Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

रात्रिकालीन कर्फ्यू टाइम में कटौती के बाद भी मास्क बाइक चैकिंग मुहिम जोर शोर से जारी.. पथरिया क्षेत्र में पुलिस चेकिंग के दौरान हड़बड़ाहट में बाइक सवार गिरकर चोटिल हुआ.. जबकि चालान काटने बाले मुंशी जी खुद भी नहीं लगाए थे मास्क..

 पुलिस मास्क की चेकिंग अभियान की दहशत जारी

दमोह। मप्र में कोरोना कर्फ्यू में लगातार छूट के बाद अब रात्रि कर्फ्यू की सीमा घटाकर 11 बजे से सुबह 6 बजे तक की कर दी गई है। अर्थात अब सिर्फ 7 घंटे का रात्रि कालीन कर्फ्यू बचा है। उसके बावजूद दमोह जिले में मास्क नहीं पहनने वालों पर  वसूली का कहर जारी है। जबकि पिछले दो माह में चालान वसूली का आंकड़ा लाखों रुपए को पार कर चुका है।

 दमोह जिले में मास्क वाहन चेकिंग अभियान के दौरान ऐसी भी तस्वीरे सामने आ रही है जिसमें चालान करने वाले कर्मचारी भले ही खुद मास्क नहीं पहने हो लेकिन दूसरों के मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना की कार्यवाही करने से नही चूकते है। इस दौरान जुर्माना की राशि देने में असमर्थ लोगों को दुर्व्यवहार का शिकार भी होना पड़ रहा है वही दहशत में लोग यहां वहां भागते गिड़गिड़ाते मास्क नहीं पहनने का कारण बताते भी नजर आते हैं।


यह तस्वीरें पथरिया थाना क्षेत्र की है जहा आज बाइक सवार लोगों की जांच कर रही पुलिस टीम के मुखिया बाइक पर बैठकर मास्क नही पहनने वालो की रसीद बनाकर चालानी कार्यवाही तो कर रहे थे लेकिन खुद मास्क नही पहने थे। लेकिन किसकी मजाल थी जो इनसे है सवाल कर लेता कि आपका मास्क कहां है..?


पुलिस के इस रोको टोको अभियान की दहशत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पुलिस की पकड़ से बचने के लिए साइड से होकर निकल रहे बाइक सवार हड़बड़ाहट में फिसलकर गिरकर चोटिल होते रहे लेकिन तब भी पुलिसकर्मी इनको बख्शने के मूड में नजर नहीं दिखे।

दफ्तरो में भी कर्मचारियों को मास्क से एलर्जी..

दमोह जिले के विभिन्न दफ्तरों में कर्मचारी ड्यूटी के दौरान भले ही एक-दूसरे के नजदीक बैठकर कार्य करते रहें लेकिन उनको मास्क लगाने से एलर्जी नजर आती है। दमोह नगर पालिका में पिछले दिनों ऐसे ही तस्वीर और वीडियो सामने आई थी जिसके बाद सवाल करने पर कर्मचारी मास्क लगाते नजर आए थे। जबकि नगरपालिका के ही कर्मचारी बाजार क्षेत्र में मास्क नहीं लगाने वालो पर जुर्माने की कार्यवाही करने सक्रिय बने रहते है।
मध्यप्रदेश में घटते कोरोना केस व बाजार खोलने की छूट के बावजूद डीजल पेट्रोल रसोई गैस खाद्य तेल के बढ़ते रेट और बढ़ती महंगाई बेरोजगारी से जूझ रहे आम नागरिकों को आने वाले दिनों में मास्क चालानी कार्यवाही से राहत की अपील अब मुख्यमंत्री से करते आम लोग नजर आने लगे हैं। क्योंकि स्थानीय पुलिस प्रशासन फिलहाल जुर्माना राशि वसूलने का रिकॉर्ड 50 लाख तक पहुंचाने के मूड में नजर आ रहा हैं..

Post a Comment

0 Comments