Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

PWD के भ्रष्ट SDO पर EOW का शिकंजा.. ग्वालियर ईओडब्लू की छापा मार कारवाई में दोपहर तक करीब 20 करोड़ की बेनामी संपत्ति उजागर.. लाकर से निकला ढाई सौ ग्राम सोना, 3 लाख 70 हजार नगद, तथा प्रॉपर्टी संबन्धी अनेक कागजात..

PWD के भ्रष्ट SDO पर EOW ने शिकंजा कसा..

ग्वालियर। ग्वालियर के डीबी सिटी स्थित PWD के एसडीओ रविंद्र कुशवाह के घर पर EOW की टीम द्वारा की गई छापामार कार्रवाई में करोड़ो की आय से अधिक संपत्ति का पता लगा है। फिलहाल कार्यवाही जारी है और अधिकारियों के हाथ लाखों की नकदी जेवरात जमीन के दस्तावेज सहित अन्य कागजात हाथ लगी है जिन की जांच की जा रही है।


शनिवार सुबह EOW की टीम ने ग्वालियर के डीबी सिटी में PWD के चर्चित SDO रविन्द्र कुशवाह के आवास पर दस्तक देकर जांच शुरू की तो कुशवाह व परिजनों की हवा बन्द हो गई। 
जांच के दौरान लॉकर से 3 लाख 70 हज़ार नगदी, 250 ग्राम सोना मिला है। दोपहर तक करीब 20 करोड़ की बेनामी संपत्ति का पता लग चुका था वही जांच जारी है। जो बेनामी संपत्ति सामने आई है उसमें डीबी सिटी में मकान, जिसे तोड़कर दुबारा हाई-फाई बनाया गया। समूदन (डबरा)में दो जगह 25 बीघा जमीन, गणेश कॉलोनी डबरा में 30 लाख का मकान, बिलौआ में 50 बीघा जमीन खरीदी फिर बेचना, पीएचई कॉलोनी ग्वालियर में प्लॉट, बसंत कुंज ग्वालियर में दो बुक फ़्लैट, डबरा बालाजी कॉम्प्लेक्स में दुकान,   भोपाल पटेल नगर में फ़्लैट, गुड़ा गुड़ी का नाका ग्वालियर में प्लॉट, डबरा में एक 2000हज़ार वर्ग फुट का प्लाट आदि शामिल है। 
 बताया जा रहा है कि रविंद्र कुशवाहा लोक निर्माण विभाग में बिल्डिंग मेंटेनेंस का कार्य देखने वाले प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी के पद पर हैं।  कुछ समय के लिए उन्हें जीवाजी विश्वविद्यालय ग्वालियर में यंत्री भी रहे। माना जा रहा है उन्होंने इसी दौरान यह बेनामी संपत्ति अर्जित की गई। इधर कारवाही की जानकारी वायरल होने के बाद पीडब्ल्यूडी विभाग के अन्य भ्रष्ट अधिकारियों के बीच में हड़कंप पहले हालात बने हुए हैं क्योंकि बताया जा रहा है आज अधिक संपत्ति मामले में इस तरह की कार्यवाही दमोह सागर भोपाल इंदौर सहित अन्य जिलों में भी होना प्रस्तावित है।

Post a Comment

0 Comments