Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

उड़ीसा से स्कॉर्पियो में आए लाखों के गांजे पर कोतवाली पुलिस का शिकंजा.. जिले का सबसे बड़ा गांजा कारोबारी फिर बच कर निकला..

 उड़ीसा से मादक पदार्थ गांजे की तस्करी का बेखौफ दौर धड़ल्ले से जारी है। जिले के विभिन्न थाना क्षेत्र की पुलिस द्वारा आए दिन मुखबिर की सूचना पर वाहनों के साथ गांजा तस्करों को पकड़ने की कार्यवाही की जा रही है.

 

दमोह जिले में उड़ीसा से स्कॉर्पियो गाड़ी से आई लाखो के गांजे की खेप को कोतवाली पुलिस द्वारा पकड़े जाने का मामला सामने आया है। लेकिन इस गांजे को बुलवाने वाला जिले का सबसे बड़ा कारोबारी एक बार फिर पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब रहा है। एसपी डीआर तेनिवार ने पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेस कांफस में जानकारी दी। इस दौरान एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह सीएसपी अभिषेक तिवारी भी एवं कोतवाली टीआई सतेंद्र सिंह भी मौजूद रहे।

 कोतवाली पुलिस के वाहन चेकिंग अभियान के दौरान समन्ना बाईपास पर उड़ीसा पासिंग की एक सफेद रंग की स्कार्पियो क्रमांक UD 04  ZX 7077 को रोककर पूछ ताछ करने पर वाहन चालक ने नाम, पता बताने में भी आनाकानी करने लगा। इधर स्कार्पियो में बैठे तीन लोग पुलिस की ड्राइवर से पूछताछ को देख कर साथ मे लिए बेग लेकर भागने का प्रयास करने लगे। बाद में पुलिस ने ड्राइवर सहित तीन लोगो को पकड़ लिया। जबकि एक व्यक्ति बैग लेकर भाग गया। 

पकड़े तीनो व्यक्तियो में स्कार्पियो चालक संतोष पिता निमाईन एवं रंजीत पिता देवाकर राउलकेला उड़ीसा एवं शेख अफजल पिता शेख मुमताज बरखेड़ा थाना कुठला कटनी के कब्जे से बैंगो के अंदर प्लास्टिक की पन्नी में 20 किलो से अधिक मादक पदार्थ गांजा कीमत 4 लाख रुपए का बरामद किया गया है। जबकि  भागने में सफल रहे राजेश साहू, निवासी ग्राम देवडोगरा थाना पटेरा जिला दमोह  के लिए यह गांजा उड़ीसा से दमोह लाने की बात सामने आई है।

कोतवाली

कोतवाली पुलिस ने चारों लोगों के खिलाफ अप क्र. 1205/21 धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट का कायम किया है। पकड़े गए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करके फरार आरोपी राजेश साहू निवासी देवडोंगरा की तलाश की जा रही है। आरोपियों की गिरफ्तारी में कोतवाली थाना प्रभारी सत्येन्द्र सिंह राजपूत, उपनिरीक्षक आलोक तिरपुढे, उप निरीक्षक बीआर पटेल, प्रधान आरक्षक पंकज, आर. 86 महेश,  सूर्यकांत, आसिफ, नरेंद्र, कामता, नितिन का सराहनीय योगदान रहा जिन्हें एसपी द्वारा पुरूष्कृत किया जायेगा।

सबसे बड़ा गांजा कारोबारी पुलिस से फिर बचा..

उल्लेखनीय है कि इस मामले में पटेरा थाने के देवडोंगरा गांव निवासी जिस राजेश साहू के पुलिस को चकमा देकर भाग जाने की जानकारी सामने आई है वह जिले का सबसे बड़ा गांजा कारोबारी बताया जा रहा है जिसके द्वारा हर हफ्ते उड़ीसा से गांजे की खेप लाने की खबरे भी पुलिस तक पहुंचती रही है। पिछली बार हटा तरफ से पटेरा जा रहे इस गांजा कारोबारी को हटा थाना पुलिस द्वारा साथियों के साथ पकड़े जाने की जानकारी सामने आई थी लेकिन बाद में अपनी तगड़ी सेटिंग के चलते सुविधा शुल्क लेकर इसे हटा पुलिस द्वारा फ्री कर दिया गया था। इस बार यह कोतवाली पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर भागने में सफल हो जाने की जानकारी सामने आई है। देखना होगा गांजे के खिलाफ लगातार कार्रवाई करने वाली दमोह पुलिस के चुंगल से यह बड़ा कारोबारी कब तक बचने में सफल रहता है।

Post a Comment

0 Comments