Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

मप्र पुलिस ने भिलाई में नकली नोट छापने के मिनी कारखाने पर छापामार कार्यवाही की.. 54 लाख से अधिक के नकली नोट व प्रिंटिंग सामग्री बरामद.. एक करोड़ के नकली नोट छापने की थी तैयारी.. पहले इंदौर में भी छाप चुके है नकली नोट..

 भिलाई से 54 लाख से अधिक के नकली नोट जब्त

राजगढ़। मप्र की राजगढ़ पुलिस ने नकली नोट छापने और बाजार में खपाने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। गिरोह के तार छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर से जुड़े थे जहाँ से नोट छापने के बाद दोनों प्रदेश में फेले नेटवर्क के जरिए लाखों के नकली नोट खपाये जाते थे। आरोपी पहले इंदौर में नकली नोट छापते थे बाद में उन्होंने भिलाई में मिनी कारखाना लगा कर नोट छपाई का काम चालू कर दिया था।


राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पिछले दिनों पुलिस ने जीरापुर से शंकर और रामचन्द्र को दस लाख के नकली नोटों के साथ पकड़ा था। इनकी निशानदेही पर नोट खपाने वाले आगर के कमल यादव को पकड़ने पर उसने भिलाई में नकली नोट छापने का काम करने वाले विजय के बारे में जानकारी दी।  जिसके बाद राजगढ़ पुलिस ने भिलाई पहुंचकर विजय के नकली नोट बनाने के मिनी कारखाने पर छापा मारकर कार्रवाई की। इस दौरान 54 लाख 37 हजार 200 रुपए के साथ विजय को गिरफ्तार किया गया। 


यहा पर एक करोड़ रुपए के नकली नोट छापने की भी तैयारी थी। पुलिस ने यहा से पांच प्रिंटर, दो पेपर कटर एक लैपटॉप, एक एलईडी, एक मॉनिटर, एक सीपीयू, एक लैमिनेटर, नकली नोट बनाने की फ्रेम, वाटर मार्क की फ्रेम, विशेष स्याही के कॉटेज आदि जप्त किए हैं।
 एसपी प्रदीप शर्मा ने बताया कि विजय ने नकली नोट बनाने के कई वीडियो सोशल साइड पर अपलोड करके नेटवर्क तैयार कर रखा था। नकली नोट छापने का प्रशिक्षण देकर भी वह मोटी रकम लेता था। पुलिस गिरोह के अन्य लोगों की भी तलाश कर रही है। 

Post a Comment

0 Comments