Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जान लेवा साबित हो रहे बरसाती पानी से भरे परकुलेशन टैंक.. जबेरा क्षेत्र में पिकनिक मनाने गए दोस्तो में से.. पैर फिसलने से डूबे युवको में से एक का नही लगा कोई सुराग.. दूसरे युवक को गंभीर हालत में जबलपुर रेफर किया गया.. परिजनों का रो रो कर बुरा हाल..

तालाब में डूबे युवक का घंटों बाद भी नही लगा सुराग

दमोह। बारिश के दिनों में पानी से लबालब भरे खाई नुमा गड्ढे खदान नुमा पोखर तथा पर कुलेशन टैंक जहां मवेशियों से लेकर ग्रामीणों के लिए खतरनाक साबित होने के साथ आफत के तालाब साबित हो रहे हैं वही युवा पीढ़ी यहां पर आने के बाद नहाने से खुद को नहीं रोक पाती है वहीं जरा सी लापरवाही पैर फिसलने के साथ गहराई में चले जाने पर जानलेवा भी साबित होती है। कुछ दिन पूर्व तेंदूखेड़ा जबेरा और दमोह में ऐसे ही ताल तलैया में डूबने से आधा दर्जन से अधिक किशोरों की मौत हो जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया था ऐसा ही एक मामला फिर सामने आया है।

जबेरा थाना अंतर्गत ग्राम कोरता में एक परकुलेशन टैंक के पास पिकनिक मनाने गए पांच दोस्तो में से एक युवक के तालाब में डूबने के घन्टो बाद भी कोई सुराग नही लग सका। इधर रात हो जाने की बजह से उसकी तलाश में रेस्क्यू शुरू नहीं किया जा सका। अब सोमवार को युवक की तलाश में गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू शुरू किया जाएगा। इस दुखद घटना क्रम से परिजनों का जहां रो रो कर बुरा हाल बना हुआ है वही मौके पर देर तक भीड़ लगी रही तथा कुछ स्थानीय तैराक पानी में उतर कर युवक की तलाश भी करते रहे।

जबकि एक अन्य युवक को तालाब से निकालकर गंभीर हालत में जबेरा अस्पताल लाने पर जबलपुर रेफर कर दिया गया। रविवार शाम जानकारी मिलने पर जबेरा तहसीलदार अरविंद यादव ब थाना प्रभारी इंद्रा सिंह  घटनास्थल पर पहुंचे लेकिन अंधेरा होने लगने से रेस्क्यू नहीं हो पाया है। अब सोमवार को आपदा प्रवंधन टीम के द्वारा पानी में युवक की तलाश शुरू की जाएगी। मामले में विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा की जा रही है। जबेरा से मयंक जैन की रिपोर्ट

Post a Comment

0 Comments