Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

यूपी पासिंग के कंटेनर से एमपी में दिनदहाड़े गोवंश की तस्करी का खुलासा.. इधर बटियागढ़ थाना क्षेत्र में ट्रैक्टर ट्राली पलटने से दर्जन भर से अधिक घायल.

 यूपी पासिंग के कंटेनरो का उपयोग अब दिन दहाड़े एमपी में मवेशियों की तस्करी के तौर पर किए जाने के मामले सामने आने लगे हैं। ताजा मामला छतरपुर जबलपुर स्टेट हाईवे पर बटियागढ़ थाना क्षेत्र में सामने आया है जहां पुलिस ने एक कंटेनर में क्रूरता पूर्वक ठूस कर भरे गए 52 नट(बैल) को मुक्त कराकर भोपाल निवासी आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की है।

दमोह जिले के बटियागढ़ थाना क्षेत्र में पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के संदर्भ में प्रभारी मनीष मिश्रा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशन में रविवार सुबह थाना पुलिस ने हीरापुर तरफ से आ रहे कंटेनर क्रमांक यूपी 21 सीटी 1512 को जब चैक किया गया तो उसमें बड़ी संख्या में गोवंश भरा पाया गया।

ट्रक

ट्रक चालक भोपाल निवासी मोहम्मद जाकिर अंसारी से जब मवेशी परिवहन के संदर्भ में दस्तावेज मांगे गए वह कोई भी कागजात उपलब्ध नहीं करा पाया वह पूछताछ में उसने यह मवेशी बालाघाट ले जाना बताया। जिसके बाद बटियागढ़ थाना पुलिस में आरोपी चालक जाकिर अंसारी और सह आरोपी आजम खान के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध करके कार्यवाही की गई है।

मबेशी

वही पशु तस्करी में उपयोग कंटेनर को जप्त करते हुए मवेशियों को मुक्त कराया गया है और उनके चारा पानी का इंतजाम किए जाने के बाद उचित रहवास का इंतजाम किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी सादपुर के जंगली इलाकों में इस तरह से मवेशियों को ट्रकों कंटेनर के जरिए भरकर बाहर भेजे जाने के मामले सामने आते रहे हैं ऐसे में पुलिस द्वारा दिनदहाड़े की गई इस कार्यवाही की सराहना की जा रही है।

तेज रफ्तार ट्रैक्टर ट्राली अनियंत्रित होकर पलटी..

ट्रेक्टर

बटियागढ़ थाना अंतर्गत नीमन तिराहे पर ट्रैक्टर ट्राली पलटने से दर्जन भर से अधिक लोगों के घायल होने की खबर सामने आई है जिनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं सभी घायलों को रविवार शाम बटियागढ़ के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है जहां उनका उपचार जारी है। बताया जा रहा है ट्रैक्टर ट्राली में सवार लोग एक शादी समारोह से वापस लौट रहे थे ट्रैक्टर चालक शराब पिए हुए था जिससे हादसा हुआ है। मामले में विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments