चकरी और छकडी, पुलिस ने किया एक मामला दर्ज..

खजरी मेले में राई नृत्य के ठुमको की दिखी धूम-
दमोह। देहात थाने के खजरी गांव में लगने वाले मेले में परंपरा के नाम पर राई नृत्य के ठुमको के साथ खुलेआम चलने वाले देशी जुआ के खेल पर सैकड़ों रुपए के दांव लगते रहे। शाम को जब देहात थाना के नवागत टी आई मेले में पहुंचे तो यहां के हालात देखकर आश्चर्यचकित हो गए। बाद पुलिस द्वारा कार्रवाई कर एक मामला पंजीबद्ध किये जाने की जानकारी सामने आई है।
खजरी के चंडी माता के मंदिर के समीप तीन दिवसीय मेले का आयोजन पिछले करीब 10 वर्षो से किया जा रहा है। जिसमें बड़ी संख्या में ग्राम वासी और आसपास के गांव के लोग एकत्रित होकर मां की पूजा अर्चना कर धर्म लाभ और मेले का आनंद लेते हैं। वही जिले तथा बाहर के लोग अपनी दुकानें भी मेले में सजाकर व्यापार करते है।
 
मेले की भीड़भाड़ और चकाचौंध के बीच शराब और जुआ माफिया भी सक्रियता का दर्ज कराने से नहीं चूकता। मेला प्रांगण में छकडी द्वारा जुआ खिलाते हुए जुआरी खुलेआम  दिखाई दिए। वही राई नृत्य के नाम पर बुंदेली बालाएं लटक चटक दिखाती बड़े बूढ़ों का दिल मचलाती हुई नजर आई। बच्चों से लेकर युवाओं की नजरें भी नृत्य करती बालाओं पर टिकी रही।
 मेला प्रांगण में जमकर भीड़ नजर आने के बावजूद दिन में पुलिस की कमी नजर आई। वहीं शाम को जब देहात थाना के नवागत टी आई नरेंद्र सिंह मेले में पहुंचे तो यहां के हालात देखकर आश्चर्यचकित रह गए। उनके साथ गए पुलिस कर्मी इसे स्थानीय परंपरा के नाम पर होना वाला खेल बताते जानकारी देते नजर आए।
 इसके बाद भी टीआई साहब को जब खुलेआम दाव लगते नजर आए तो एक जुआ फड़ संचालक पर मामला दर्ज करने से पुलिस नहीं चूकी। वही मीडिया के नाम पर भी तथावकथित खबर नवीस पिछले वर्षों की तरह वसूली की जुगाड़ में भटकते हुए नजर आए।खजरी मेले से तनुज पाराशर की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments