Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

लोकायुक्त ने PWD के SDO व सब इंजीनियर को एक एक लाख रु की रिश्वत लेते हुए पकड़ा.. इधर पटवारी को 35 हजार की रिश्वत लेते पकड़ा..

  PWD के SDO व सब इंजीनियर को रिश्वत लेते पकड़ा

मध्यप्रदेश में कोरोला के तीसरी लहर के दौरान भी रिश्वतखोरी का दंश पूरे शबाब पर है जनवरी के 18 वे दिल जबलपुर लोकायुक्त की टीम ने जहां छिंदवाड़ा में कार्यवाही करते हुए पीडब्ल्यूडी के एसडीओ तथा सब इंजीनियर को एक एक लाख रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है वही ग्वालियर लोकायुक्त की टीम ने शिवपुरी में एक रिश्वतखोर पटवारी को ₹35000 की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है..

 PWD के रिश्वतखोर अधिकारियों पर शिकंजा

जबलपुर लोकायुक्त की टीम ने डीएसपी जेपी वर्मा के नेतृत्व में कार्यवाही करते हुए छिंदवाड़ा के पीडब्ल्यूडी के एसडीओ विजय चौहान तथा सब इंजीनियर हेमंत कुमार  को उनके निवास स्थान से एक एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने के बाद भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की है।

दरअसल ठेकेदार श्री चंद्र चोरिया निवासी श्री राम कॉलोनी चंदन गांव छिंदवाड़ा ने लोकायुक्त जबलपुर एसपी को शिकायत की थी कि रोड साइड साइन बोर्ड लगाने के टेंडर के 3 लाख रुपये के बिल निकलने के एवज में लोक निर्माण विभाग छिंदवाड़ा के एसडीओ तथा सब इंजीनियर के द्वारा2 लाख 40 हजार रुपये रिश्वत की मांग की जा रही है। 

जिसके बाद आज 18 जनवरी को छिंदवाड़ा पहुंची लोकायुक्त टीम ने टीचर्स कॉलोनी खजूरी चौक स्थित एसडीओ विजय चौहान को उनके निवास से तथा रघु पुरम कॉलोनी सब इंजीनियर हेमंत कुमार को उनके निवास पर ट्रैप कार्यवाही करते हुए एक एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने में देर नहीं की।

लोकायुक्त टीम में डीएसपी जेपी वर्मा, निरीक्षक कमल सिंह उईके एवं नरेश बहरा, आरक्षक अमित मंडल, विजय बिष्ट, अंकित दहिया, गोविंद सिंह राजपूत महिला आरक्षक लक्ष्मी रजक आदि शामिल रहे।

 शिवपुरी में रिश्वतखोर पटवारी पर शिकंजा..

 लोकायुक्त ग्वालियर की टीम ने डीएसपी प्रदुमन पाराशर के नेतृत्व में शिवपुरी पहुंच कर कार्यवाही करते हुए राजस्व विभाग के छावनी हल्के के पटवारी को आवेदक राजेंद्र जैन से ₹35000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने के बाद भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की है।

पटवा

दरअसल आवेदक राजेंद्र जैन ग्वालियर लोकायुक्त एसपी को शिकायत दी थी उसके भवन नामांतरण के बदले में पटवारी अभिनव चतुर्वेदी के द्वारा ₹40000 रिश्वत की मांग की जा रही है जिसके बाद आज ऊंची लोकायुक्त की टीम में पटवारी को ₹35000 की रिश्वत लेते हुए पकड़ने के बाद कार्यवाही की है..

Post a Comment

0 Comments