Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

दमोह जबलपुर स्टेट हाईवे की खस्ताहाल सड़क पर रफ्तार का कहर.. नोहटा नर्सरी के पास मालवाहक व बाइक की भिड़ंत में गंभीर हालत में पिता पुत्र को कराया गया था जिला अस्पताल में भर्ती.. जबलपुर ले जाते समय पिता की मौत, बेटे की हालत बेहद नाजुक..

 नोहटा नर्सरी के पास एक्सीडेंट में एक की मौत

दमोह। नोहटा जबेरा जबलपुर स्टेट हाईवे के खस्ता हालात किसी से छिपे नहीं बारिश के दिनों में गड्ढों में सड़क है या सड़क में गड्ढे हैं इसका पता लगाने के लिए वाहन चालकों को दिन के समय अभी आराम से चलना पड़ता है। इसके बावजूद दिन में अनेक हादसे होते रहते हैं वही रात के अंधेरे में कब वाहनों के बीच भिड़ंत हो जाए और घायलों के अंग भंग हो जाए या जान चली जाए इसका पता अस्पताल पहुंचने पर ही चलता है।


 ऐसे ही कुछ हालातों के बीच नोहटा नर्सरी के पास बुधवार रात तेज रफ्तार मालवाहक ऑटो तथा बाइक सवारो बीचआमने सामने की भिड़ंत में बाइक चालक की गर्दन माल वाहक ऑटो के केबिन एंगल में फस गई थी। वही उसका पुत्र उछल सड़क किनारे जा गिरा था। जिसके बाद बाइक चालक मान सिंह पिता बलवंत सिंह निवासी पिपरिया नंदलाल तथा उनके बेटे को गंभीर हालत में वहां से निकल रहे पत्रकार राज दुबे ने अपनी गाड़ी से दमोह ले जाकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां से गंभीर हालत में मानसिंह को जबलपुर रेफर कर दिया गया था जहां पहुंचने के पहले रास्ते में कटंगी के पास उसकी मौत की खबर सामने आई है जबकि उसके बेटे की स्थिति गंभीर बनी हुई है।


 बताया जा रहा है मानसिंह बाइक से 12 वर्षीय पुत्र के साथ गेहूं की बोरी रखे नोहटा की ओर जा रहा था वही मालवाहक ऑटो क्रमांक एमपी 34 एल 1508 नोहटा से जबेरा की ओर जा रहा था। घटना की जानकारी लगने पर नोहटा थाना में पदस्थ एएसआई लखन कनौजिया घटनास्थल पर पहुंच गए थे। इधर जिला अस्पताल से जबलपुर रैफर किये गए मानसिंह की देर रात कटंगी के पास मौत की खबर सामने आई है। वही उसका बेटा कोमा जैसी स्थिति में इलाज रत बताया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments