Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

DPSG के घुड़सवारी कोच ने फांसी लगाई.. मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पुलिस ने कमरा किया सील, ओजस्विनी कैंपस में 11 दिन में फांसी की दूसरी घटना..

देहात थाना पुलिस ने मौके पर हालात देखे-
दमोह। सागर रोड पर ओजस्विनी कैंपस में संचालित  दिल्ली पब्लिक स्कूल (DPSG) के स्पोर्ट टीचर द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी कर लिए जाने का घटनाक्रम सामने आया है। सूचना मिलने पर देहात थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर प्रथम दृष्टया  हालात देखने के बाद रूम को सील कर दिया है। तथा परिजनों को सूचना देकर उनका इंतजार किया जा रहा है। 
 सागर रोड पर टोल नाके के समीप ओजस्विनी परिसर में संचालित डीपीएसजी स्कूल के घुड़सवारी कोच  निरंजन सिंह का शव फांसी के फंदे पर कमरे में लटके होने की सूचना मिलने पर सोमवार सुबह देहात थाना पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल का प्रथम दृष्टया निरीक्षण करने के बाद देहात थाना टी आई अनिल सिंह ने मृतक के परिजनों का मोबाइल संपर्क नंबर प्राप्त करके उन्हें कॉल करके सूचना दी गई। 
रूम नम्बर S-01 को पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों एवं  तहसीलदार की मौजूदगी में पुलिस ने फिलहाल सील कर दिया है। जिससे कमरे के अंदर के हालात का अंदाजा नहीं लग सका है। मामले में देहात थाना टी आई अनिल सिंह का कहना है कि टेकनपुर ग्वालियर निवासी स्पोर्ट टीचर निरंजन सिंह राजपूत के परिजनों को सूचना देने पर उनके द्वारा उनके नहीं आने तक शव को यथास्थिति रखे जाने की बात की गई। 

जिस पर मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में कमरे को सील करा दिया गया है। परिजन ग्वालियर से रवाना हो चुके हैं। तथा शाम तक उनके आने की संभावना है। इसके बाद ही उनकी मौजूदगी में कमरा खोल कर पंचनामा आदि कार्यवाही करते हुए शव को पोस्टमार्टम हेतु रवाना किया जाएगा।
बता दे कि इस स्थल से कुछ दूरी पर 3 जनवरी को ओजस्विनी नर्सिंग कॉलेज की एक छात्रा का शव हॉस्टल में फांसी के फंदे पर झूलता हुआ मिला था। 11 दिन बाद डीपीएसजी के स्पोर्ट टीचर का शव फांसी पर लटका मिलने से सनसनी पूर्ण माहौल बने हुए हैं। 

चूंकि  यह कॉलेज और स्कूल पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया की धर्मपत्नी सुधा मलैया द्वारा संचालित किया जाता है इस वजह से राजनीतिक हलकों में तरह-तरह की चर्चाओं के साथ विरोधाभास का दौर भी सामने आने लगा है। लोग घटना को लेकर तरह-तरह के कयास लगाते नजर आ रहे हैं।

 ऐसे में पुलिस ने फूंक फूंक कर कदम रखते हुए तहसीलदार की मौजूदगी में उस कमरे को सील करा दिया है जिसमें स्पोर्ट टीचर निरंजन ने फांसी लगाई है। सुसाइड के पूर्व मृतक ने कोई सुसाइड नोट छोड़ा है अथवा नहीं ? तथा खुदकुशी की वजह पुलिस जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगी। फिलहाल सभी को मृतक स्पोर्ट टीचर के परिजनों के आने का इंतजार बना हुआ है। जल्द ही इस मामले में नई अपडेट के साथ फिर मिलते हैं। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments