Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

दमोह पन्ना स्टेट हाईवे पर रफ्तार का कहर.. मवेशी को बचाने के चक्कर में हटा बस मजदूरों से भरी ट्रैक्टर ट्राली से टकराई.. 2 दर्जन से अधिक घायल, एक मासूम की मौत.. अधूरे साइड शोल्डर और सड़क किनारे पड़ी निर्माण सामग्री भी बन रही हादसो की वजह..

 बस ने ट्रैक्टर ट्राली को टक्कर मारी, 2 दर्जन से अधिक घायल पन्ना निवासी मासूम तथा मवेशी की मौत..

दमोह। पन्ना स्टेट हाईवे पर हटा टोल रोड के अव्यवस्थित निर्माण तथा अधूरे साइड शोल्डर की वजह से वाहनों की क्रॉसिंग के दौरान जहा हादसों की आशंका बनी रहती है वही सड़क पर मवेशियों का विचरण तथा ट्रैक्टर ट्राली का उपयोग मजदूरों ग्रामीणों के आवागमन में लगातार किए जाने जैसे हालात भी लगातार सामने आते रहते हैं ऐसे में बस कार आदि वाहनों की रफ्तार पलक झपकते दुर्घटनाओं को अंजाम दे देती है।

ऐसे ही कुछ हालातों के बीच पालर मुड़िया गांव के बीच कृषि कार्य के लिए जा रहे मजदूरों से भरी एक ट्रैक्टर ट्राली और बस क्रमांक एमपी 34 पी 0 185 के बीच हुई भिड़ंत में ट्रैक्टर ट्राली के दूर जाकर पलट जाने से करीब ढाई दर्जन मजदूरों के घायल हो जाने और एक मासूम की मौत हो जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है।

 दुर्घटना की वजह सड़क पर एक मवेशी का अचानक आ जाना बताया जा रहा है। इसकी भी बस की टक्कर से मौत हो जाने की जानकारी सामने आई है। वही बस के ओवैसी को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होने के बाद सड़क पर खड़ी ट्रैक्टर ट्राली को जोरदार टक्कर मारी जाने की जानकारी सामने आई है फिलहाल पुलिस पूरे घटनाक्रम की जांच में जुटी हुई है।

सोमवार सुबह हुए एक्सीडेंट के बाद घटनास्थल पर जहां अफरा-तफरी के हालात बने रहे वही बाद में पहुंची 108 की मदद से घायलों को जिला अस्पताल लाया गया यहां भी एक साथ 2 दर्जन से अधिक घायलों के पहुंच जाने से अफरा-तफरी बनी रही। हालांकि डॉक्टरों के साथ अस्पताल के स्टाफ ने तत्परता दिखाते हुए घायलों को इलाज मुहैया कराने में देर नहीं की लेकिन इस दौरान अन्य मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। घायलों में जहां अनेक बच्चे शामिल रहे वही आरुषि पिता शिवलाल चौधरी 8 वर्ष निवासी ग्राम सोन मऊ खुर्द थाना रैपुरा जिला पन्ना की मौत हो गई। वहीं कई अन्य घायलों की हालत भी गंभीर बनी हुई है। 

मरीजों के उपचार को लेकर सिविल सर्जन ममता तिमोरी जहा स्वयं निर्देश देती नजर आई वही सीएसपी अभिषेक तिवारी घटना की जानकारी लेते नजर आए। बताया जा रहा है पुलिस ने बस चालक को हिरासत में ले लिया है। जबकि एक खास की भी बस की टक्कर लगने से मौत हो गई है। ट्रैक्टर ट्राली में सवार महिलाओं बच्चों को कहना था कि एक आटा चक्की के पास उनकी ट्रैक्टर ट्राली आकर रुकी थी। इस दौरान बस वाले ने भैंस को टक्कर मारने के बाद उनके ट्रैक्टर को भी जोरदार टक्कर मार दी।

देहात थाना अंतर्गत हुए सड़क हादसे के बाद देहात थाना पुलिस की टीम मौके पर पहुंची वही हादसे में घायल मजदूरों के परिजनों तथा ग्रामीणों द्वारा सड़क के बीच में ट्रैक्टर ट्राली खड़ी करके जाम लगा दिया गया। जिससे देर तक आवागमन बाधित होने जैसे हालात बने रहे। हालांकि पुलिस अधिकारियों की समझाइश के बाद जाम खत्म कर दिया गया। लेकिन इस हादसे ने एक बार फिर दमोह हटा टोल रोड के अव्यवस्थित निर्माण कार्य तथा साइड शोल्डर के साइड की मिट्टी को खोदकर भरे गए सोल्डरों की वजह से होने वाले दुर्घटनाओं के हालात की पोल खोल कर रख दी है।

 जिस जगह हादसा हुआ वहां भी सड़क किनारे गिट्टी रेत जैसी निर्माण सामग्री पड़े होने की तस्वीरें सामने आई हैं। जिसे देखकर कहा जा सकता है कि सड़क किस साइड सोल्जर गड़बड़ होने के साथ सड़क किनारे पड़ी निर्माण सामग्री तेज रफ्तार वाहनों के अनियंत्रित होने के बाद हादसे की वजह बन जाती है इस ओर एमपीआरडीसी के अधिकारियों के साथ जिला प्रशासन के अधिकारियों को भी ध्यान देना आवश्यक है। वही टोल वसूलने वाली कंपनी द्वारा दमोह हटा के बीच नियमानुसार सड़क निर्माण साइट सुधार का कार्य कराया जाये जिस तरह के हादसों पर अंकुश लग सके।

Post a Comment

0 Comments