Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जंगल मे फिर हुआ लाल कार पलटने का अमंगल.. ग्रामीणों ने रात के अंधेरे में किया रेस्क्यू.. एक की मौत दूसरे की हालत गंभीर तीन जबलपुर रैफर.. सागर लोकायुक्त ने फिर एक रिश्वतखोर को पकड़ा..

 दमोह जबलपुर रोड पर सिग्रामपुर के जंगल मे बीती रात एक तेज रफ्तार लाल कलर की नई कार के पलटने से गंभीर घायलों में से एक महिला की देर रात जबेरा में मौत हो गई..

राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार रात जबलपुर से दमोह तरफ आ रही सिद्दीकी परिवार की कार क्रमांक एमपी 20 सीए 7824 के सिग्रामपुर के जंगल से निकलते समय अचानक अनियंत्रित होकर पलट जाने से कोहराम की हालत निर्मित हो गए। कार में फंसे लोगों की चीख पुकार सुनकर वहां से निकल रहे बाइक सवार युवाओं ने तत्काल हंड्रेड डायल और 108 को कॉल किया तथा कार में फंसे लोगों को बाहर निकालने में जुट गए। 

बाद में चारों घायलों को जबेरा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां चारो घायलों में से एक इशरत पिता एमएच सिद्धकी की मौत हो गई। वहीं एमएच सिद्धकी, फरहम सिद्धकी व एम सिद्धकी की हालत गंभीर होने पर जबलपुर रेफर कर दिया गया है। कार में सवार चारों लोग दमोह की पथरिया फाटक निवासी सिद्दीकी परिवार के सदस्य हैं जो जबलपुर से वापस लौट रहे थे लेकिन रास्ते में दुखद हादसे का शिकार हो गए।

तीन हजार की मांग करने वाला बाबू रिश्वत लेते ट्रेप

 

 

दमोह जिले की उपतहसील बनवार में लोकायुक्त की टीम ने ट्रेप कार्यवाही करते हुए 1500 की रिश्वत लेते हुए एक बाबू को रंगे हाथ पकड़ा है। सागर से निरीक्षक रोशनी जैन के नेतृत्व में पहुंची लोकायुक्त की टीम ने जबेरा जनपद के बनवार उप तहसील कार्यालय में पदस्थ बाबू विनोद दुबे को महज डेढ़ हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है।


दरअसल रोड निवासी सोनू सेन ने लोकायुक्त को शिकायत की थी कि जमीन का बैनामा आदेश की कॉपी देने के एवज में बाबू विनोद दुबे सहायक ग्रेड 3 के द्वारा तीन हजार रुपए रिश्वत की मांग की जा रही है। जिसके बाद 21 जनवरी को लोकायुक्त टीम ने जाल बिछाकर उप तहसील कार्यालय बनवार में विनोद दुबे को पंद्रह सौ रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने में देर नही की।

Post a Comment

0 Comments