Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

नागपुर बैतूल रोड पर रफ्तार का कहर.. खड़े ट्रक से टकराई कोतवाली पुलिस की कार के परखच्चे उड़े.. पाढर चौकी प्रभारी विनोद शंकर यादव की दर्दनाक मौत.. एक एएसआई दो सिपाहियों की हालत गंभीर.. दमोह जिले में कई वर्षों तक पदस्थ रहे विनोद शंकर यादव..

खड़े ट्रक से टकराई कोतवाली पुलिस की कार..

बैतूल/छिंदवाड़ा। मप्र के छिंदवाड़ा बैतूल जिले में हुए एक दर्दनाक सड़क हादसे में बैतूल जिले में पदस्थ एक चौकी प्रभारी की दर्दनाक मौत हो जाने व पुलिस टीम के अन्य सदस्यों के गंभीर रूप से घायल हो जाने का बेहद दुखद घटनाक्रम सामने आया है। पूर्णिमा के चांद पर बादलों की छाया में बने अंधकार में इस एक्सीडेंट ने एक सब इंस्पेक्टर के परिवार में हमेशा के लिए अमावस की काली रात जैसे हालात निर्मित करके रख दिए है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार देर रात ढाई बजे बैतूल नागपुर रोड पर पांढुर्ना थाना अंतर्गत बैतूल कोतवाली पुलिस की टीम की एक कार सड़क पर खड़े एक ट्रक से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसा इतना जबरदस्त था कि कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें सवार सब इंस्पेक्टर विनोद शंकर यादव जो की पाढर पुलिस चौकी प्रभारी थे की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई। टीम में शामिल एक एएस आई और दो आरक्षक गम्भीर रूप से घायल हुए है जिनको अस्पताल में भर्ती कराने के बाद नागपुर रेफर कर दिया गया है। जबकि दोनों चोर कार में पीछे होने की वजह से बाल बाल बच गए।

बताया जा रहा है की रायपुर से एक मामले की इंवेस्टिगेशन करके दो चोरों को पकड़ कर पुलिस की यह टीम रायपुर से बैतूल की वापिस आ रही थी।तभी द्वारा छिंदवाड़ा जिले के बड़ चिचोली के पास सड़क पर खड़े ट्रक से तेज रफ्तार कार के टकरा जाने से यह दर्दनाक दुर्घटना हुई। इसकी जानकारी लगते हैं कुछ ही देर में स्थानीय थाना पुलिस एंबुलेंस मौके पर पहुंच गए और कार में फंसे पुलिस कर्मियों को निकाल ले की कोशिश शुरू की गई। वही कुछ ही देर में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे।


दर्दनाक सड़क हादसे में अपनी ड्यूटी का निर्वहन करते हुए मृत सब इंस्पेक्टर विनय शंकर यादव दमोह जिले में काफी समय तक पदस्थ रहने के बाद के बाद पिछले साल बैतूल स्थानांतरित हुए थे। उनको देहात थाना जबलपुर नाका चौकी प्रभारी का कार्यकाल मिलनसार छवि और निष्पक्ष कार्यप्रणाली के कारण आज भी सभी को याद है।

लेकिन पूर्णिमा की चांदनी रात पर बादलों के जोर के चलते हुए इस दर्दनाक हादसे ने उनके परिवार के साथ सहयोगी पुलिस स्टाफ के लिए इस रात को काली रात में तब्दील करके रख दिया। उनकी मौत की खबर ने दमोह में उनको जानने वालों को भी झकझोर कर रख दिया है। ओम शांति शांति शांति विनम्र श्रद्धांजलि

Post a Comment

0 Comments