Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

वरिष्ठ मंत्री गोपाल भार्गव पर आपत्ति जनक पोस्ट महंगी पड़ी.. आरोपी के अवैध कब्जे पर बरसा बुलडोजर का कहर.. पूर्व मंत्री जयंत मलैया को कोर्ट से जमानत मिली..

 आरोपी के अवैध कब्जे पर बरसा बुलडोजर का कहर

सागर जिले के गढ़ाकोट में असामाजिक तत्वों के अवैध कब्जों पर बुल्डोजर का कहर दूसरे दिन भी जारी रहा। बुधवार शाम हुई कार्यवाही के दौरान वरिष्ठ मंत्री गोपाल भार्गव पर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले तत्व के अवैध कब्जे पर कार्यवाही की गई। इस दौरान आरोपी के निवास से पुलिस ने एक अवैध पिस्टल तथा मादक पदार्थ भी बरामद किए।

सागर जिले के गढ़ाकोटा के युवक को प्रदेश के कद्दावर मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभद्र और आपत्तिजनक भाषा लिखना महँगा पड़ गया। जिसमें आईटी एक्ट की धारा 67 A में मामला दर्ज करने के बाद प्रशासन की संयुक्त टीम ने आरोपी सचिन ठाकुर द्वारा अवैध कब्ज़ा किये हुए एक मकान पर बुलडोजर चलाकर ध्वस्त कर दिया। वहीँ इसके पहले युवक के घर दबिश देकर पुलिस ने एक माउजर दो ज़िंदा कारतूस और अवैध मादक पदार्थ बरामद किये थे। ये कार्यवाई भगत सिंह वार्ड स्थित अस्पताल के पास की गयी। इस दौरान तहसीलदार कुलदीप पाराशर, गढ़ाकोटा थाना प्रभारी और पुलिस बल मौजूद था। 
आपको बता दें की गढ़ाकोटा में एक दिन पहले रिंकू और पिंटू ठाकुर की आलीशान होटल पर बुलडोजर चलाया गया था। साथ ही पूर्व पार्षद के नाम आने के बाद जेल भेजने की कार्रवाई से नाराज़ युवक ने मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी की थी। बताया जा रहा है की आरोपी सचिन ठाकुर ने राधेश्याम सोनी के मकान पर कब्जा कर नया मकान बनाया था। गढ़ाकोटा थाना प्रभारी रजनीकांत दुबे ने बताया की संयुक्त रूप से कार्यवाई की गयी। वहीँ आरोपी सचिन ठाकुर पर अलग-अलग धाराओं में मामला दर्ज कर उसे न्यायालय में पेश किया। तो तहसीलदार कुलदीप पाराशर ने बताया की प्रशासन ने करीब 15 सौ वर्गफुट जगह से अतिक्रमण हटाया है।

पूर्व वित्त मंत्री सहित समर्थकों को मिली जमानत
दमोह। कांग्रेस सरकार के द्वारा वर्ष 2019 में दमोह में की जा रही अघोषित बिजली कटौती के विरोध में पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के नेतृत्व में जबलपुर नाका विद्युत विभाग के सामने चक्का जाम करके विरोध प्रदर्शन किया गया था। इस मामले में कांग्रेश नेताओं के दिए गए आवेदन के आधार पर जिला प्रशासन ने पूर्व वित्त मंत्री जयंत कुमार मलैया, पूर्व विधायक सोनावाई अहिरवाल, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती मालती असाटी, रमन खत्री, आलोक गोस्वामी,  कपिल सोनी, मनीष तिवारी, पवन तिवारी श्रीमती पुष्पा चिले, श्रीमती वर्षा रैकवार, विशाल शिवहरे सहित अन्य नेताओं पर नामजद एफआईआर दर्ज की गई थी।
x mantri
आज पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया जी के नेतृत्व में सभी लोग जिला न्यायालय दमोह पहुँचे। सर्वप्रथम जयंत मलैया जी ने न्यायालय परिसर स्थित श्री हनुमान मंदिर में दर्शन किए उसके बाद जिला बार रूम में अन्य अधिवक्ताओं से मुलाकात की और वहीं अपनी और अपने सभी साथियों सहित जमानत के लिए याचिका दायर की। शाम तक पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के साथ अन्य सभी को न्यायालय से जमानत दे दी गई। सभी पर धारा 341,147 के तहत मामला दर्ज था। जमानत लेने पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के साथ पूर्व विधायक सोनाबाई, नगरपालिका पूर्व अध्यक्ष मालती असाटी, पुष्पा चिले, आलोक गोस्वामी, रमन खत्री, मनीष तिवारी, विशाल शिवहरे, पवन तिवारी, कपिल सोनी, राजकुमार जैन, राजू नामदेव, लालू जैन, नीलेश सिंघई, संतोष रोहित, पंकज जड़िया, रीतेश सोनी, अखिलेश हजारी, वर्षा रैकवार, हरि रजक, किस्सू खरें सहित बड़ी संख्या में मलैया समर्थक साथ रहे।

Post a Comment

0 Comments