Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

दमोह में शराब के नशे में रिश्तो को तार तार करके भारी पड़ती चाकूबाजी की घटनाएं.. पहले जीजा ने चलाएं साले पर चाकू.. कुछ घन्टे बाद साडू भाई ने छुरे से प्राण घातक हमला करके ले ली साडू की जान.. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी..

 शराब के नशे में रिश्तो पर भारी पड़ती चाकू बाजी

दमोह। शराब के नशे में रिश्तो को तार-तार करने का नजारा देखने के लिए दमोह से बाहर जाने की जरूरत नहीं है। गुरुवार शाम शहर के टॉकीज इलाके में एटीएम के पास छूरे बाजी का एक घटनाक्रम सामने आया था जिसमें चाकू बाजी के शिकार संजू जाटव नाम के युवक तथा मारने वाले के नितिन पहाड़ी के बीच जीजा साले का रिश्ता होने के साथ दोनों के शराब के नशे में धुत होने की जानकारी भी सामने आई थी। 


घायल को अस्पताल में भर्ती करा कर कोतवाली पुलिस घटना की जांच कर ही रही थी कि कुछ घंटे बाद जबलपुर नाका क्षेत्र अंतर्गत चाकूबाजी की एक और घटना सामने आ गई जिसमें साडू भाई द्वारा चाकू मारे जाने और घायल की जान नहीं बच पाने के दुखद घटनाक्रम ने परिजनों को झकझोर कर रख दिया।  जबलपुर नाका चौकी पुलिस अब इस मामले की जांच में जुट गई है।


 प्राप्त जानकारी के अनुसार किशन तलैया क्षेत्र में गुरुवार रात धर्मेंद्र अहिरवार नाम का युवक अपने घर में पिता के साथ खाना खा रहा था। इसी दौरान उसे मोबाइल करके पथरिया फाटक निवासी उसके साडू भाई अजय अहिरवार ने बाहर बुलाया। उसके घर से बाहर निकलते ही प्रदीप अहिरवार ने उसे पकड़ लिया और अजय अहिरवार ने पेट और जांघ में चाकू से प्राण घातक हमला करके लहूलुहान कर दिया। बताया जा रहा है दोनों आरोपी शराब के नशे में धुत थे।

धर्मेंद्र की चीखने की आवाज सुनकर उसके माता-पिता जैसे ही घर से बाहर निकले तो आरोपी भाग खड़े हुए। बाद में लहूलुहान हालत में बेसुध पड़े धर्मेंद्र को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। जानकारी लगने पर देहात थाना और जबलपुर नाका चौकी पुलिस जिला अस्पताल पहुंची तथा परिजनों से घटना की जानकारी लेकर आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है। पुलिस से पुराने विवाद के मामला मानकर चल रही है वही परिजन विवाद को लेकर साफ तौर पर कोई जानकारी नहीं दे पा रहे है।


Post a Comment

0 Comments