Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

सावधान मप्र में लगातार बारिश की वजह से बन रहे खतरनाक हालात.. इंदौर भोपाल से सागर जबलपुर चलने वाली स्लीपर कोच बस विदिशा के पास पलटकर दुर्घटनाग्रस्त.. इधर रीवा जिले में मकान ढहने से पांडे परिवार के चार सदस्यों की सोते समय दर्दनाक मौत..

 लगातार बारिश से मध्यप्रदेश में खतरनाक हालात

भोपाल। मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश के बीच कच्चे मकानों में रहने वाले लोगों के लिए मुसीबत खड़ी होती जा रही है। अनेक जगह निकली बस्तियों में पानी भरने से दलदली हालात निर्मित हो चुके हैं। वही रीवा जिले में एक कच्चा मकान ढहने से एक ही परिवार के चार सदस्यों की मलबे में दबने से दर्दनाक मौत हो जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है। इधर भोपाल से सागर आ रही यात्री बस विदिशा के पास पलटकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाने के बाद बस में सवार सभी यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया गया है।



प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदौर भोपाल से सागर दमोह का जबलपुर तक चलने वाली स्लीपर कोच यात्री बस विदिशा के समीप दुर्घटनाग्रस्त होकर पलट गई। चलने वाली स्लीपर कोच बस विदिशा में हाईवे पर पलटी स्लीपर बस। नेशनल हाईवे 146 हिरनई और बड़े गांव के बीच हुए हादसे के बाद बस में सवार 25 से अधिक यात्रियों को खिड़की के रास्ते सुरक्षित बाहर निकाला गया ।


वही बाद में क्रेन की मदद से बस को सीधा करके सड़क से साइड में खड़ा किया गया। बस में सवार 4 यात्रियों को गंभीर चोट आने की जानकारी सामने आई है। जिन्हें विदिशा जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दुर्घटना की वजह सड़क में गड्ढे होना तथा एंड में पानी भरे होने की वजह से चालक का नियंत्रण खो जाना बताया जा रहा है यदि बस की रफ्तार तेज होती तो बड़ी जनानी से इनकार नहीं किया जा सकता था।

मकान ढहने से चार सदस्यों की मौत एक घायल

रीवा। लगातार बारिश के बीच कच्चे मकानों के धारा साई होने के मामले सामने आने लगे हैं। रीवा जिले के  मनगवां तहसील के गढ़ थाना अंतर्गत बहेरा गांव में रविवार सुबह बारिश में मकान ढह जाने से मनोज पांडे का परिवार मलबे में दबकर रह गया। बाद में जैसे तैसे मौके पर पहुंची बचाव टीम ने मलबे को हटाकर पांडे परिवार को बाहर निकाला। लेकिन तब तक परिवार के चार सदस्यों की सांसे थम चुकी थी।

इस दर्दनाक हादसे के वक्त पांडे परिवार के सभी सदस्य गहरी नींद में सो रहे थे जिस वजह से किसी को भी बचाव का मौका नहीं मिला। हादसे में मनोज पाण्डेय के अलावा उनकी माँ व दो मासूम बच्चों की भी मौत हो गई एवं एक मासूम की हालत गंभीर बताई जा रही है। मरने वालों के नाम मनोज पांडे, कमली पांडे, काजल, आँचल पाण्डेय बताए जा रहे है जबकि सेजल पाण्डेय की हालत नाजुक बताई जा रही है। स्थानीय पुलिस प्रशासन घटना की जांच में जुटा हुआ है मामले की विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा की जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक संवेदना जताते हुए 4-4 लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है

Post a Comment

0 Comments